जानें यूएस-भारत के बीच क्या हुए समझौते?

By: | Last Updated: Sunday, 25 January 2015 5:08 PM
deal with america

नई दिल्ली: अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा से बातचीत के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज कहा कि छह साल पहले हुए असैन्य परमाणु करार को लेकर अब दोनों अपने कानून, अपनी अतंरराष्ट्रीय जवाबदेही तथा तकनीकी एवं वाणिज्यिक व्यवहार्यता के अनुरूप वाणिज्यिक सहयोग की दिशा में बढ़ रहे हैं, साथ ही दोनों देश आतंकवाद से लड़ने के लिए व्यापक वैश्विक रणनीति एवं दृष्टिकोण की जरूरत पर सहमत हुए हैं.

 

दोनों देशों के राष्ट्राध्यक्षों के बीच हॉट लाइन बनाने पर सहमति बनी है. भारत और किसी दूसरे देश के राष्ट्राध्यक्ष के बीच हॉटलाइन बनने का यह पहला मामला है. इसके अलावा रक्षा, जलवायु परिवर्तन और व्यापार के मुद्दों पर दोनों देश आपसी सहयोग पर राजी हुए हैं. डिफेंस सेक्टर में रिश्तों को नई ऊंचाई पर ले जाने और भारतीय रक्षा उद्योग को बेहतर करने से जुड़े समझौते भी शामिल हैं.

 

यूएस और भारत के बीच समझौतों के अहम बिंदु

परमाणु करार के अमल की बाधा दूर हो गई है. हादसे के हालात में चार कंपनियां 750 करोड़ का इंश्योरेंस देंगी बाकी का भार भारत सरकार उठाएगी.

इंश्योरेंस पूल बनाएं जाएंगे, जिसमें चार बड़ी बीमा कंपनियां शामिल होंगी.

ओबामा ने आईएमएफ में भारत की भूमिका बढ़ाने का समर्थन दोहराया 

3 स्मार्ट सिटी पर करार हुआ, विशाखापट्टनम, इलाहाबाद, अजमेर में अमेरिकी मदद से स्मार्ट सिटी

 

पीएम मोदी-ओबामा और दोनों देशों के एनएसए (राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों) के बीच बनेगी हॉटलाइन

विज्ञान, तकनीक, इनोवेशन, कृषि, स्वास्थ्य, शिक्षा और स्कील्स मसले पर दोनों देश करेंगे सहयोग

आतंकवाद के मुद्दे पर दोनों देश मिलकर काम करेंगे.

दोनों देशों के बीच आपसी व्यापार में आएगी तेजी, ओबामा ने कहा कि पिछले सालों में बाइलेट्रल ट्रेड 60 फीसदी बढ़ा है, नई ऊंचाई पर ले जाने पर सहमति.

डिजिटल इंडिया पर भारत का सहयोग करेगा अमेरिका. डिफेंस ट्रेड और टेक्नालॉजी इनिसिएटिव (डीटीटीआई) को डिफेंस पॉलिसी ग्रूप के तहत बढ़ाया जाएगा

 

मोदी ने कहा, भारत किसी के दबाव में नहीं

जलवायु परिवर्तन पर पूछे गए सवाल के जवाब में मोदी ने कहा कि चीन और रूस के जलवायु परिवर्तन समझौता होने से हम पर कोई दबाव नहीं है. मोदी ने कहा,’भारत पर किसी देश या व्यक्ति का दबाव नहीं है. लेकिन हम पर दबाव इस बात को लेकर है कि हम अपनी आने वाली पीढ़ियों को क्या देंगे. ग्लोबल वार्मिंग पर हमारा रूख क्या होगा. इसलिए हम ग्लोबल वार्मिंग मसले पर विश्व के साथ मिलकर काम करेंगे.’

यह भी पढ़ें-

 

एबीपी न्यूज विशेष : दो चेहरों की एक कहानी! 

गांधी की आत्मा भारत में आज भी जिंदा, ये दुनिया को बड़ा तोहफा: ओबामा 

छह साल पुराने परमाणु करार को आगे बढ़ाने पर भारत अमेरिका सहमत अध्यादेश का रास्ता लोगों का ‘‘भरोसा तोड़ता’’ है: राष्ट्रपति

 चाय के बहाने मोदी ने साधे कई निशाने

ओबामा के भारत दौरे पर पूजा ने रचा इतिहास

एबीपी न्यूज के सवाल पर मोदी ने कहा, ‘परदे में रहने दो’

मोदी-ओबामा की मन की बात 27 जनवरी को रात आठ बजे प्रसारित होगी 

ओबामा के भारत दौरे का ब्लू-प्रिंट 

एबीपी न्यूज विशेष : दो चेहरों की एक कहानी!  

बराक ओबामा की भारत यात्रा से जुड़ीं 10 मुख्य बातें 

पाकिस्तान में आतंकवाद की सुरक्षित पनाहगाह मंजूर नहीं : ओबामा 

बराक ओबामा का आगरा दौरा रद्द 

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: deal with america
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Barack Obama Obama obama in india
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017