1984 दंगों के शिकार हरेक के परिजनों को पांच पांच लाख रूपये की राहत: सरकार

By: | Last Updated: Wednesday, 17 December 2014 4:57 PM

नई दिल्ली: सरकार ने आज बताया कि उसने वर्ष 1984 के सिख विरोधी दंगों में मारे गये व्यक्तियों के परिजनों को प्रति मृतक पांच लाख रूपये की बढ़ी हुई राहत राशि को मंजूरी प्रदान की है.

 

गृह राज्यमंत्री हरिभाई परथीभाई चौधरी ने एक प्रश्न के लिखित उत्तर में राज्यसभा को यह जानकारी दी.इन दंगों के शिकार 3,325 लोगों में से 2,733 की हत्या केवल दिल्ली में हुई थी जबकि शेष लोग उत्तर प्रदेश, हरियाणा, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और अन्य राज्यों में मारे गये थे.

 

मंत्री ने कहा कि केन्द्र सरकार आतंकवादी: साम्प्रदायिक: नक्सल हिंसा के पीड़ित नागरिकों के परिवारों के भरण पोषण एवं रखरखाव के लिए ‘‘आतंकवादी: साम्प्रदायिक: नक्सल हिंसा के पीड़ित नागरिकों को केन्द्रीय सहायता’’ नामक एक योजना कार्यान्वित कर रही है.

 

उन्होंने कहा कि साम्प्रदायिक हिंसा के शिकार हुए पीड़ित नागरिकों की सहायता के लिए उक्त योजना एक अप्रैल 2008 से प्रभावी है.

 

इस योजना के अंतर्गत रराज्य सरकार द्वारा पीड़ितों के परिवार के किसी भी सदस्य को कोई रोजगार प्रदान नहीं किये जाने की शर्त पर मृत्युअथवा 50 प्रतिशत से अधिक अशक्तता (विकलांगता के मामले में पीड़ित नागरिक) पीड़ित के निकटतम संबंधी (एनओके) को तीन लाख रपये की राशि दी जाती है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Cabinet clears Rs 5 lakh compensation to 1984 anti-Sikh riot victims
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Cabinet compensation riot Sikh victim
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017