अगले महीने से बस्ते का बोझ हो जाएगा कम

By: | Last Updated: Saturday, 5 September 2015 1:59 PM
Delhi Government

प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली: अगले महीने से दिल्ली में 8वीं तक के बच्चों के बस्तों को बोझ कम होने जा रहा है. दिल्ली सरकार ने सरकारी स्कूलों में 8वीं तक के पाठ्यक्रम में 25 फीसदी कटौती करने की तैयारी पूरी कर ली है. इसे अगले महीने यानी अक्टूबर से लागू कर दिया जाएगा.

 

दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने आज इसकी घोषणा की. उन्होंने कहा कि हमने बच्चों के बस्तों का बोझ कम करने की बात कही थी. शिक्षा विभाग ने पहले 8वीं कक्षा तक के पाठ्यक्रम में 25 फीसदी कमी करने की दिशा में काम शुरू किया. विभाग ने अनेक शिक्षाविदों, अध्यापकों, अभिभावकों और अन्य विशेषज्ञों के साथ मिलकर इसकी रूपरेखा तैयार कर ली है. अगले महीने से हम इसे सरकारी स्कूलों में लागू कर देंगे.

 

मनीष सिसोदिया ने कहा कि बच्चों का बचपन बस्तों के बोझ के नीचे दबा जा रहा है. इस विषय पर देश भर में काफी दिन से चर्चा हो रही थी. दिल्ली में हम इस बोझ को कम करने जा रहे हैं.

 

शिक्षा मंत्री ने ये भी कहा कि इस बात पर भी चर्चा हुई कि शिक्षा सत्र के बीच में क्या ये फैसला लागू करना ठीक है, तो इस पर आम सहमति बनी कि चूंकि पाठ्यक्रम में कटौती की जानी है इसलिए ऐसा आसानी से किया जा सकता है. उन्होंने कहा कि पाठ्यक्रम में कुछ ऐसे विषय हैं जिनकी अब कोई प्रासंगिकता नहीं है, इसलिए बच्चों को अनावश्यक रूप से उन्हें पढ़ाए जाने का कोई मतलब नहीं है.

 

साथ ही बच्चों के संपूर्ण विकास के लिए जरूरी है कि खेल, कला, साहित्य, संगीत, थियेटर जैसी विधाओं में भी उसकी भागीदारी बढ़े. लेकिन भारी-भरकम पाठ्यक्रम के कारण बच्चों को इसके लिए समय नहीं मिल पाता.

 

शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने बताया कि उनकी सरकार अगले सत्र से 9वीं से 12वीं तक के पाठ्यक्रम में भी 25 फीसदी की कमी करने की तैयारी कर रही है. इसकी जगह स्किल डेवलपमेंट, थियेटर, कला, संगीत, खेलकूद आदि को पाठ्यक्रम का हिस्सा बना दिया जाएगा. शिक्षा विभाग इस दिशा में काम कर रहा है.

पूर्व राष्ट्रपति स्वर्गीय डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम के साथ अपनी एक मुलाकात के दौरान उनके सुझाव का जिक्र करते हुए शिक्षा मंत्री ने कहा कि कलाम साहब ने कहा था कि स्कूली परीक्षा उत्तीर्ण होने के बाद बच्चों को दो सर्टिफिकेट दिये जाने चाहिए. पहला शैक्षिक योग्यता का और दूसरा कौशल विकास से जुड़ी योग्यता का. इससे बच्चों को 12वीं के बाद ही अच्छे रोजगार के अवसर भी मिलेंगे और वे आगे की पढ़ाई भी सकेंगे.

 

सिसोदिया ने कहा कि सरकार कलाम साहब के इन सुझावों के दिशा में पहले से ही काम कर रही है. इसी क्रम में अगले साल 12वीं तक के पाठ्यक्रम में एक चौथाई कटौती करके स्किल डेवलपमेंट को बढ़ावा दिया जाएगा.

 

सरकार के फैसले की बड़ी बातें-

 

–    8वीं तक के पाठ्यक्रम में 25 फीसदी कटौती की तैयारी पूरी

–    दिल्ली के सरकारी स्कूलों में अक्टूबर से लागू हो जाएगा ये फैसला

–    खेल, थियेटर, कला, संस्कृति, संगीत आदि को मिलेगा बढ़ावा

–    अगले साल 12वीं तक के पाठ्यक्रम को एक चौथाई कम करने की तैयारी.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Delhi Government
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: delhi government Manish Sisodia student
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017