बिहार विधानसभा के अंदर गाली-गलौज, आपस में भिड़े जेडीयू-आरजेडी के विधायक | Clash between JDU and RJD MLAs inside Bihar Legislative Assembly

बिहार विधानसभा के अंदर गाली-गलौज, आपस में भिड़े जेडीयू-आरजेडी के विधायक

घटना के बाद नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के नेतृत्व में आरजेडी के दर्जनों विधायकों ने अध्यक्ष से मिलकर अपनी शिकायत दर्ज कराई. इसके साथ ही विरेंद्र सिंह को सदन से निष्कासित करने और सदन में माफ़ी मंगवाने की मांग की है.

By: | Updated: 28 Nov 2017 10:18 PM
Clash between JDU and RJD MLAs inside Bihar Legislative Assembly

नई दिल्ली: बिहार विधानसभा के शीतक़ालीन सत्र के दूसरे दिन सत्ता पक्ष और विपक्ष के दो विधायक आपस में ही भिड़ गए. आरोप है कि लंच टाइम में सदन के अंदर गिट्टी-बालू के मुद्दे पर चल रही बहस इतनी आक्रामक हो गई कि जेडीयू विधायक विरेंद्र सिंह ने आरजेडी के विधायक भाई विरेंद्र को असंसदीय भाषा का इस्तेमाल करते हुए गाली दे डाली. हालांकि विरेंद्र सिंह इन आरोपों से इंकार कर रहे हैं.


नाटकीय ढंग से सत्ता से बाहर हुई आरजेडी अभी तक अपने साथ हुए धोखे को पचा नहीं पाई है और लगातार सरकार पर हमलावर है. नई सरकार बनने के बाद ये सदन का पहला पूर्णक़ालीन सत्र है जिसमें विपक्ष सरकार को घेरने का कोई भी मौका नहीं छोड़ना चाहती. राज्य में हुए तथाकथित घोटालों और हत्याओं को लेकर विपक्ष लगातार सरकार पर तीखे वार कर रही है.


पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के नेतृत्व में तमाम आरजेडी नेताओं ने मंगलवार को विधानपरिषद के बाहर नारेबाज़ी की तो वहीं विधानसभा के भीतर भी सरकार और विपक्ष में जमकर हंगामा हुआ. सदन के भीतर ही लंच टाइम में गिट्टी-बालू के मुद्दे पर दो विधायक भिड़ बैठे. नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने आरोप लगाया कि सत्ता पक्ष के लोग विपक्ष को उकसाने की कोशिश कर रहे हैं ताकि विपक्ष के लोग उनपर हाथ उठाएं और वो बाहर जाकर इसका रोना रोएं. तेजस्वी यादव ने चेतावनी के लहजे में कहा कि हम विपक्ष में हैं, ऐसे उकसाने पर कब तक अपने आप को रोक पाएंगे?


मनेर से आरजेडी विधायक भाई विरेंद्र के मुताबिक़ लंच ब्रेक होने के दौरान बालू-गिट्टी को लेकर एक कोने में चर्चा हो रही थी, जिसमें शामिल होकर वो बालू और गिट्टी के मुद्दे पर बहस करने लगे. भाई विरेंद्र का आरोप है कि इसी दौरान जेडीयू विधायक विरेंद्र सिंह ने अपशब्द भाषा का इस्तेमाल किया. जिसके बाद विरेंद्र ने उन्हें मर्यादा में रहने की हिदायत दी. भाई विरेंद्र का कहना है कि उन्होंने ख़ुद को मर्यादित रखते हुए रोके रखा अन्यथा वो चाहते तो विरेंद्र सिंह को पटक कर उनकी छाती पर चढ़ जाते.


घटना के बाद नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के नेतृत्व में आरजेडी के दर्जनों विधायकों ने अध्यक्ष से मिलकर अपनी शिकायत दर्ज कराई. इसके साथ ही विरेंद्र सिंह को सदन से निष्कासित करने और सदन में माफ़ी मंगवाने की मांग की है.


वहीं इस घटना पर सफ़ाई देते हुए औरंगाबाद से जेडीयू विधायक विरेंद्र सिंह ने कहा कि उन्होंने कोई गाली नहीं दी है बल्कि भाई विरेंद्र ने ही उन्हें गाली दी. विरेंद्र सिंह के मुताबिक गिट्टी-बालू पर हो रही चर्चा के दौरान भाई विरेंद्र ने आकर उन्हें गिट्टीचोर बोला. विरेंद्र सिंह ने विपक्ष के माफ़ी मांगने की मांग ठुकराते हुए कहा कि गलती भाई विरेंद्र की है फिर वो माफ़ी क्यों मांगे? विरेंद्र सिंह ने सफाई दी कि वो तो गिट्टी-बालू का व्यवसाय भी नहीं करते बल्कि भाई विरेंद्र ही बालू माफ़िया हैं.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Clash between JDU and RJD MLAs inside Bihar Legislative Assembly
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story ओवैसी का मोदी पर हमला, राजसमंद में मुस्लिम मजदूर की हत्या पर मांगा जवाब