तमिलनाडु विधानसभा चुनाव के लिए द्रमुक, कांग्रेस ने मिलाया हाथ

By: | Last Updated: Sunday, 14 February 2016 9:16 AM
congres dmk alliance in tamil nadu

चेन्नई: कांग्रेस और द्रमुक ने श्रीलंकाई तमिलों के मुद्दे पर अपना मतभेद खत्म करते हुए कल तमिलनाडु का आगामी विधानसभा चुनाव लड़ने के लिए साथ आने का फैसला किया. 2013 में इस मुद्दे पर दोनों दलों का नौ साल पुराना गठबंधन टूट गया था.

कांग्रेस ने द्रमुक को ‘‘सबसे विश्वसनीय सहयोगी’’ बताया और इसके साथ गुलाम नबी आजाद ने यहां द्रमुक के अध्यक्ष एम करूणानिधि के साथ बैठक में गठबंधन को अंतिम रूप दिया. तीन साल पहले द्रमुक ने कांग्रेस पर श्रीलंकाई तमिलों को धोखा देने का आरोप लगाते हुए उससे संबंध तोड़ लिए थे.

आजाद ने द्रमुक अध्यक्ष के गोपालपुरम स्थित घर में बैठक के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘‘पार्टी ने हमारे राष्ट्रीय स्तर पर फैसला कर लिया है और साथ ही करूणानिधि जी के स्तर पर और द्रमुक के दूसरे माननीय नेताओं के स्तर पर फैसला कर लिया गया है कि हम यह चुनाव साथ लड़ेंगे, हमारा गठबंधन होगा.’’ राज्यसभा में विपक्ष के नेता आजाद ने करूणानिधि एवं द्रमुक की तारीफ करते हुए कहा कि करूणानिधि एक ‘माननीय नेता’ है और उनकी पार्टी ‘सबसे विश्वसनीय’ है.

उन्होंने कहा कि करूणानिधि इंदिरा गांधी के समय से एक ‘माननीय नेता’ हैं और ‘‘द्रमुक हमेशा से सबसे विश्वसनीय सहयोगी रही है और बनी रहेगी.’’ आजाद से जब पूछा गया कि 2013 से 2016 के बीच क्या बदला है जिसके कारण दोनों दलों ने हाथ मिलाने का फैसला किया, उन्होंने कहा कि राजनीतिक ‘‘मजबूरियां और दबाव’’ हैं.

उन्होंने जयललिता के नेतृत्व वाली अन्नाद्रमुक के खिलाफ विधानसभा चुनाव में द्रमुक नीत गठबंधन को जीत मिलने का विश्वास जताते हुए कहा, ‘‘ऐसा पहली बार नहीं है जब हम द्रमुक के साथ गए हैं. हमारे बीच पूर्व में भी ऐसी साझेदारियां रही हैं. राजनीति में कई बार मजबूरियां और दबाव होते हैं.’

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: congres dmk alliance in tamil nadu
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017