Congress_Moga molestation

Congress_Moga molestation

By: | Updated: 02 May 2015 02:48 AM

जालंधर: पंजाब के मोगा में एक बस में हुए एक नाबालिग के साथ छेडछाड और उसकी मौत के मामले राज्य सरकार और उप मुख्यमंत्री सुखबीर बादल की आलोचना करते हुए पंजाब कांग्रेस ने मामले में न्यायिक जांच कराने तथा बस कंपनी पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है.



जालंधर में आज स्थानीय कांग्रेस भवन में पार्टी नेताओं ने एकत्रित होकर उप मुख्यमंत्री सुखबीर बादल का पुतला फूंका और राज्य सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की.

 

प्रदेश कांग्रेस महासचिव सतनाम कैंथ ने कहा कि यह मामला संगीन है और राज्य सरकार इसको रफा दफा करने के इरादे में है. कांग्रेस पार्टी ऐसा कभी नहीं होने देगी. इस मामले की जितनी निंदा की जाए कम है.

 

उन्होंने कहा, ‘‘इस मामले में पार्टी न्यायिक जांच कराने की मांग करती है ताकि लोगों के समक्ष सच आये. यह घिनौनी हरकत सरकार संरक्षित असामाजिक तत्वों ने किया है. इसलिए हमारी पार्टी दोषियों को कडी से कडी सजा दिलाने की मांग करती है.’’

 

उन्होंने यह भी कहा कि अब खबरें आ रही है कि मृतक बच्ची के पिता के साथ समझौते की बात चल रही है. इससे ऐसा लगता है कि सरकार इसे रफा दफा करने पर भी विचार कर रही है. यह मान्य नहीं है और बस कंपनी को तत्काल प्रभाव से प्रतिबंधित कर दिया जाना चाहिए.

 

गौरतलब है कि मोगा में सुखबीर के स्वामित्व वाली आरबिट कंपनी की बस में कुछ लोगों ने कथित रूप से कंडक्टर और खलासी के साथ मिलकर एक नाबालिग लडकी के साथ छेडछाड की. विरोध करने पर उन लोगों लडकी और उसकी मां को बस से धक्का दे दिया था जिससे मौके पर ही लडकी की मौत हो गयी थी.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story केजरीवाल सरकार का फैसला, दिल्ली में राशन के लिए आधार कार्ड नहीं होगा अनिवार्य