हिरासत में भुजबल, पूर्व डिप्टी सीएम को मिला शरद पवार का समर्थन

By: | Last Updated: Tuesday, 15 March 2016 11:15 PM
Chhagan Bhujbal sent to ED custody till March 17

नई दिल्ली: भ्रष्टाचार के आरोप में गिरफ्तार महाराष्ट्र के पूर्व डिप्टी सीएम छगन भुजबल के समर्थन में एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार आए. पवार ने कहा कि फैसला कैबिनेट का था, अकेले भुजबल का नहीं.

शरद पवार का ये बयान भुजबल के लिए राहत देने वाला है क्योंकि इस मुश्किल वक्त पर कोई उनके साथ खड़ा नजर नहीं आ रहा है.

महाराष्ट्र के पूर्व उपमुख्यमंत्री और एनसीपी के बड़े नेता छगन भुजबल को 17 मार्च तक प्रवर्तन निदेशालय की हिरासत में भेज दिया गया. भुजबल को महाराष्ट्र सदन घोटाले के मामले में कल गिरफ्तार किया गया था. भुजबल पर 870 करोड़ रुपए के घोटाले का आरोप है.

छगन भुजबल की गिरफ्तारी के विरोध में महाराष्ट्र विधानसभा से लेकर सड़क तक हंगामा हुआ. भुजबल को सोमवार को 11 घंटे की पूछताछ के बाद भ्रष्टाचार और मनी लॉन्ड्रिंग के आरोप में गिरफ्तार किया गया था. लेकिन भुजबल को कहना है कि उन्हें राजनीतिक बदले का शिकार बनाया गया है. कोर्ट में पेशी के दौरान भुजबल भावुक हो गए और उन्होने अपनी सफाई में कहा कि न मैं कॉन्ट्रैक्टर को जानता हूं न मेरा उससे कोई संबंध है. मैने किसी भी कॉन्ट्रैक्टर से एक पैसा भी नहीं लिया. कॉन्ट्रैक्ट देने का फैसला कैबिनेट का था. महाराष्ट्र के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ कि सिर्फ एक प्लॉट के बदले में महाराष्ट्र सदन, आरटीओ बिल्डिंग और दूसरी सरकारी इमारतें बनवाई गईं. ये एक साजिश है.

कोर्ट में इस बयान के बाद भुजबल को 17 मार्च तक प्रवर्तन निदेशालय की हिरासत में सौंप दिया गया. एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने आरोप लगाया है कि ये सब महाराष्ट्र की बीजेपी सरकार के इशारे पर हो रहा है.

छगन भुजबल, उनके बेटे पंकज भुजबल औऱ भतीजे समीर भुजबल पर मनी लॉन्ड्रिंग यानी गैरकानूनी तरीके से पैसे को विदेश भेजने का आरोप है. इस मामले की शुरूआत हुई 2005 में जब छगन भुजबल महाराष्ट्र के पीडब्लूडी मंत्री थे.

आरोपों के मुताबिक उस वक्त उन्होने चमनकर डेवलेपर्स नाम की कंपनी को मुंबई के अंधेरी की एक जमीन डेवलप करने के लिए दी. इसके बदले में चमनकर को दिल्ली का महाराष्ट्र सदन, मुंबई में अंधेरी का आरटीओ दफ्तर और मालाबार हिल का सरकारी गेस्ट हाउस बना कर देना था. चमनकर ने इस पूरे निर्माण पर करीब 150 करोड़ रुपए खर्च किए. लेकिन इसके बदले में चमनकर को जो FSI यानी फ्लोर स्पेस इंडेक्स मतलब जमीन के कितने हिस्से पर कितने एरिया की बिल्डिंग बना सकते हैं, वो जो FSI दिया गया उसकी कीमत करीब 1500 करोड़ रुपए थी, कहा जाता है कि मार्केट रेट के हिसाब से उसकी कीमत 10 हजार करोड़ रुपए बराबर थी. यानी इस सौदे में चमनकर को फायदा बड़ा हुआ और सरकारी खजाने को नुकसान.

आरोपों के मुताबिक इस ठेके से हुए फायदे के बदले में चमनकर ने भुजबल और उनके परिवार के लोगों तक बड़ी रकम पहुंचाई. अब देखिए ये कैसे हुआ. परवेश कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड नाम की कंपनी का मालिकाना हक भुजबल परिवार के पास है. प्रवर्तन निदेशालय के मुताबिक ठेकों के बदले में करोड़ो रुपए की जो नकद रिश्वत दी गई वो कई फर्जी कंपनियों के जरिए भुजबल परिवार की कंपनी परवेश कंस्ट्रक्शन तक पहुंची. ईडी के मुताबिक कोलकाता की कई कंपनियों ने ऊंची दर पर भुजबल की कपंनियों के शेयर खरीदे. आरोपों के मुताबिक शेयर खरीदने में इन कंपनियों ने जिस पैसे का इस्तेमाल किया वो रिश्वत का वही पैसा था जो ठेकों के बदले में भुजबल को मिला था. यानी रिश्वत की काली कमाई सफेद बनकर वापस भुजबल के पास पहुंच गई.

इसके बाद इसी रकम का कुछ हिस्सा परवेश कंस्ट्रक्शन से निकलकर, देवीशा इंफ्रास्ट्रक्चर नाम की कंपनी के खाते में पहुंचा. भुजबल के बेटे पंकज और भतीजे समीर भुजबल इस कंपनी के डायरेक्टर हैं. देवीशा इंफ्रास्ट्रक्चर से ये पैसा ब्लू सर्किल नाम की कंपनी के एकाउंट में गया. ये कंपनी भी भुजबल परिवार की ही है. ब्लू सर्किल ने उस पैसे का इस्तेमाल जमीन खऱीदने के लिए किया. इस तरह रिश्वत के तौर पर मिली रकम घूम फिर कर भुजबल परिवार से जुड़ी कंपनियों में जाती रही.

बीजेपी नेता किरीट सोमैया का आरोप है कि इन फर्जी कंपनियों के जरिए ही पूरे घोटाले को अंजाम दिया गया. इस मामले में छगन भुजबल के भतीजे समीर भुजबल को पहले गिरफ्तार ही किया जा चुका है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Chhagan Bhujbal sent to ED custody till March 17
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Chhagan Bhujbal
First Published:

Related Stories

1. यूपी के मुजफ्फरनगर में बड़ा ट्रेन हादसा हुआ है. मुजफ्फरनगर में खतौली के पास कलिंग-उत्कल...

गोरखपुर ट्रेजडी: मृतक बच्चों के परिजनों से मिले राहुल गांधी, बोले- यह सरकार की बनाई 'राष्ट्रीय त्रासदी'
गोरखपुर ट्रेजडी: मृतक बच्चों के परिजनों से मिले राहुल गांधी, बोले- यह सरकार...

गोरखपुर: कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में पिछले दिनों संदिग्ध...

पुराने अंदाज में दिखीं किरन बेदी, रात में स्कूटी पर सवार होकर लिया महिला सुरक्षा का जायजा
पुराने अंदाज में दिखीं किरन बेदी, रात में स्कूटी पर सवार होकर लिया महिला...

पुदुच्चेरी: पुदुच्चेरी की उप राज्यपाल किरन बेदी ने रात में भेष बदलकर केंद्र शासित प्रदेश में...

LIVE: मुजफ्फरनगर के खतौली के पास कलिंग-उत्कल एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्तः 10 लोगों की मौत की खबर, घायलों की संख्या 50 हुई
LIVE: मुजफ्फरनगर के खतौली के पास कलिंग-उत्कल एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्तः 10...

नई दिल्लीः उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में बड़ा ट्रेन हादसा हुआ है. मुजफ्फरनगर में खतौली के पास...

गायों के 'सीरियल किलर' की एक और काली करतूत, 93 लाख के घोटाले का आरोप!
गायों के 'सीरियल किलर' की एक और काली करतूत, 93 लाख के घोटाले का आरोप!

नई दिल्ली: छत्तीसगढ़ में बीजेपी नेता हरीश वर्मा जो 200 से ज्यादा गायों को भूखा मारने के आरोप में...

गोरखपुर ट्रेजडी: राहुल ने की मृतक बच्चों के परिजनों से मुलाकात, BRD अस्पताल भी जाएंगे
गोरखपुर ट्रेजडी: राहुल ने की मृतक बच्चों के परिजनों से मुलाकात, BRD अस्पताल भी...

गोरखपुर: उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में पिछले दिनों बीआरडी अस्पताल में हुई बच्चों की मौत से मचे...

बड़ी खबर: जल्द बीजेपी में शामिल हो सकते हैं कांग्रेस के बड़े नेता नारायण राणे
बड़ी खबर: जल्द बीजेपी में शामिल हो सकते हैं कांग्रेस के बड़े नेता नारायण...

मुंबई: महाराष्ट्र की राजनीति में एक बड़ा भूकंप आने की तैयारी में है. महाराष्ट्र में कांग्रेस...

JDU की बैठक में बड़ा फैसला, चार साल बाद फिर NDA में शामिल हुई नीतीश की पार्टी
JDU की बैठक में बड़ा फैसला, चार साल बाद फिर NDA में शामिल हुई नीतीश की पार्टी

पटना: बिहार की राजनीति में आज का दिन बेहद अहम माना जा रहा है. पटना में नीतीश की पार्टी की जेडीयू...

यूपी: मदरसों को लेकर योगी सरकार का दूसरा बड़ा फैसला, अब जरुरी होगा रजिस्ट्रेशन
यूपी: मदरसों को लेकर योगी सरकार का दूसरा बड़ा फैसला, अब जरुरी होगा...

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने एक अहम फैसले के तहत शुक्रवार से प्रदेश के सभी...

बाढ़ का कहर जारी: बिहार में अबतक 153  तो असम में 140 से ज्यादा की मौत
बाढ़ का कहर जारी: बिहार में अबतक 153 तो असम में 140 से ज्यादा की मौत

पटना/गुवाहाटी: बाढ़ ने देश के कई राज्यों में अपना कहर बरपा रखा है. बाढ़ से सबसे ज्यादा बर्बादी...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017