निजी आकांक्षा जनहित पर हावी रही: चव्हाण

By: | Last Updated: Friday, 26 September 2014 4:21 AM
chawan_on_alliance

नई दिल्ली: महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण ने गुरुवार रात कहा कि शिवसेना बीजेपी गठबंधन के बिखरने के शीघ्र बाद एनसीपी की कांग्रेस से नाता तोड़ने की घोषणा उल्लेखनीय संयोग है और वृहत जनहित से कहीं ज्यादा निजी आकांक्षा हावी रही.

 

चव्हाण ने यहां संवाददाता सम्मेलन में यह कहते हुए एनसीपी पर करारा प्रहार किया कि 15 साल के कांग्रेस-एनसीपी गठबंधन में पहली बार कल सीटों की साझेदारी वार्ता में एक एक कर मुख्यमंत्री का पद साझा करने का प्रस्ताव उठा.

 

उन्होंने उपमुख्यमंत्री और एनसीपी नेता अजीत पवार की मुख्यमंत्री पद की आकांक्षा की ओर सीधा इशारा करते हुए कहा, ‘‘इससे पता चलता है कि वृहत जनहित से कहीं ज्यादा निजी आकांक्षा हावी रही. ’’ उन्होंने एनसीपी की 144 सीटों की मांग को नाजायज करार दिया.

 

चव्हाण ने कहा, ‘‘एनसीपी ने केवल तभी गठबंधन तोड़ने का ऐलान किया जब महज एक घंटे पहले बीजेपी ने शिवसेना से अलग होने का निर्णय लिया. इसे उल्लेखनीय संयोग कहा जाए. ’’ मुख्यमंत्री ने एनसीपी पर लोकसभा चुनाव पश्चात बीजेपी से नजदीकियां बढ़ाने का आरोप लगाया.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: chawan_on_alliance
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Congress Ncp Prithviraj Chavan
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017