छोटा शकील ने एबीपी न्यूज़ से कहा, '1000 करोड़ लेना था इसलिए ललित मोदी को मारने बैंकॉक गए थे'

By: | Last Updated: Saturday, 4 July 2015 12:15 PM
Dawood Ibrahim_underworld don Chhota Shakeel

नई दिल्ली: अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद आज फिर सुर्खियों में है. इस बार उसके गुर्गे छोटा शकील ने भारत सरकार को दाऊद को पकडने की चुनौती दी है. छोटा शकील ने आज एबीपी न्यूज़ पर संवाद्दाता शीला रावल से बातचीत में कई तरह के खुलासे किए हैं.

 

छोटा शकील ने एबीपी न्यूज़ पर खुलासा करते हुए कहा है कि आईपीएल के पूर्व कमिश्नर ललित मोदी को डी कंपनी से कोई खतरा नहीं है वो जब चाहें भारत लौट सकते हैं.

 

छोटा शकील ने एबीपी न्यूज़ पर कहा, “हम तो उसे बैंकॉक में मारने वाले थे, लेकिन हम थोड़े लेट हो गए और वो वहां से निकल गया. उसको तो हमे मारना ही था. लेकिन क्रिकेट से मेरा कोई लेना देना नहीं है, वो दूसरा मामला था. क्रिकेट की वजह से मारना होता तो हम उसे उसी वक्त मार देते जब वो मुंबई में घूमता रहता था. वो हमार बिजनेस का मामला था जिसमें हमें ललित मोदी से 1000 करोड़ रूपया लेना था. हालांकि शकील ने नहीं बताया कि वो मामला क्या था.”

 

जब छोटा शकील ने कहा गया कि ललित मोदी लंदन में पुलिस से सुरक्षा मांग रहे हैं? इस पर छोटा शकील ने कहा, “उन्होंने हमारा पैसा दे दिया, अब वो घूम फिर सकते हैं. अब वो इंडिया आ जाएं जो करना है करें. वो हमारे नाम का आसरा ले रहे हैं. उन्हें डी कंपनी के नाम का आसरा रहा है. जिसे अच्छा करना है वो भी हमारा नाम लेता है. जिसे बुरा करना है वो भी हमारा नाम लेता है.”

 

एबीपी न्यूज से बातचीत करते हुए छोटा शकील ने कहा कि जब भी नई सरकार आती है दाऊद को भारत लाने की बात करती है.

 

छोटा शकील ने ये भी दावा किया है कि 1993 में दाऊद खुद भारत आना चाहता था लेकिन उस समय शरद पवार और आडवाणी ने अडंगा लगा दिया था.

 

एबीपी न्यूज़ से शकील ने कहा, “जब हमें आना था तो उन्होंने मना कर दिया. उस समय सिंपल सी  बात थी कि आप फेयर केस चलाएं और देखें हम इसमें शामिल हैं या नहीं. उससे ज्यादा इसके अंदर कोई प्वाइंट नहीं था. ईमानदारी से आप केस ऑन करें, ट्रायल करें. उसमें लगता है तो आप हमें सजा दें. 1993 से कोई मामला नहीं था. 1993 के बाद इन्होंने इतना बड़ा केस डाल दिया सिर पर. जब हम बात कर रहे हैं कि हम हाजिर होना चाह रहे हैं इसको ट्रायल करें. तो आप एक बार जेल में डालेंगे, ट्रायल करेंगे और जबरदस्ती केस ठोकेंगे.”

 

छोटा राजन को मारने ऑस्ट्रेलिया गए थे? इस सवाल पर छोटा शकील ने कहा, “बिल्कुल मारने गए थे.” छोटा शकील ने एबीपी न्यूज़ से बातचीत में माना है कि उसने छोटा राजन को ऑस्ट्रेलिया में मारने का प्लान बनाया था लेकिन उससे पहले ही वो भाग निकला. दाऊद के करीबी छोटा शकील ने राजन के एक सहयोगी से मदद लेकर उसे ऑस्ट्रेलिया में मारने की साजिश रची थी लेकिन ऐन वक्त पर राजन को दाऊद के प्लान का पता लग गया और वह वहां से गायब हो गया.

 

छोटा शकीन ने एबीपी न्यूज़ पर कहा कि 6 साल हो गए डी कंपनी ने मुंबई में एक गोली नहीं चलाई है.

 

आपके नाम पर तो कई बार फायरिंग हुई है… इस सवाल पर छोटा शकील ने कहा- वो उनसे भी जाकर पूछ लो. हम आज भी कायम हैं अपनी जबान पर. आप जाकर पूछोगे तो वे कहेंगे कि हमारी ज़बान पर इसने जबान रखी है.” हालांकि जब ये पूछा गया कि किससे 6 साल से वादा किया है इस पर छोटा शकील ने कहा कि ये सबको पता  है.

ABP News Exclusive: छोटा शकील ने कहा- ललित मोदी को अब कोई खतरा नहीं 

डॉन को जवाब देगी सरकार?

क्या डॉन दाऊद इब्राहिम को पकड़ना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है. या फिर…दाऊद खुद पकड़ में आना चाहता है लेकिन सरकार उसे पकड़ना ही नहीं चाहती?सवाल जितना उलझा हुआ है, जवाब उससे भी ज्यादा मुश्किल. और ये सवाल उठाने वाला भी कौन? छोटा शकील ने कहा है, “भारत में जब भी नई सरकार आती है, वो पहला बयान हमारे बारे में देती है. दाऊद को ले के आएंगे, घुस के ले आएंगे. दाऊद कोई हलवा या बकरी का बच्चा है क्या ?

आपको याद होगा कि लोकसभा चुनाव के वक्त पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा था कि दाऊद को वापस लाने जैसे ऑपरेशन प्रेस रिलीज जारी करके नहीं किए जाते. अमेरिका ने पाकिस्तान में लादेन के खिलाफ कार्रवाई प्रेस रिलीज जारी करके नहीं की थी. पीएम के इसी बयान पर निशाना साधते हुए छोटा शकील ने दाऊद को पकड़ने की चुनौती दी है.

 

वरिष्ठ वकील रामजेठमलानी ने कहा कि दाऊद सरेंडर करना चाहता था लेकिन उसकी शर्त थी कि पुलिस उसे थर्ड डिग्री का टॉर्चर ना दे. जेठमलानी का कहना है कि तब उन्होंने ये बात शरद पवार को बताई थी.

 

दाउद के आत्मसमर्पण की पेशकश सशर्त थी इसलिए खारिज कर दिया: पवार

एनसीपी नेता और महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री शरद पवार ने आज कहा कि वरिष्ठ वकील राजजेठमलानी ने अंडरवर्ल्ड डॉन दाउद इब्राहिम के आत्मसमर्पण की इच्छा को लेकर उनसे संपर्क किया था लेकिन इसके लिए रखी गई शर्तें राज्य सरकार को स्वीकार्य नहीं थीं. यह पेशकश 1990 के दशक में पवार के मुख्यमंत्री पद के कार्यकाल के दौरान की गई थी.

 

पवार ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘यह सच है कि रामजेठमलानी ने दाउद के लौटने की इच्छा के बारे में प्रस्ताव दिया था. लेकिन शर्त थी कि दाउद को जेल में नहीं रखा जाएगा बल्कि उसे घर में रहने की अनुमति दी जाएगी. यह स्वीकार्य नहीं था. हमने कहा कि उसे कानून का सामना करना होगा.’’

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Dawood Ibrahim_underworld don Chhota Shakeel
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

डोकलाम के बाद उत्तराखंड के बाराहोती बॉर्डर पर चीन की अकड़, चरवाहों के टेंट फाड़े
डोकलाम के बाद उत्तराखंड के बाराहोती बॉर्डर पर चीन की अकड़, चरवाहों के टेंट...

नई दिल्ली: डोकलाम विवाद पर भारत और चीन के बीच तनातनी जगजाहिर है. इस बीच उत्तराखंड के बाराहोती...

एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें
एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें

1. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मिशन 2019 की तैयारियां शुरू कर दी हैं और आज इसको लेकर...

20 महीने पहले ही 2019 के लिए अमित शाह ने रचा 'चक्रव्यूह', 360+ सीटें जीतने का लक्ष्य
20 महीने पहले ही 2019 के लिए अमित शाह ने रचा 'चक्रव्यूह', 360+ सीटें जीतने का लक्ष्य

नई दिल्ली: मिशन-2019 को लेकर बीजेपी में अभी से बैठकों का दौर शुरू हो गया है. बीजेपी के राष्ट्रीय...

अगर लाउडस्पीकर पर बैन लगना है तो सभी धार्मिक जगहों पर लगे: सीएम योगी
अगर लाउडस्पीकर पर बैन लगना है तो सभी धार्मिक जगहों पर लगे: सीएम योगी

लखनऊ: कांवड़ यात्रा के दौरान संगीत के शोर को लेकर हुई शिकायतों पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ...

मालेगांव ब्लास्ट मामला: सुप्रीम कोर्ट ने श्रीकांत पुरोहित की ज़मानत याचिका पर फैसला सुरक्षित रखा
मालेगांव ब्लास्ट मामला: सुप्रीम कोर्ट ने श्रीकांत पुरोहित की ज़मानत याचिका...

नई दिल्ली: 2008 मालेगांव ब्लास्ट के आरोपी प्रसाद श्रीकांत पुरोहित की ज़मानत याचिका पर सुप्रीम...

'आयरन लेडी' इरोम शर्मिला ने ब्रिटिश नागरिक डेसमंड कॉटिन्हो से रचाई शादी
'आयरन लेडी' इरोम शर्मिला ने ब्रिटिश नागरिक डेसमंड कॉटिन्हो से रचाई शादी

नई दिल्ली: नागरिक अधिकार कार्यकर्ता इरोम शार्मिला और उनके लंबे समय से साथी रहे ब्रिटिश नागरिक...

अब तक 113: मुंबई एनकाउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा खाकी में लौटे
अब तक 113: मुंबई एनकाउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा खाकी में लौटे

 मुंबई: मुंबई पुलिस के मशहूर एनकाउंटर स्पेशलिस्ट पुलिस अधिकारी प्रदीप शर्मा को महाराष्ट्र...

RSS ने तब तक तिरंगे को नहीं अपनाया, जब तक सत्ता नहीं मिली: राहुल गांधी
RSS ने तब तक तिरंगे को नहीं अपनाया, जब तक सत्ता नहीं मिली: राहुल गांधी

आरएसएस की देशभक्ति पर कड़ा हमला करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि इस संगठन ने तब तक तिरंगे को नहीं...

चीन की खूनी साजिश: तिब्बत में शिफ्ट किए गए ‘ब्लड बैंक’
चीन की खूनी साजिश: तिब्बत में शिफ्ट किए गए ‘ब्लड बैंक’

नई दिल्ली: डोकलाम विवाद पर भारत और चीन के बीच तनातनी बढ़ती जा रही है. चीन ने अब भारत के खिलाफ खूनी...

सृजन घोटाला: लालू का नीतीश पर वार, बोले 'बचने के लिए BJP की शरण में गए'
सृजन घोटाला: लालू का नीतीश पर वार, बोले 'बचने के लिए BJP की शरण में गए'

पटना: सृजन घोटाले को लेकर बिहार की राजनीति में संग्राम छिड़ गया है. आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017