ऑस्ट्रेलिया की संसद को PM मोदी ने संबोधित किया, कहा- आतंकवाद विश्व के लिए सबसे बड़ा खतरा

By: | Last Updated: Tuesday, 18 November 2014 1:12 AM
Canberra: PM Modi addresses Australian Parliament, seek enhanced economic partnership, says terrorism has become a major threat.

केनबरा: ऑस्ट्रेलिया की संसद के संयुक्त सत्र को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमारी दोस्ती एक नये युग की शुरुआत करेगी. मोदी ने कहा कि आतंकवाद हमसभी के लिए बडी चुनौती है और इसका साथ मिलकर मुकाबला करना होगा. मोदी ने कहा कि किसी भारतीय पीएम को यहां आने में 28 साल लग गए और अब ऐसा नहीं होगा.

 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आतंकवाद को सारे विश्व के लिए सबसे बड़ा खतरा बताते हुए कहा कि इस वैश्विक समस्या से निपटने के लिए व्यापक वैश्विक रणनीति बनाकर उन देशों को अलग थलग करना होगा जो इसे बढ़ावा दे रहे हैं.

 

प्रधानमंत्री ने यहां आस्ट्रेलियाई संसद के संयुक्त सत्र को संबोधित करते हुए कहा, ‘आतंकवाद हम सब के लिए सबसे बड़ा खतरा बन गया है. भारत पिछले तीन दशक से इसका सामना कर रहा है. इसका चरित्र बदल रहा है और यह अपनी पहुंच का भी विस्तार कर रहा है.’ उन्होंने कहा, ‘इस वैश्विक समस्या से निपटने के लिए हमें व्यापक वैश्विक रणनीति बनानी चाहिए और देशों के बीच अंतर किये बिना उन्हें अलग थलग करें जो इसे बढ़ावा दे रहे हैं.’ मोदी ने सुझाव दिया कि जहां यह आतंकवाद सबसे अधिक है, वहां हमें इसके खिलाफ सामाजिक आंदोलन चलाना होगा.

 

आतंकवाद के खिलाफ व्यापक रणनीति बनाने की अपील के साथ उन्होंने आगाह किया, ‘धर्म और आतंकवाद को जोड़ने के सभी प्रयासों को विफल किया जाए.’ उन्होंने कहा कि आतंकवाद आज दुनिया में इंटरनेट के जरिये भर्ती (आतंकियों की), धन शोधन, मादक पदाथरे एवं हथियारों की तस्करी के जरिये अपने पैर तेजी से पसार रहा है जिसे रोके जाने के लिए वैश्विक स्तर पर सहयोग किये जाने की सख्त जरूरत है.

 

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017