इमारत ढहने से हुए हादसे में मृतकों की संख्या 42 हुई

By: | Last Updated: Wednesday, 2 July 2014 3:40 AM

नई दिल्ली: चेन्नई में 11 मंजिला इमारत गिरने के हादसे में मरने वालों की तादाद मंगलवार को 42 तक पहुंच गई. वहीं 15 लोगों को मलबे से अंदर से बचाया जा चुका है. एक अधिकारी ने यह जानकारी दी.

 

शनिवार शाम को गिरी इमारत में लगभग 70 लोगों के दबे होने की आशंका जताई गई थी. मलबे से भयंकर बदबू आने के बाद संक्रमण को रोकने के मद्देनजर तमाम ऐहतियात बरते जा रहे हैं.

 

दुर्घटनास्थल पर मौजूद एक व्यक्ति ने कहा, “बारिश के कारण न केवल राहत कार्य में बाधा आ रही है, बल्कि इससे मलबे की दरारों में पानी भर सकता है, जिससे मलबे के अंदर फंसे लोगों की जान को खतरा हो सकता है.”

 

मंगलवार को मलबे से तीन दिन बाद चार लोगों को जिंदा बाहर निकाले जाने के बाद बचावकर्मियों में आशा जगी है.

 

मलबे में दबे लोगों के परिजन अपने प्रियजनों के मलबे से अंदर से सुरक्षित बाहर निकलने के लिए ईश्वर से प्रार्थना कर रहे हैं.

 

इसी बीच, तमिलनाडु लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी) ने ध्वस्त 11 मंजिला इमारत के बगल में बन रही एक और इमारत को असुरक्षित घोषित कर दिया.

 

चेन्नई में भी निर्माणाधीन इमारत गिरी, 9 की मौत हादसे में 18 लोग घायल

 

इलाके के लोगों ने कहा कि मलबे में दबे अधिकांश लोग मजदूर हैं. इसके अलावा, कुछ ऐसे भी लोग हैं, जिन्होंने बारिश से बचने के लिए इमारत में शरण ली थी और अचानक यह हादसा हो गया.

 

मलबे में फंसे लोगों को सुरक्षित बाहर निकालने के लिए कई उपकरण लगाए गए हैं. साथ ही खोजी कुत्तों और उच्च तकनीक के कैमरों की भी मदद ली जा रही है.

 

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: channai_hadsa_dead_people
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017