दंतेवाड़ा: नक्सलियों ने 500 गांव वालों को बनाया बंधक

By: | Last Updated: Saturday, 9 May 2015 6:58 AM
Dantewada: Just ahead of PM Narendra Modi’s rally in Chhattisgarh, Maoists take 500 villagers hostage in Munda

रायपुर: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के छत्तीसगढ़ प्रवास के दौरान नक्सलियों ने सुकमा जिले में लगभग पांच सौ ग्रामीणों को अगवा कर लिया है. सुकमा जिले के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर ने बताया कि जिले के मरंगा क्षेत्र में नक्सलियों ने लगभग पांच सौ ग्रामीणों को अगवा कर लिया है. नक्सलियों ने कुछ लोगों को रिहा किया है.

 

हालांकि पूर्व गृह सचिव और बीजेपी सांसद आरके सिंह ने गांववालों को बंधक बनाए जाने की खबर को गलत बताया है. उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ के डीजीपी से उनकी बात हुई है, वहां ऐसी कोई बात नहीं हुई है. आरके सिंह ने बताया, “नक्सली वहां पर पुल का विरोध करते हैं. वहां पर सुरक्षा के लिए सीआरपीएफ भेजीगई थी. पीएम की रैली की वजह से कुछ जवान हटाए गए होंगे. नक्सलियों ने वहां जाकर कुछ लोगों को भगा दिया. जो खबर आ रही है वह गलत है.”

 

पुलिस अधिकारी ने बताया कि मरंगा गांव के करीब नदी में पुल का निर्माण चल रहा है. नक्सली पुल के निर्माण का विरोध कर हैं. विरोध के चलते बीती रात हथियार बंद नक्सली मरेंगा गांव पहुंचे और लगभग पांच सौ ग्रामीण जिनमें महिलाएं और बच्चे भी शामिल हैं को अपने साथ ले गए.

 

राठौर ने बताया कि नदी में पुल बनने के कारण ग्रामीण विकास कार्य के पक्ष में हैं लेकिन नक्सली यहां पुल नहीं बनने देना चाहते हैं. राज्य शासन पर दबाव डालने के लिए नक्सलियों ने यह कार्य किया है.

 

पुलिस अधिकारी ने बताया कि घटना की जानकारी मिलने के बाद क्षेत्र में पुलिस दल को रवाना कर दिया गया है तथा अगवा ग्रामीणों की रिहाई के प्रयास किए जा रहे हैं.

 

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अभी दंतेवाड़ा के प्रवास पर हैं और नक्सली मोदी के छत्तीसगढ़ आगमन का विरोध कर रहे हैं. इस दौरान उन्होंने दो दिनों का दंडकारण्य बंद का भी आह्वान किया है.

 

इधर बस्तर क्षेत्र से मिली जानकारी के मुताबिक नक्सली मोदी की सभा में शामिल होने वाले ग्रामीणों को धमकाने की कोशिश कर रहे हैं तथा उनकी गाड़ियों को भी रोके जाने की खबर है.

 

मोदी सर ने ली बच्चों की क्लास

यहां पर आज सुबह पीएम मोदी ने  एजुकेशन सिटी में बच्चों के साथ बातचीत की और खुलकर सवालों के जवाब दिए.

 

पीएम मोदी से एक छात्रा ने सवाल पूछा कि किस घटना से उन्हें प्रेरणा मिली तो उन्होंने बच्चों को पोलियना किताब पढ़ने की सलाह दी. पीएम मोदी ने कहा कि जीवन का सबसे बड़ा आनंद बच्चा बने रहने में है, पीएम ने कहा कि बड़े होने पर जब बालकपन छूटने लगता है तब इस चीज का अहसास होता है.

 

पीएम मोदी से जब पूछा गया कि वो रोज 18 घंटे काम के तनाव का सामना कैसे करते हैं? इस पर उन्होंने कहा, “अपनों के लिए काम करने वालों को थकान कभी नहीं होती, कहा मैं अपने सवा सौ करोड़ लोगों के लिए काम करता हूं तो मुझे उनके लिए काम करने में आनंद आता है.”

 

मोदी से पूछा गया कि जीवन की सबसे बड़ी सफलता क्या है? तो उन्होंने कहा, “विफलता से सीखने वाला ही सफल होता है और उन्होंने जीवन में हर वक्त विफलता का सामना किया है.”

 

पीएम मोदी ने बच्चों को सिखाया कि कुछ बनने के नहीं बल्कि कुछ करने के सपने देखो, बच्चों को खूब खेलने की भी सलाह दी, कहा दिन में 4 बार पसीना जरूर आना चाहिए.

दंतेवाड़ा: नक्सलियों ने 500 गांव वालों को बनाया बंधक 

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Dantewada: Just ahead of PM Narendra Modi’s rally in Chhattisgarh, Maoists take 500 villagers hostage in Munda
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017