शहीदों के शव पर राजनीति क्यों ?

By: | Last Updated: Thursday, 4 December 2014 11:18 AM

नई दिल्ली : केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) ने आज कहा कि उसने कूड़े के ढेर में खून से सनी वर्दियां मिलने के मामले की जांच के आदेश दिए हैं. ये वर्दियां छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में एक अस्पताल के पास कूड़े के ढेर से मिली थीं और ऐसा संदेह है कि ये वर्दियां सीआरपीएफ के उन्हीं जवानों की हैं, जो राज्य में हुए हालिया नक्सली हमले में शहीद हो गए थे.

इन तस्वीरों को महज तस्वीर मत समझिए . ये कलंक है . समाज पर व्यवहार पर और देश की राजनीतिक व्यवस्था पर . जिन जवानों के जागने पर हम और आप सोते हैं . उन जवानों की शहादत का क्या सिला दिया गया है ये तस्वीर उसी की कहानी बय़ां कर रही हैं .

लाल घेरे में हम आपको जो वर्दियां दिखा रहे हैं वो उन शहीद जांबाजों के हैं जो नक्सलियों की गोली से मारे गए . रायपुर के इस बड़े अस्पताल में शहीदों के शवों का पोस्टमार्टम किया गया . लेकिन उसके बाद उन शहीदों की आखिरी निशानियों के साथ जो किया गया है उसके लिए शर्मिंदा होने जैसे शब्दों के भी कोई मायने नहीं रह जाते .

 

नक्सली हमले में शहीद जवानों की खून से सनी वर्दियां कूड़े में मिलीं, जांच के आदेश 

अस्पताल के कुकर्मों का कच्चा चिट्ठा भी नहीं खुलता अगर इन आवारा कुत्तों ने कुड़े के ढेर को तहस नहस नहीं किया होता . शहीद जवानों की आखिरी निशानियों के साथ हुए इस खिलवाड़ की भनक जैसे ही कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को लगी राजनीति शुरू हो गई . कांग्रेस के कार्यकर्ता इन निशानियों को अपने साथ ले गए .

 

लेकिन रायपुर के इस अस्पताल में लापरवाही की तस्वीरें यहीं खत्म नहीं होती . कांग्रेस के आरोपों से सरकार इनकार कर रही है लेकिन जो तस्वीरें दुनिया देख रही है उससे आखिर कोई कैसे झुठला सकता है .

 

कांग्रेस ने अब इसे मुद्दा बना लिया है और पार्टी मांग कर रही है कि गृह मंत्री राजनाथ सिंह इस घटना के लिए माफी मांगें .

 

सुकमा में 1 दिसंबर को नक्सलियों के हमले में 14 जवान शहीद हो गए थे . अगले दिन गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने शहीद जवानों को जाकर श्रद्धांजलि दी थी . उसके बाद शवों को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल ले जाया गया था. जहां से ये तस्वीरें सामने आई है .

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: crpf
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017