बच्चों को पीएम मोदी से ज़्यादा पसंद हैं अमिताभ बच्चन/ Children likes Amitabh Bachchan more than Pm Narendra modi

बच्चों को पीएम मोदी से ज़्यादा पसंद हैं अमिताभ बच्चन 

हालांकि मोदी बच्चन से ज़्यादा पीछे नहीं रहे. 14 फ़ीसदी बच्चों ने कहा कि वो मोदी को अपनी जन्मदिन पार्टी में बतौर मेहमान बुलाना चाहेंगे.

By: | Updated: 20 Nov 2017 10:06 PM
Children likes Amitabh Bachchan more than Pm Narendra modi

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता जगज़ाहिर है. न सिर्फ़ भारत बल्कि दुनिया भर में मोदी ने अपनी लोकप्रियता के झंडे गाड़े हैं. तमाम सर्वे बताते हैं कि वे भारत में सबसे ज़्यादा पसंद किए जाने वाले राजनेता हैं. अभी हाल ही में अमेरिकी थिंक टैंक संस्था पीयु ( PEW ) के सर्वे में भी ये बात साबित हो गयी है. लेकिन एक शख्सियत है जो लोकप्रियता के मामले में मोदी को कड़ी टक्कर दे रहा है. चौंक गए न ! कम से कम बच्चों के मामले में तो ये बात सामने आ गयी है. वो शख़्स हैं  सदी के महानायक और सुपरस्टार अमिताभ बच्चन. संयुक्त राष्ट्र से जुड़ी संस्था संयुक्त राष्ट्र बाल कोष ( युनिसेफ़ ) के एक ताज़ा सर्वे में ये बातें सामने आयी हैं.


बर्थडे पार्टी के लिए अमिताभ बच्चन हैं पहली पसंद, मोदी से है कड़ी टक्कर


सर्वे के लिए जब भारत में बच्चों से पूछा गया कि वो किसे अपनी बर्थडे पार्टी में मेहमान के तौर पर बुलाना चाहेंगे तो कुछ रोचक आंकड़े सामने आए हैं. सर्वे किए गए कुल बच्चों में से 15 फ़ीसदी बच्चे चाहते हैं कि सुपरस्टार अमिताभ बच्चन उनकी बर्थडे पार्टी में मेहमान के तौर पर आएं. हालांकि मोदी बच्चन से ज़्यादा पीछे नहीं रहे. 14 फ़ीसदी बच्चों ने कहा कि वो मोदी को अपनी जन्मदिन पार्टी में बतौर मेहमान बुलाना चाहेंगे.


इस मामले में बच्चन और मोदी ने महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर, पूर्व राष्ट्रपति डॉ. ए पी जे अब्दुल कलाम और माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक बिल गेट्स को काफ़ी पीछे छोड़ दिया है. तेंदुलकर और क़लाम को 4-4 फ़ीसदी तो बिल गेट्स को 3 फ़ीसदी बच्चे अपनी बर्थडे पार्टी में बुलाना चाहते हैं.


और क्या है सर्वे में ?


भारत के बच्चे आतंकवाद को सबसे बड़ा मुद्दा मानते हैं. 72 फ़ीसदी बच्चों का कहना है कि आतंकवाद पर उन्हें सबसे ज़्यादा चिंता है. जबकि ख़राब शिक्षा दूसरे नंबर पर है. उनकी अपेक्षा है कि दुनिया भर के नेता आतंकवाद के ख़िलाफ़ सख़्ती से क़दम उठाएंगे. बच्चों की बातें सबसे ज़्यादा घर में सुनी जाती हैं. 96 फ़ीसदी बच्चों का कहना है कि उनकी बातें परिवार में ज़्यादा सुनी जाती हैं जबकि उनके शिक्षक उनकी बातें कम सुनते हैं.


बच्चों के मुताबिक स्कूल के बाद उनका 68 फ़ीसदी समय टीवी देखने में जाता है. वहीं 82 फीसदी बच्चे हफ्ते में एक बार स्मार्टफोन ज़रूर इस्तेमाल करते हैं.


कैसे हुआ सर्वे?


युनिसेफ़ ने 20 नवंबर को विश्व बाल दिवस के उपलक्ष्य में ये सर्वे जारी किया है. सर्वे 14 देशों में 9 से 18 साल के बच्चों के बीच 9 से 20 अक्टूबर के दौरान किया गया है. ऑनलाइन किए गए इस सर्वे में जिन 14 देशों को शामिल किया गया उनमें भारत के अलावा अमेरिका, ब्रिटेन, जापान और ब्राज़ील जैसे देश प्रमुख हैं. सर्वे के लिए 11000 से ज़्यादा बच्चों से बात की गई है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Children likes Amitabh Bachchan more than Pm Narendra modi
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें