400% बढ़ोतरी के बाद दिल्ली के विधायकों को मिलेगी प्रधानमंत्री से ज्यादा सैलरी

By: | Last Updated: Friday, 4 December 2015 7:20 AM
Delhi assembly mlas will get salary more than pm

नई दिल्ली: दिल्ली में विधायकों  को अब प्रधानमंत्री से भी ज्यादा वेतन मिलेगा. दिल्ली विधानसभा के विधायकों की तनख्वाह अब पहले के मुकाबले चार गुना हो जाएगी.

 

प्रधानमंत्री का मासिक वेतन जहां डेढ़ लाख रुपये है तो वहीं अब आम  दिल्ली के विधायकों करीब ढ़ाई लाख रुपये महीने सैलरी मिलेगी. दिल्ली विधानसभा ने विधायकों और मंत्रियों का वेतन बढ़ाने के विधेयक को गुरुवार को जूरी दी गई है. 400 फीसदी की इस बढ़ोतरी के बाद दिल्ली के विधायक देश के सबसे महंगे जनसेवक बन जाएंगे.

 

जरा जानिए पहले के मुकाबले कैसे ज्यादा अमीर हो जाएंगे दिल्ली के एमएलए.

 

अब तक एक विधायक की मासिक तनख्वाह 12000 रुपये थी जो अब बढ़कर 50 हजार रुपये हो जाएगी, वाहन भत्ता अब 6 हजार की जगह 30 हजार रुपये कर दिया गया है.

 

अब तक दफ्तर के लिए कोई पैसा नहीं मिलता था लेकिन अब दफ्तर के किराए के नाम पर भी 25 हजार रुपये हर महीने मिलेंगे.

 

सेक्रेटरी के लिए 30 हजार की बजाए 70 हजार रुपये और फोन का खर्च 8000 की बजाए 10 हजार रुपये हो गया है. यानी हर महीने दिल्ली के हर विधायक को 56 हजार की बजाए 1 लाख 85 हजार रुपये मिलेंगे यानी तीन गुने से ज्यादा.

 

बात यहीं खत्म नहीं होती, सालाना भत्तों का भी हिसाब जानिए.

 

WATCH: केजरीवाल के विधायक हुए अमीर

 

कान्स्टीट्वेंसी एलाउंस 18000 से बढ़कर 50 हजार हो जाएगा, देश विदेश घूमने के लिए 50 हजार की बजाए 3 लाख रुपये. दफ्तर के फर्नीचर के लिए 1 लाख रुपये और दफ्तर में कंप्यूटर फोन और एसी के लिए 60 हजार रुपये का भत्ता हो गया है. निजी इस्तेमाल वाले गजेट्स के लिए 1 लाख रुपये अलग से मिलेंगे.

 

सालाना भत्तों का हिसाब भी जोड़ दें तो 2 लाख 35 हजार से ज्यादा होगी दिल्ली के हर विधायक की तनख्वाह.

दिल्ली विधानसभा के विधायकों को पूरे कार्यकाल में गाड़ी के लिए अब 4 लाख की बजाए 12 लाख रुपये का लोन भी मिलेगा और हर बैठक के लिए 2 हजार रुपये का भत्ता भी. नए वेतन विधेयक के पास हो जाने के बाद मंत्रियों की तनख्वाह में तो इससे भी ज्यादा बढ़ोत्तरी होने जा रही है.

 

नए वेतन विधेयक के पास होने के बाद बाकी सभी मदों में तो विधायक जितने ही पैसे बढ़ेंगे लेकिन अब विधायकों के मुकाबले मंत्रियों को सेक्रेटरी के मद में 40 हजार रुपये ज्यादा मिलेंगे. यानी दिल्ली सरकार के मंत्रियों की तनख्वाह अब 2 लाख 75 हजार हो जाएगी.

 

दिल्ली विधानसभा आप सरकार की ओर से पेश किए गए वेतन बढ़ाने वाले विधेयक का बीजेपी विरोध कर रही है. आज बीजेपी ने सदन से वॉकआउट भी किया.

 

बीजेपी के विधायकों के बिना नया वेतन विधेयक पारित हो गया है. नए वेतन विधेयक के लागू होने के बाद दिल्ली के विधायकों और मंत्रियों के वेतन में हर साल 10 फीसदी बढ़ोतरी का प्रावधान भी किया गया है.

 

सांसदों से भी ज्यादा सैलरी

 

इस हिसाब से देखें तो दिल्ली के विधायक अब देश के सांसदों से ज्यादा वेतन पाएंगे.

 

सांसदों को हर महीने तनख्वाह और भत्ते मिलाकर कुल 1 लाख 55 हजार रुपये मिलते हैं, जब कि दिल्ली के विधायकों को हर महीने वेतन और भत्ते मिलाकर मिलेंगे 1 लाख 85 हजार रुपये. तो हो गए ना सबसे महंगे जनसेवक.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Delhi assembly mlas will get salary more than pm
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017