दिल्ली पुलिस की सालाना रिपोर्ट, पिछले साल के मुकाबले 12% बढ़ा क्राइम ग्राफ

दिल्ली पुलिस की सालाना रिपोर्ट, पिछले साल के मुकाबले 12% बढ़ा क्राइम ग्राफ

आंकड़ों के मुताबिक पिछले साल महिलाओं से अपराध में मामूली कमी दर्ज की गई. साथ ही रेप के मामले घटे और करीब 2049 रेप के केस दर्ज किए गए.

By: | Updated: 11 Jan 2018 07:38 PM
delhi police annual press conference

नई दिल्ली: दिल्ली में साल 2016 की तुलना में 2017 के दौरान अपराध में 12 फीसदी का इजाफा हुआ है. क्राइम ग्राफ के आंकड़ों में ये बढ़ोतरी वाहन चोरी और दूसरी चोरियों की ऑनलाइन एफआईआर के ट्रेंड की वजह हुई. हाई कोर्ट के आदेश के बाद बच्चों की गुमशुदगी भी ऑनलाइन ही दर्ज कराई गई. ये जानकारी दिल्ली पुलिस ने आज अपनी सालाना प्रेस कॉन्फ्रेंस में दी.


दिल्ली पुलिस के मुताबिक राजधानी में रेप के मामलों में कमी आयी है. आंकड़ों के मुताबिक पिछले साल महिलाओं से अपराध में मामूली कमी दर्ज की गई. साथ ही रेप के मामले घटे और करीब 2049 रेप के केस दर्ज किए गए. पुलिस के मुताबिक 38 फीसदी मामलों में रेप करने वाले करीबी ही निकले.


दिल्ली पुलिस की प्रेस कॉन्फ्रेंस की खास बातें




  • एक्साइज केस में इजाफा और 2753 लोगों को साल 2017 में गिरफ्तार किया गया.

  • मादक पदार्थ की तस्करी में 25 फीसदी ज्यादा गिरफ्तारी वर्ष 2017 में हुई है और एनडीपीएस एक्ट के तहत 491 लोगों को गिरफ्तार किया गया.

  • हथियारों के साथ साल 2017 में 1141 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया तो वहीं साल 2016 में 745 लोग गिरफ्तार हुए थे.

  • आर्म्स एक्ट के 957 मामले दर्ज, 1141 गिरफ्तारी और 1108 हथियार पकड़े गए.

  • अपराध में 912 कई जगह 854 वारदातों में ही हथियार का इस्तेमाल हुआ.

  • गंभीर अपराधों में 23 फीसदी की कमी आयी.

  • वर्ष 2017 में 8 फीसदी ज्यादा मामले सुलझाने में पुलिस को कामयाबी मिली

  • हत्या के पीछे सबसे बड़ी वजह दुश्मनी, 46 फीसदी.

  • मामूली कहासुनी के चलते 18 फीसदी हत्या

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: delhi police annual press conference
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story चीन दौरे पर दो दिनों में कई बार मिलेंगे पीएम मोदी और शी जिनपिंग, ऐसा रहेगा कार्यक्रम