मोदी से डर कर भागा है दाऊद ?

By: | Last Updated: Monday, 27 October 2014 4:26 PM

नई दिल्ली : डर गया अंडरवर्ल्ड का सरगना कहा जाने वाला दाऊद . वह दाऊद जिससे पूरा मुंबई कांपता था, बॉलीवुड कांपता था लेकिन अब डरे हुए दाऊद ने पाकिस्तान में अपना कराची का ठिकाना तक छोड़ दिया.  जो बड़े-बड़े गुनाह करने से नहीं डरता था वो दाऊद आखिर डर गया है तो किससे और क्यों. नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनते ही ऐसा क्या हुआ जो अब पाकिस्तान की गोद में बैठा दाऊद वहां से ठिकाने बदल रहा है.

 

ISI ने बदला दाऊद का ठिकाना, कराची से हटाकर दी नई गुफा में जगह 

आतंक के खिलाफ सबसे बड़ी कामयाबी हासिल की थी अमेरिका ने. पाकिस्तान के शहर एबटाबाद में छिपे ओसामा बिन लादेन को अमेरिकी सील कमांडो की टीम ने रातों रात मार दिया था. लादेन तब दुनिया के सबसे बड़े आतंकी संगठन अल-कायदा का मुखिया था और अमेरिका पर 9-11 के सबसे बड़े आतंकी हमले का गुनहगार भी. उसे पनाह देने वाले पाकिस्तान को खबर तक नहीं लगी.

 

 

भारत के लिए दाऊद इब्राहिम भी 1993 के मुंबई के बम धमाकों का गुनहगार है. और अब उसे भी सता रहा है मौत का ऐसा ही खौफ. दरअसल भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी पहली अमेरिका यात्रा में दाऊद इब्राहिम का नाम लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा से सीधी बात की थी. इसके बाद ये बातचीत सुरक्षा एजेंसियों के स्तर पर आगे बढ़ी और अब दोनों मिलकर तलाश रहे हैं दाऊद का ठिकाना.

 

दरअसल नए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चुनाव के पहले ही साफ कर दिया था कि दाऊद को लेकर उनका रुख बेहद कड़ा है. अमेरिका को भी दाऊद चाहिए. क्योंकि दाऊद से उन्हें पाकिस्तान के भीतर चल रही आतंकी साजिशों की अंदरूनी जानकारियां मिल सकती हैं.

 

दाऊद ने सिर्फ मुंबई छोड़ा था अपना काला धंधा नहीं . आज भी वहअफ्रीका से लेकर अफगानिस्तान तक अफीम और हथियारों की स्मगलिंग से लेकर स्पॉट फिक्सिंग, वसूली और आतंकवादियों की फंडिंग जैसे कामों को डी कंपनी के जरिए अंजाम दे रहा है.

 

ऐसे में भारत और अमेरिका की खुफिया एजेसिंयों ने दाऊद के खिलाफ साझा मोर्चा खोल दिया है. दोनों की साझा ताकत से निपटना आईएसआई के बस की बात नहीं है और इस लिए एक बार फिर भाग गया है दाऊद.

 

विशेषज्ञों के मुताबिक भले ही ये खबर अब आई है लेकिन भारत के रक्षा विशेषज्ञों के मुताबिक दाऊद इब्राहिम का ठिकाना तब ही बदला जा चुका था जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेरिका दौरे पर गए थे.

 

माना जा रहा है कि हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अमेरिका दौरे के बाद आतंक के खिलाफ जंग में जो नई साझेदारी शुरू हुई है उससे आईएसआई और दाऊद और आईएसआई बेहद डरे हुए हैं.

 

डर ये है कि कहीं भारत और अमेरिका अल कायदा के सरगना ओसामा-बिन – लादेन की तरह दाऊद इब्राहिम को भी निशाना ना बना लें.  दरअसल दाऊद को बचाना पाकिस्तान के लिए मजबूरी है.

 

पाकिस्तान दाऊद से हाथ नहीं धो सकता चाहे उसे कितनी भी बदनामी उठानी क्यों ना पड़े. दूसरी तरफ भारत के लिए भी दाऊद नाक का सवाल बना हुआ है और इंतजार है कि कब गिरफ्त में आएगा दाऊद.

 

दाऊद इब्राहिम के ऊपर कानूनी तौर पर तो 1993 में हुए मुंबई बम धमाकों का इल्जाम है लेकिन हत्या, वसूली, तस्करी, मैच फिक्सिंग, हथियारों की सप्लाई जैसे हर काले धंधे से उसके हाथ रंगे हुए हैं – यही वजह है कि 30 साल से भाग ही रहा है दाऊद.

 

पाकिस्तान का आधिकारिक स्टैंड है कि दाऊद कभी पाकिस्तान रहा ही नहीं. लेकिन अब इकोनॉमिक टाइम्स ने जो खुलासा किया है उसके मुताबिक अब पाकिस्तान के दूसरे सिरे पर एक नई पनाहगाह में पहुंच चुका है. भारत और अमेरिका के रडार पर दाऊद आ तो गया है लेकिन अब भी पहुंच से दूर है दाऊद. सवाल ये है कि इस खबर के हाथ आने के बाद भी दाऊद भारत के हाथ आएगा क्या? 

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: dawood ibrahim
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

यूपी के 7000 से ज्यादा किसानों को मिला कर्जमाफी का प्रमाणपत्र
यूपी के 7000 से ज्यादा किसानों को मिला कर्जमाफी का प्रमाणपत्र

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में गुरुवार को 7574 किसानों को कर्जमाफी का प्रमाणपत्र दिया गया. इसके बाद 5...

सेना की ताकत बढ़ाएंगे छह अपाचे लड़ाकू हेलीकॉप्टर, सरकार ने दी खरीदने की मंजूरी
सेना की ताकत बढ़ाएंगे छह अपाचे लड़ाकू हेलीकॉप्टर, सरकार ने दी खरीदने की...

नई दिल्ली: रक्षा मंत्रालय ने गुरुवार को एक बड़ा फैसला लिया. मंत्रालय ने भारतीय सेना के लिए...

क्या है अमेरिकी राजदूत के हिंदू धर्म परिवर्तन कराने का वायरल सच?
क्या है अमेरिकी राजदूत के हिंदू धर्म परिवर्तन कराने का वायरल सच?

नई दिल्लीः सोशल मीडिया पर पिछले कुछ दिनों से एक विदेशी महिला की चर्चा चल रही है.  वायरल वीडियों...

भागलपुर घोटाला: सीएम नीतीश कुमार ने दिए CBI जांच के आदेश
भागलपुर घोटाला: सीएम नीतीश कुमार ने दिए CBI जांच के आदेश

पटना/भागलपुर: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भागलपुर जिला में सरकारी खाते से पैसे की अवैध...

हिजबुल मुजाहिदीन को विदेशी आतंकी संगठन करार देना अमेरिका का नाजायज कदम: पाकिस्तान
हिजबुल मुजाहिदीन को विदेशी आतंकी संगठन करार देना अमेरिका का नाजायज कदम:...

इस्लामाबाद: आतंकी सैयद सलाहुद्दीन को इंटरनेशनल आतंकी घोषित करने के बाद अमेरिका ने कश्मीर में...

डोकलाम के बाद उत्तराखंड के बाराहोती बॉर्डर पर चीन की अकड़, चरवाहों के टेंट फाड़े
डोकलाम के बाद उत्तराखंड के बाराहोती बॉर्डर पर चीन की अकड़, चरवाहों के टेंट...

नई दिल्ली: डोकलाम विवाद पर भारत और चीन के बीच तनातनी जगजाहिर है. इस बीच उत्तराखंड के बाराहोती...

एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें
एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें

1. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मिशन 2019 की तैयारियां शुरू कर दी हैं और आज इसको लेकर...

20 महीने पहले ही 2019 के लिए अमित शाह ने रचा 'चक्रव्यूह', 360+ सीटें जीतने का लक्ष्य
20 महीने पहले ही 2019 के लिए अमित शाह ने रचा 'चक्रव्यूह', 360+ सीटें जीतने का लक्ष्य

नई दिल्ली: मिशन-2019 को लेकर बीजेपी में अभी से बैठकों का दौर शुरू हो गया है. बीजेपी के राष्ट्रीय...

अगर लाउडस्पीकर पर बैन लगना है तो सभी धार्मिक जगहों पर लगे: सीएम योगी
अगर लाउडस्पीकर पर बैन लगना है तो सभी धार्मिक जगहों पर लगे: सीएम योगी

लखनऊ: कांवड़ यात्रा के दौरान संगीत के शोर को लेकर हुई शिकायतों पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ...

मालेगांव ब्लास्ट मामला: सुप्रीम कोर्ट ने श्रीकांत पुरोहित की ज़मानत याचिका पर फैसला सुरक्षित रखा
मालेगांव ब्लास्ट मामला: सुप्रीम कोर्ट ने श्रीकांत पुरोहित की ज़मानत याचिका...

नई दिल्ली: 2008 मालेगांव ब्लास्ट के आरोपी प्रसाद श्रीकांत पुरोहित की ज़मानत याचिका पर सुप्रीम...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017