बंगाल में कांग्रेस के साथ गठबंधन पर फैसला माकपा नेतृत्व करेगा : बृंदा करात

By: | Last Updated: Tuesday, 19 January 2016 8:13 AM
CPI-M Leadership to Decide Whether to Go With Congress in Bengal

झारखंड: माकपा पोलितब्यूरो की सदस्य बृंदा करात ने आज कहा कि पश्चिम बंगाल में होने वाले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के साथ गठबंधन का फैसला पार्टी का नेतृत्व उचित समय पर करेगा.

बृंदा ने कहा, ‘‘चुनाव पांच राज्यों में होने वाले हैं और गठबंधन राज्य विशेष के स्तर के लिए नहीं हो सकता.’’ उन्होंने कहा, ‘‘माकपा पोलित ब्यूरो और केंद्रीय समिति पांच राज्यों में गठबंधन के मुद्दे पर आखिरी फैसला करेंगे.’’

पश्चिम बंगाल में वस्तुत: पार्टी के चुनाव अभियान की शुरूआत करते हुए वरिष्ठ माकपा नेता बुद्धदेव भट्टाचार्य ने शनिवार को कांग्रेस तथा अन्य वाम दलों को वाम मोर्चा के साथ हाथ मिलाने के लिए संदेश दिया था ताकि सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस को सत्ता से हटाया जा सके.

बृंदा झरिया की खान में लगी आग से विस्थापन विषय पर एक सेमिनार में शामिल होने के लिए सुबह यहां पहुंचीं. उन्होंने मालदा की हालिया घटना से ‘‘सही तरीके से नहीं निपटने’’ के लिए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और उनकी पार्टी की आलोचना की. उन्होंने आरोप लगाया कि बंगाल में माकपा द्वारा स्थापित सांप्रदायिक सौहाद्र्र को ममता, भाजपा और आरएसएस राजनीतिक लाभ के लिए नष्ट कर रहे हैं.

बृंदा ने संसद में जीएसटी विधेयक को लेकर बने गतिरोध के लिए भाजपा सरकार को दोषी ठहराया और कहा, ‘‘यह सरकार की जिम्मेदारी है कि विपक्ष को विश्वास में लेकर वह संसद चलाए.’’ उन्होंने मांग की कि कई भाजपा नेता राम मंदिर मुद्दे को उठा रहे हैं और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस संबंध में अपना रूख साफ करना चाहिए.

उन्होंने आरोप लगाया कि इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री की चुप्पी से उनके मूक समर्थन की पुष्टि होती है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: CPI-M Leadership to Decide Whether to Go With Congress in Bengal
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: alliance brinda karat CPI M west bengal
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017