आईएएस डी के रवि की संदिग्ध मौत में बिल्डर लॉबी पर शक

By: | Last Updated: Wednesday, 18 March 2015 2:34 AM

नई दिल्ली: बैंगलूरु में IAS डी के रवि की संदिग्ध मौत के बाद उनकी मौत के पीछे बिल्डर लॉबी पर शक जताया जा रहा है. डीके रवि की मौत को लेकर समाजसेवी गणेश कोंडालिया ने दावा किया है कि डीके रवि टैक्स चोरी का पर्दाफाश करने के लिए कुछ बड़े बिल्डर्स के यहां छापा मारने वाले थे.

 

डी के रवि ने अक्तूबर में एडिशनल कमिश्नर ऑफ कमर्शियल टैक्स के तौर पर कार्यभार संभालने के बाद हाउसिंग सोसायटी से लगभग 400 करोड़ रुपये का टैक्स जुटाया था. डी के रवि की मौत के बाद समाजसेवी गणेश कोंडलिया ने सक जताया है कि जताया कि उनकी मौत के पीछे बिल्डर लॉबबी का हाथ हो सकता है.

 

गणेश कोंडलिया ने कहा, ‘डी  रवि उन सभी लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने जा रहे थे जो टैक्स चोरी कर रहे हैं. कई नाम इसमें शामिल हैं. हम कई बिल्डरों और डेवलपर्स की बात करते रहे हैं इन लोगों की हिम्मत इतनी क्यों बढ़ गई है और ऐसा क्यों हुआ? क्योंकि ये सब टैक्स चोरी में शामिल हैं. आप इनसे कैसी उम्मीद रखेंगे. ये एक बड़ी लॉबी हो सकती है. बेंगलूरु में आज जमीन माफिया काफी बड़ा है.’

क्या है पूरा मामला

सोमवार को बेंगलूरु के घर में आईएएस अधिकारी डी के रवि की संदिग्ध हालात में मौत हो गई थी, उनका शव घर में लटका मिला था, पुलिस ने खुदकुशी का शक जताया है.

 

मंगलवार को कोलार में आईएएस डीके रवि के पैतृक गांव कुनिगल में उनका अंतिम संस्कार किया गया, IAS की संदिग्ध मौत को लेकर पूरे कर्नाटक में आम लोगों के बीच काफी गुस्सा है

 

सीआईडी जांच के आदेश

 

बेंगलूरु में आईएएस डी के रवि की संदिग्ध मौत की जांच कर्नाटक सरकार ने सीआईडी से कराने के आदेश दिए हैं. कर्नाटक सरकार ने सीबीआई जांच की मांग ठुकरा दी है.

 

यह भी पढ़ें

ईमानदारी के लिए मशहूर IAS की संदिग्ध हालात में मौत 

 

 

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Deceased officer was planning raids on big developers: RTI
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017