हेडली का दावा : एनआईए को बताया था इशरत जहां के बारे में

By: | Last Updated: Saturday, 26 March 2016 1:45 PM
David Headley Says NIA Did Not Record His Statement

नई दिल्ली/मुंबई: पाकिस्तानी मूल के अमेरिकी आतंकवादी डेविड कोलमेन हेडली ने आज दावा किया कि लश्कर ए तैयबा के कमांडर जकी उर रहमान लखवी ने उसे इशरत जहां ‘अभियान’ के बारे में बताया था. हालांकि, उसे इस मामले के बारे में मीडिया के माध्यम से भी पता चला था.

मुंबई में 26/11 को हुए आतंकी हमला मामले में आतंकवाद निरोधक अदालत में हेडली आज चौथे दिन गवाही दे रहा था. उसने जिरह के दौरान दावा किया कि उसने एनआईए को बताया था कि भारत में एक मुठभेड़ में जो महिला सदस्य मारी गई वह इशरत जहां थी.’
उसके अनुसार, उसने अन्य बातों के बारे में भी बताया था.

लेकिन, वह यह नहीं कह सकता कि एजेंसी ने इसे रिकॉर्ड क्यों नहीं किया. बहरहाल, हेडली एनआईए को दिए गए अपने बयान के इस हिस्से से यह कहते हुए पलट गया कि उसने जांच एजेंसी को यह नहीं बताया कि लखवी ने उसे जानकारी दी थी कि इशरत जहां ‘मॉड्यूल’ लापरवाही से अंजाम दिया गया एक अभियान था.

उसने यह भी कहा कि यह सिर्फ मेरे विचार थे. उसने यह भी माना कि उसे ‘इशरत जहां के बारे में कोई निजी जानकारी नहीं थी.’ हेडली ने कहा ‘जब लखवी ने मुजम्मिल भट को मुझसे मिलवाया तो उसने मुझसे कहा कि वह (भट) लश्कर ए तैयबा के शीर्ष कमांडरों से एक है और उसने अक्षरधाम मंदिर, इशरत जहां जैसे कुछ अभियानों को अंजाम दिया है.’

आतंकी का कहना है कि ‘शेष मेरे विचार थे..मुझे इशरत जहां के बारे में मीडिया से पता चला. यह मेरे विचार थे कि इशरत जहां अभियान असफल क्यों हुआ.’ हेडली ने न्यायाधीश जी ए सानप को बताया, ‘नहीं, मैंने एनआईए को यह नहीं कहा और कोई कारण भी नहीं बता सकता कि इसे ऐसे रिकॉर्ड क्यों किया गया.’

अमेरिका की जेल में बंद, मुंबई हमला मामले में सरकारी गवाह बने 55 वर्षीय हेडली से अब्दुल वहाब खान वीडियो लिंक के माध्यम से जिरह कर रहे थे. खान 2008 में हुए इस भयावह हमले के एक अन्य मुख्य षड्यंत्रकारी अबु जुंदाल के वकील हैं. एनआईए ने जुलाई 2010 में अमेरिका में हेडली का बयान रिकॉर्ड किया था.

यह पूछे जाने पर कि क्या एनआईए ने बयान उसे सुनाया था, हेडली ने कहा ‘नहीं.’ उसने कहा कि एजेंसी ने केवल नोट्स लिए थे. लश्कर के सदस्य हेडली को मुंबई हमला मामले में भूमिका के लिए अमेरिका ने दोषी ठहराया है. एक सवाल के जवाब में उसने कहा कि न तो उसने एनआईए से बयान की प्रति के लिए आग्रह किया और न ही एजेंसी ने उसे वह मुहैया कराया.

उसने यह भी कहा कि उसे उसका बयान पहली बार अदालत में दिखाया गया. हेडली ने कहा कि उसने एनआईए को बताया कि साजिद मीर से पहले मुजम्मिल लश्कर ए तैयबा का प्रमुख था. हेडली से उसके बयान के संदर्भ में पूछा गया कि भट के बारे में दी जानकारी क्यों रिकॉर्ड नहीं की गई.

इस पर हेडली ने कहा कि वह नहीं बता सकता. उसने खान को यह भी बताया कि उसने एनआईए को ‘भारत में पुलिस नाका के समीप असफल अभियान’ के बारे में बताया था लेकिन यह नहीं कह सकता कि उसका बयान रिकार्ड क्यों नहीं किया गया.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: David Headley Says NIA Did Not Record His Statement
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017