भारी बारिश के बीच दार्जिलिंग में लैंडस्लाइड, 38 की मौत

By: | Last Updated: Wednesday, 1 July 2015 3:20 PM
darjiling suffers landslid

पश्चिम बंगाल: पश्चिम बंगाल के पर्वतीय जिले दार्जिलिंग में कल रात से आफत बनकर बरस रही बारिश 38 जानें ले चुकी है. इस दौरान इलाके के मकान पहाड़ों से टूटकर गिरे गारे के ढेर के नीचे दब गए हैं, पुल एवं राजमार्ग बह गए हैं और खुशबूदार चाय के लिए मशहूर यह इलाका प्रकृति के तांडव के कारण बेजार है.

 

उत्तर बंगाल विकास मंत्री गौतम देब ने बताया कि राहत और बचाव प्रयासों के लिए सेना की मदद मांगी गई है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जनहानि पर दुख व्यक्त किया और मरने वालों के परिवार को दो दो लाख रूपए का मुआवजा देने का ऐलान किया. उन्होंने केन्द्रीय मंत्री किरेन रिजीजू से हालात का जायजा लेने के लिए भूस्खलन प्रभावित दार्जिलिंग जाने को कहा है.

 

मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘दार्जिलिंग जिले में भूस्खलन से जनहानि पर गहरा दुख हुआ. मरने वालों के परिवारों के लिए संवेदना.’’ उन्होंने कहा, ‘‘मरने वालों के परिवारों को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से दो लाख का मुआवजा दिया जाएगा.’’ पश्चिम बंगाल के आपदा प्रबंधन विभाग के सूत्रों ने आज कहा कि दार्जिलिंग जिले के तीन अनुमंडलों में कल रात से भारी बारिश के कारण हुए भूस्खलन से कम से कम 38 लोगों की मौत हो गई.

 

विभाग के अधिकारियों ने बताया कि अकेले मिरिक में 21 लोगों की मौत हुई. अन्य 13 लोग लापता बताए जाते हैं. उन्होंने बताया कि बाकी 17 लोगों की मौत कालिमपोंग 1 और 2, लावा, संखिया ब्लाक और गोरूबाथन में हुई.

 

दार्जिलिंग, कालिमपोंग और कुर्सियांग अनुमंडलों में 25 स्थानों पर भूस्खलन से एनएच 10 और एनएच 55 को भारी नुकसान पहुंचा है, जिससे क्षेत्र का सड़क संपर्क टूट गया है. बारिश के पानी के साथ भारी मात्रा में मिट्टी का गारा भी आ रहा है और पर्वतीय ढलान में बसे घर उसके नीचे दबे जा रहे हैं.

 

सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) के कर्मी राहत अभियानों में जुटे हैं और सेना की मदद भी मांगी गई है. कई स्थानों पर राहतकर्मी हाथों से ही मलबे के ढेर को खोद रहे हैं ताकि उसके नीचे से लोगों को निकाला जा सके.

 

पबंगाल भूस्खलन: प्रधानमंत्री की मृतकों के परिवारों को दो लाख रूपये मुआवजे की घोषणा

 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग जिले में भूस्खलन के कारण जानमाल के नुकसान पर गहरा दुख व्यक्त किया और प्रत्येक मृतक के परिवार को दो लाख रूपये मुआवजा प्रदान करने की घोषणा की.

 

मोदी ने कहा कि उन्होंने गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू को घटनास्थल पर जाकर स्थिति का जायजा लेने का निर्देश दिया. एनडीआरएफ का एक दल सभी संभव मदद प्रदान कर रहा है.

 

उन्होंने ट्विट किया, ‘‘ दार्जिलिंग जिले में भूस्खलन के कारण जानमाल के नुकसान पर बेहद दुखी हूं. मृतकों के परिवारों के प्रति संवेदना प्रकट करता हूं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘पीएमएनआरएफ (प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष) से मृतकों के परिवारों को दो-दो लाख रूपये का मुआवजा दिया जायेगा.’’

 

एसएसबी सूत्रों ने बताया कि कल रात से दार्जिलिंग जिले के तीन उप मंडलों में भारी बारिश से भूस्खलन हुआ. ताजा रिपोर्ट के मुताबिक, 22 लोग मारे गए है, 20 घायल हुए और 15 लोग लापता बताये जा रहे हैं.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: darjiling suffers landslid
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: darjilling death Landslide
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017