Delhi HC stays suspension of St. Stephen's student

Delhi HC stays suspension of St. Stephen's student

By: | Updated: 17 Apr 2015 11:56 AM

नई दिल्ली: सेंट स्टीफेंस कॉलेज के निलंबित छात्र देवांश मेहता के निलंबन पर दिल्ली हाई कोर्ट ने लगाई रोक. हालांकि कोर्ट ने कल होने वाले अवार्ड फंक्शन पर तो रोक नहीं लगायी पर यह भी साफ़ कर दिया है की जिस केटेगरी में देवांश को अवार्ड देने के लिए नामित किया गया है उस केटेगरी में किसी और छात्र को अवार्ड नहीं दिया जाएगा.

 

हाईकोर्ट ने इसके साथ ही दिल्ली यूनिवर्सिटी और सेंट स्टीफेंस कॉलेज को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है.

 

हाईकोर्ट में सुनवाई के दौरान देवांश की तरफ से कोर्ट को बताया गया कि कॉलेज ने देवांश को सिर्फ इस वजह से निलंबित कर दिया क्योंकि देवांश ने कॉलेज से जुडी ई मैगज़ीन निकाली थी, उस मैगज़ीन के लिए कॉलेज के प्रिंसिपल वालसन थंपु का इंटरव्यू भी किया था. थंपु ने कहा था कि इंटरव्यू दिखा कर छापना लिहाज़ा उनको छापने से पहले इंटरव्यू की कॉपी भी भेजी गई लेकिन कई घंटे बाद भी उनका उसपर कोई जवाब नहीं आया जिसके बाद वह इंटरव्यू जस का तस छापा गया.

 

थंपु को ये बात नागवार गुज़री और उन्होंने देवांश के खिलाफ एक सदस्यीय कमेटी का गठन कर दिया. कमेटी ने अपनी रिपोर्ट में देवांश को दोषी करार दिया. देवांश ने इसके खिलाफ अपनी बात मीडिया के सामने रखी जिसके बाद कॉलेज ने देवांश के खिलाफ अनुशासनात्मक करवाई का हवाला देते हुए उन्हें कॉलेज से निलंबित कर दिया.

 

मामले पर सुनवाई के दौरान दिल्ली यूनिवर्सिटी के वक़ील ने दलील देते हुए कहा कि इस मामले में देवांश दोषी हैं और उनको कोई राहत नहीं दी जानी चाहिए क्योंकि उन्होंने कॉलेज के अनुशाशन को तोड़ा है, लेकिन कोर्ट ने यूनिवर्सिटी के वक़ील की एक बात नहीं मानी.

 

मामले की सुनवाई के बाद हाईकोर्ट ने साफ़ कर दिया कि देवांश के निलंबन पर अगली सुनवाई यानी की 21 मई तक रोक लगाईं जा रही है और इस बीच उस अवार्ड को भी किसी और को नहीं दिया जाएगा जिसके लिए देवांश को नामित किया गया था.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story मुंबई: डॉक्टरों की निगरानी में हैं गोवा के सीएम पर्रिकर, हालत सामान्य