Delay in ATMs' recalibration for Rs 200 notes led to cash crunch RBI का बयान, ATM में 200 के नोट की ट्रे लगाने में देरी से हुई कैश की किल्लत

RBI का बयान, ATM में 200 के नोट की ट्रे लगाने में देरी से हुई कैश की किल्लत

रिजर्व बैंक ने कहा कि देश के कुछ हिस्सों में नकदी संकट की एक वजह एटीएम को तेजी से भरने में लॉजिस्टिक की समस्या है.

By: | Updated: 17 Apr 2018 11:16 PM
Delay in ATMs' recalibration for Rs 200 notes led to cash crunch Says RBI
नई दिल्ली: देश के दस राज्यों में कैश की किल्लत को लेकर रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने वजह बताई है. आरबीआई ने कहा है कि एटीएम में दो सौ रुपए के नोट की ट्रे लगाने में देरी से कैश की किल्लत हुई है. रिजर्व बैंक की तरफ से दो सौ रुपये का नोट पेश किए जाने के बाद एटीएम को इसके अनुकूल बनाने का फैसला किया गया है.

सूत्रों ने बताया कि यह अभियान तुरंत शुरू हो गया, लेकिन देश के कुछ हिस्सों में इसमें देरी हुई. रिजर्व बैंक ने कहा कि देश के कुछ हिस्सों में नकदी संकट की एक वजह एटीएम को तेजी से भरने में लॉजिस्टिक की समस्या है. साथ ही एटीएम को नए जारी नोट के अनुकूल बनाने का काम भी चल रहा है.

इस बीच पिछले कुछ दिन से दो हजार रुपए के नोट की छपाई भी रुकी हुई है. वहीं, आर्थिक मामलों के सचिव एस सी गर्ग ने कहा कि दो हजार के नोट की और आपूर्ति करने की जरूरत नहीं है, क्योंकि यह पहले से ही अत्यधिक आपूर्ति की स्थिति में है.

पांच गुना बढ़ जाएगी 500 रुपये के नोटों की छपाई

बता दें कि सरकार ने आज माना कि बाजार में दो हजार रुपये के नोटों की ताजा सप्लाई रोक दी गयी है, क्योंकि बाजार में पर्याप्त मात्रा में ये नोट मौजूद हैं. दूसरी ओर सरकार ने ये भरोसा जताया कि जल्द ही 500 रुपये के नोटों की छपाई पांच गुना बढ़ जाएगी. बिहार, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश समेत कुछ राज्यों में एटीएम खाली पड़े हैं और नोटबंदी के बाद जैसी स्थिति है जब ना तो एटीएम से और ना ही शाखाओं से जरुरत के मुताबिक नकदी मिल पाती है.

क्यों हो रही है कैश की दिक्कत?

एसबीआई के मुताबिक, ग्राहक बैंक में नकद कम जमा कर रहे हैं और आरबीआई बैंकों की मांग के मुताबिक नकद जारी नहीं कर रहा है. आपको बता दें कि सूत्रों के मुताबिक एसबीआई के बिहार में 1100 एटीएम हैं. 1100 एटीएम में रोजाना 250 करोड़ रुपये की जरूरत है. लेकिन अभी 125 करोड़ रुपये यानी आधा पैसा ही मिलता है. पटना में सिर्फ सरकारी बैंकों में ही नहीं प्राइवेट बैंकों के एटीम में भी कैश की किल्लत है.

यह भी पढ़ें-

कैश की किल्लत: बिहार के डिप्टी सीएम सुशील मोदी बोले- ‘होने ही नहीं चाहिए दो हजार के नोट’

कैश की किल्लत: सरकार के दावों पर उठ रहे हैं ये चार बड़े सवाल

दो हजार के नोट की सप्लाई बंद, 500 के नोट पांच गुना ज्यादा छपेंगे

A To Z: कैश का संकट आखिर है क्या और सरकार क्या कर रही है?

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Delay in ATMs' recalibration for Rs 200 notes led to cash crunch Says RBI
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story बिहार विधान परिषद चुनाव: नीतीश कुमार, सुशील मोदी, राबड़ी देवी सहित 11 निर्विरोध निर्वाचित