दिल्ली सरकार ने खुले में कूडा-करकट जलाने के विरूद्ध रूख कड़ा किया

By: | Last Updated: Friday, 5 June 2015 2:21 PM

नई दिल्ली: खुले में कूड़ा-करकट जलाने के विरूद्ध अपना रूख कड़ा करते हुए दिल्ली सरकार ने अपने राजस्व विभाग के अधिकारियों को उल्लंघनकर्ताओं पर शिकंजा कसने का अधिकार देने का निर्णय लिया है. कुछ महीने पहले बढ़ते प्रदूषण पर अंकुश लगाने के लिए एसडीएम को ऐसे ही अधिकार दिए गए थे.

 

दिल्ली के पर्यावरण मंत्री असीम अहमद खान ने विश्व पर्यावरण दिवस पर इस आशय की घोषणा की और राजधानी की खतरनाक वायु गुणवत्ता में सुधार के लिए आम आदमी पार्टी (आप) द्वारा उठाए गए कदम गिनाए.

 

यहां दिल्ली पर्यावरण सम्मेलन के अवसर पर उन्होंने पिछली सरकारों पर प्रदूषण की समस्या से निबटने में पूरी विफल रहने का आरोप लगाया और कहा कि दिल्ली सरकार कागजों के बजाय जमीनी स्तर पर काम करने पर अधिक बल दे रही है.

 

खान ने कहा, ‘‘खुले में कूडा करकट एवं सूखे पत्तों को जलाने पर राष्ट्रीय हरित अधिकरण के रोक के आदेश के मुताबिक हम राजस्व विभागों के तहसीलदारों को उल्लंघनकर्ताओं के विरूद्ध कार्रवाई करने के लिए अधिकारसंपन्न बना रहे हैं. ’’ पहले आप सरकार ने सभी उपसंभागीय जिलाधिकारियों से कूड़ा, प्लास्टिक और पत्ते खुले में जलाने पर कार्रवाई करने को कहा था.

 

खान ने कहा, ‘‘प्रदूषण से निबटना केवल दिल्ली की जिम्मेदारी नहीं है. यही वजह है कि हमने केंद्र एवं एनसीआर के अन्य राज्यों से भी बातचीत की है. हमारी पहले ही दो दौर की बातचीत हो चुकी है. ’’

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: delhi government
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017