चीन के अख़बार ने बनाया मोदी के 'मेक इन इंडिया' का मखौल

By: | Last Updated: Tuesday, 25 November 2014 7:11 AM

नई दिल्ली: निवेशकों को भारत के ‘ख़राब बुनियादी ढांचे’ का हवाला देते हुए, चीन के सरकारी अख़बार ने अपने एक लेख में पीएम मोदी की महत्वकांक्षी योजना ‘मेक इन इंडिया’ की खिल्ली उड़ाई है. मोदी इस योजना के सहारे देश को दुनिया का बड़ा  उत्पादन केंद्र बनाने की कोशिश कर रहे हैं. इसी साल सितंबर महीने में उन्होंने इस अभियान की शुरुआत की है.

 

चीनी मीडिया ने भारत के आर्थिक विकास पर संदेह जताया है. चीनी अख़बार पीपुल्स डेली में भारतीय पीएम के इस अभियान की आलोचना करता एक लेख छपा है. इसमें इस बात पर हैरानी जताई गई है कि भारत अपने ‘पिछड़े बुनियादी ढांचे’ के दम पर कैसे ‘दुनिया का कारखाना’ बन सकता है.

 

लेख में बताया गया है, “भारत वैश्विक ऑफिस के रूप में जाना जाता है. वे ज़रूर असहाय हैं क्योंकि वे इसे बदल कर ख़ुद को वैश्विक कारख़ाना बनाना चाहते हैं.” वहीं देश के कमजोर पहलू निर्यात को उजागर करते हुए अख़बार ने लिखा है कि साल 2013 में दुनिया के निर्यात में भारत की हिस्सेदारी ‘केवल 1.7 फ़ीसदी रही जो चीन के 11 फ़ीसदी से काफ़ी कम है.’

 

अख़बार ने ‘अंग्रेज़ी बोलने’ को भारत के फ़ायदे की चीज बताया है वहीं कहा गया है कि भारत का आउटसोर्सिंग कारोबार देश की ‘ग़रीबी मिटाने में बहुत कम कारगर हुआ है.’ अख़बार ने यह भी लिखा है कि भारत के पास प्रोडक्शन को बढ़ाने की ‘अच्छी आधार और क्षमता है.’

 

भारत के समर्थन में जो दो बातें बताई गई हैं उनमें ‘अंग्रेज़ी भाषा के ज़्यादा इस्तेमाल के साथ ही अमरीका और यूरोप के मन में भारत के लिए कम संदेह’ होना शामिल है. निवेशकों को इस दक्षिण एशियाई देश में व्यापार करने की क़ीमतों की याद दिलाई है.

 

लेख में आगे लिखा गया है, “भारत में अंतरराष्ट्रीय स्तर का केवल एक हाईवे है…इन्हें शहर में मेट्रो बनाने में सात साल लग गए. आप रातों रात निवेश का माहौल नहीं बदल सकते…अंग्रेज़ी बोलने वाली आबादी कुलीन लोगों में सिमटी है, और ग्रैजुएट लोग की तादाद दो करोड़ से कम है.”

 

अख़बार ने मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग की ऑस्ट्रेलिया और फ़िजी यात्रा की ओर भी ध्यान दिलाया है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: chinese daily mocks pm modi’s make in india programme
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017