यूपी: BJP के पूर्व अध्यक्ष सूर्य प्रताप शाही के बेटे पर अपहरण का केस

By: | Last Updated: Saturday, 6 February 2016 11:31 AM
UP: case filed against surya pratap shahi’son

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश में कल होने वाले ब्लॉक प्रमुख चुनाव से पहले राजनीतिक पारा काफी चढ़ गया है. यूपी के 74 जिलों के 816 ब्लॉक प्रमुखों के चुनाव होने हैं. इनमें से 313 ब्लॉक प्रमुख निर्विरोध चुने गए हैं. लेकिन चुनाव से पहले यूपी में काफी राजनीति लड़ाई हो रही है.

इलाहाबाद में एसपी नेता पर बीएसपी के समर्थकों की पिटाई का आरोप लगा है तो कानपुर में एसपी नेता राजेंद्र यादव के समर्थकों ने निर्दलयी उम्मीदवार रनू शर्मा को नामंकन से रोक दिया. वही यूपी बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष सूर्य प्रताप शाही के बेटे सूर्बत शाही पर बीडीसी के अपहरण का केस दर्ज हुआ है.

पुलिस की मौजूदगी में एसपी कार्यकर्ताओ ने आम लोगों को पीटा
इलाहाबाद के करछना ब्लाक प्रमुख नामांकन युद्ध के मैदान में बदल गया जहां समाजवादी पार्टी के नेता विजय राज के समर्थकों की गुंडागर्दी खुलेआम दिखी. एसपी समर्थकों ने नामांकन करने आए बीएसपी नेता रावेंद्र के समर्थकों को जमकर पिटाई की. ख़ास बात ये है कि पुलिस की मौजूदगी में एसपी कार्यकर्ताओ ने आम लोगों और बीएसपी समर्थकों को दौड़ा दौड़ा कर पीटा लेकिन पुलिस तमाशा देखती रही.

ब्लॉक प्रमुख चुनाव में मुलायम सिंह परिवार का दबदवा
यूपी के 74 जिलों में 816 ब्लाक प्रमुखों के कल चुनाव होंगे. 816 सीटों में से 313 ब्लाक प्रमुख निर्विरोध चुन लिए गए हैं. निर्विरोध चुने गए लोगों में मुलायम सिंह के परिवार का दबदबा है. मुलायम के बहनोई डा अजन सिंह और लालू प्रसाद यादव की समधन और तेज प्रताप यादव की मां मृदुला यादव दोनों इटावा जिसे से ब्लाक प्रमुख चुने गए हैं.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: UP: case filed against surya pratap shahi’son
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017