लद्दाख के चुमार से देर रात चीनी सैनिक सीमा से हटे पीछे, घुसपैठ पर पीएम मोदी ने जताया था कड़ा एतराज

By: | Last Updated: Friday, 19 September 2014 1:13 AM

लेह/नई दिल्ली: पूर्वोत्तर लद्दाख के चुमार क्षेत्र में चार दिनों तक चरम पर रही तनाव की स्थिति के बाद आज रात चीनी सैनिकों ने भारतीय क्षेत्र से पीछे हटना शुरू कर दिया. आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी.

 

सूत्रों ने बताया कि चीनी सैनिक रात 9 बजकर 45 मिनट से अपने क्षेत्र में लौटने लगे.

 

उन्होंने कहा कि इसके बाद लेह से 300 किलोमीटर दूर पूर्व में स्थित इस क्षेत्र में भारी संख्या में मौजूद भारतीय सैनिकों ने भी अपनी उपस्थिति को कम करना शुरू कर दिया.

 

सूत्रों ने बताया कि स्थिति पर कड़ी नजर रखी जा रही है क्योंकि चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) वास्तविक नियंत्रण रेखा के पास डेरा डाले हुए है और स्थिति की आज समीक्षा की जायेगी. उन्होंने बताया कि बहरहाल, देमचक में आमना-सामना की स्थिति बनी हुई है जहां चीनी खानाबदोश ‘रेबो’ पिछले 12 दिनों से टेंट लगाये हुए हैं. इस क्षेत्र में भारतीय क्षेत्र में 500 मीटर अंदर घुसपैठ हुई है.

 

चीनी खानाबदोश पीएलए की, स्थानीय ग्रामीणों द्वारा सिंचाई के लिए एक नहर के निर्माण का विरोध करने में सक्रियता से मदद कर रहे हैं.

 

देमचक और चुमार में तानातनी की स्थिति का प्रभाव आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग के बीच शिखर स्तर की वार्ता पर भी पड़ी.

 

सूत्रों बताया कि चीनी पक्ष ने तड़के अपने सैनिकों की संख्या में वृद्धि करनी शुरू कर दी थी जो बैनर लिये हुए थे जिनमें भारतीय सेना से इलाके से चले जाने को कहा गया था. इस क्षेत्र में चीनी सैनिकों की संख्या बढ़कर 600 हो गई थी.

 

उन्होंने कहा कि चीनी हेलीकॉप्टरों को पीएलए के सैनिकों के लिए कम से कम तीन बार भोजन के पैकेट गिराते देखा गया.

 

भारत ने भी इलाके में कुमुक भेजी है और चीनी सैनिकों को आगे नहीं बढ़ने दिया जा रहा है तथा उनसे पीछे हटने को कहा गया है.

 

चीनी पक्ष एलएसी के पास अपनी ओर सड़क का निर्माण कर रहा है लेकिन रविवार को उसके श्रमिक निर्माण कार्य के लिए भारतीय क्षेत्र में प्रवेश कर गए.सूत्रों ने बताया कि इस पर भारत ने ऐतराज जताया था क्योंकि चीनी कामगार यह कह रहे थे कि उन्हें तिबले तक सड़क बनाने के निर्देश हैं जो भारतीय भूमि में पांच किलोमीटर अंदर है. सेना ने चीनी कामगारों से कहा कि वह वहां से हट जाएं अन्यथा भारत में अवैध रूप से घुसने को लेकर उन्हें भारतीय कानूनों के तहत अभियोजन का सामना करना पड़ेगा. गौरतलब है कि रविवार और सोमवार के बीच की रात करीब 100 भारतीय सैनिकों को 300 चीनी सैनिकों ने कथित तौर पर घेर लिया जिसके बाद गतिरोध शुरू हो गया जो अभी तक जारी है.

 

भारत ने इस क्षेत्र में कुमुक भेजी है और वे चीनी सैनिकों को आगे नहीं बढने दे रहे हैं तथा उनसे पीछे लौटने को कह रहे हैं.

 

भारतीय और चीनी सेना एक दूसरे से 200 मीटर की दूरी पर आमने सामने हैं.

 

सूत्रों ने बताया कि आज कोई फ्लैग मीटिंग नहीं हुई और चीनी पक्ष ने स्वत: ही पीछे लौटने का निर्णय किया.

 

दोनों देशों ने अभी तक दो फ्लैग मीटिंग की हंै जिसमें कल की लंबी चर्चा शामिल है जो कई घंटों तक चली, पर वह बेनतीजा रही.हिमाचल प्रदेश से लगे लद्दाख में चुमार आखिरी गांव है जो चीन के साथ विवाद की जड़ है, जिसे चीन अपना क्षेत्र होने का दावा करता है. वर्ष 2012 में पीएलए ने क्षेत्र में अपने कुछ सैनिक इस क्षेत्र में उतारे थे तथा सेना एवं आईटीबीपी के अस्थायी तंबुओं को नष्ट कर दिया था.

 

दौलत बेग ओल्डी में पिछले साल करीब पखवाड़े भर चले गतिरोध में चुमार चर्चा के केंद्र में रहा. सत्रह जून को भी चुमार में चीनी सैनिकों की चहलकदमी देखी गई थी.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Chinese soldier
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

डोकलाम के बाद उत्तराखंड के बाराहोती बॉर्डर पर चीन की अकड़, चरवाहों के टेंट फाड़े
डोकलाम के बाद उत्तराखंड के बाराहोती बॉर्डर पर चीन की अकड़, चरवाहों के टेंट...

नई दिल्ली: डोकलाम विवाद पर भारत और चीन के बीच तनातनी जगजाहिर है. इस बीच उत्तराखंड के बाराहोती...

एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें
एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें

1. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मिशन 2019 की तैयारियां शुरू कर दी हैं और आज इसको लेकर...

20 महीने पहले ही 2019 के लिए अमित शाह ने रचा 'चक्रव्यूह', 360+ सीटें जीतने का लक्ष्य
20 महीने पहले ही 2019 के लिए अमित शाह ने रचा 'चक्रव्यूह', 360+ सीटें जीतने का लक्ष्य

नई दिल्ली: मिशन-2019 को लेकर बीजेपी में अभी से बैठकों का दौर शुरू हो गया है. बीजेपी के राष्ट्रीय...

अगर लाउडस्पीकर पर बैन लगना है तो सभी धार्मिक जगहों पर लगे: सीएम योगी
अगर लाउडस्पीकर पर बैन लगना है तो सभी धार्मिक जगहों पर लगे: सीएम योगी

लखनऊ: कांवड़ यात्रा के दौरान संगीत के शोर को लेकर हुई शिकायतों पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ...

मालेगांव ब्लास्ट मामला: सुप्रीम कोर्ट ने श्रीकांत पुरोहित की ज़मानत याचिका पर फैसला सुरक्षित रखा
मालेगांव ब्लास्ट मामला: सुप्रीम कोर्ट ने श्रीकांत पुरोहित की ज़मानत याचिका...

नई दिल्ली: 2008 मालेगांव ब्लास्ट के आरोपी प्रसाद श्रीकांत पुरोहित की ज़मानत याचिका पर सुप्रीम...

'आयरन लेडी' इरोम शर्मिला ने ब्रिटिश नागरिक डेसमंड कॉटिन्हो से रचाई शादी
'आयरन लेडी' इरोम शर्मिला ने ब्रिटिश नागरिक डेसमंड कॉटिन्हो से रचाई शादी

नई दिल्ली: नागरिक अधिकार कार्यकर्ता इरोम शार्मिला और उनके लंबे समय से साथी रहे ब्रिटिश नागरिक...

अब तक 113: मुंबई एनकाउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा खाकी में लौटे
अब तक 113: मुंबई एनकाउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा खाकी में लौटे

 मुंबई: मुंबई पुलिस के मशहूर एनकाउंटर स्पेशलिस्ट पुलिस अधिकारी प्रदीप शर्मा को महाराष्ट्र...

RSS ने तब तक तिरंगे को नहीं अपनाया, जब तक सत्ता नहीं मिली: राहुल गांधी
RSS ने तब तक तिरंगे को नहीं अपनाया, जब तक सत्ता नहीं मिली: राहुल गांधी

आरएसएस की देशभक्ति पर कड़ा हमला करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि इस संगठन ने तब तक तिरंगे को नहीं...

चीन की खूनी साजिश: तिब्बत में शिफ्ट किए गए ‘ब्लड बैंक’
चीन की खूनी साजिश: तिब्बत में शिफ्ट किए गए ‘ब्लड बैंक’

नई दिल्ली: डोकलाम विवाद पर भारत और चीन के बीच तनातनी बढ़ती जा रही है. चीन ने अब भारत के खिलाफ खूनी...

सृजन घोटाला: लालू का नीतीश पर वार, बोले 'बचने के लिए BJP की शरण में गए'
सृजन घोटाला: लालू का नीतीश पर वार, बोले 'बचने के लिए BJP की शरण में गए'

पटना: सृजन घोटाले को लेकर बिहार की राजनीति में संग्राम छिड़ गया है. आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017