सेना के हथियार पर थी ना'पाक' जासूसों की नजर, 1 लाख मिलती थी सैलरी

By: | Last Updated: Monday, 30 November 2015 6:53 AM
Delhi Police busts espionage racket, arrests BSF head constable, ISI operative

नई दिल्ली : पाकिस्तान के लिए काम कर रहे आईएसआई के कथित जासूसों के बारे में खुलासा हुआ है. दिल्ली पुलिस का दावा है कि ये दोनों झांसी के हथियार डिपो में सेंध लगाने वाले थे. इसके लिए इन्होंने काफी तैयारी भी कर ली थी. पूछताछ में और तथ्य भी सामने आ सकते हैं.

 

पढ़ें : BSF में ISI की घुसपैठ, पाकिस्तान ने किया खंडन

 

ये भी पता चला है कि झांसी में सेना की 31 आर्मड डिविजनके हथियार डिपो के कुछ कागजात आईएसआई के हाथ लग गए थे. दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने कल पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के लिए काम करने के आरोप में बीएसएफ के हेड कांस्टेबल अब्दुल रशीद और उसके रिश्तेदार कैफतुल्ला खान को गिरफ्तार किया था.

 

पढ़ें : कोलकाता में आईएसआई के 3 संदिग्ध एजेंट गिरफ्तार

 

कैफतुल्ला जम्मू-कश्मीर के रजौरी का रहने वाला है. पता चला है कि कैफतुल्ला को आईएसआई से 1 लाख रुपये की नियमित तनख्वाह मिलती थी. इसका कुछ हिस्सा बीएसएफ के हेड कांस्टेबल रशीद को भी दिया जाता था. पुलिस दोनों के बैंक अकाउंट खंगाल रही है.

 

पढ़ें : शाही इमाम बुखारी ने कहा, ‘मुसलमान नहीं है आजम खान’

 

देखें वीडियो-

सेना के हथियार पर थी इन ना’पाक’ जासूसों की नजर 

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Delhi Police busts espionage racket, arrests BSF head constable, ISI operative
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017