...तो दिल्ली और NCR में हो रहे ऐसे सभी निर्माणों पर लग जाएगी रोक!

By: | Last Updated: Saturday, 11 April 2015 11:51 AM
DELHI_NCR_NGT_GUIDELINE

नई दिल्ली: दिल्ली और एनसीआर में बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने सरकार और अलग अलग एजेंसीज को निर्देश दिया है की प्रदुषण को काम करने के लिए 10 साल से अधिक पुराने डीजल वाहनो और 15 साल से अधिक पुराने पेट्रोल वाहनो को दिल्ली की सड़कों से हटाये जाए.

 

केवल इतना ही नहीं इसके साथ ही नगत यानी NGT ने एक आदेश और जारी किया है जिसके मुताबिक दिल्ली और एनसीआर में हो रहे ऐसे सभी निर्माणों पर रोक लगाई जाए जो पर्यावरण और वन मंत्रालय के 2010 के दिशानिर्देशों को पूरा नहीं कर रहे हैं. ऐसे में सवाल यह है की आखिर वो कौन से दिशानिर्देश हैं जिनका ज़िक्र NGT अपने आदेश में कर रहा है. 

 

आपको बता दें कि NGT जिन दिशानिर्देशों की बात कर रहा है वो पर्यावरण और वन मंत्रालय ने साल  2010 में जारी किये थे.

 

क्या हैं पर्यावरण और वन मंत्रालय के दिशा-निर्देश जिनका ज़िक्र किया NGT ने अपने फैसले में-

 

– कोई भी निर्माण कार्य जब शुरू हो तो यह ध्यान रखा जाए की उसकी वजह से वहां की हवा प्रदूषित न हो.

 

– निर्माण कार्य की वजह से आस पास के इलाके का पानी भी प्रदूषित नहीं होना चाहिए.

 

– निर्माण कार्य की वजह से ध्वनि प्रदुषण नहीं बढ़ना चाहिए.

 

– निर्माण कार्य इलाके की संरचना को ध्यान में रख कर ही करना चाहिए मसलन भूकम्प का खतरा , बाढ़ का खतरा , भूस्खलन का खतरा आदि.

 

– निर्माण कार्य की वजह से किसी भी तरह की प्राकृतिक सम्पदा को कोई नुक्सान नहीं होना चाहिए. यानी की आस पास लगे पढ़ पौधों को होने वाले नुक्सान का पूरा ख्याल रखा जाए.

 

– निर्माण कार्य की वजह से निकले वाले कचरे को ठिकाने लगाने के लिए समुचित  इंतेज़ाम होने चाहिए.

 

– निर्माण कार्य की जगह पर काम करने वाले लोगों की सेहत का पूरा ध्यान रखा जाना चाहिए. उनके लिए वहां पर स्वास्थय और मूलभूत सुविधाओ का पूरा इंतज़ाम होना ज़रूरी है.

 

–   रेन वाटर हार्वेस्टिंग का भी इंतज़ाम किया जाना चाहिए.

 

NGT ने अपने आदेश में साफ़ कहा है की जब तक कोई बिल्डर पर्यावरण और वन मंत्रालय के 2010 में जारी किये गए इन दिशानिर्देशों का पूरी तरह से पालन नहीं करेगा तब तक उसके प्रोजेक्ट्स पर काम शुरू नहीं हो सकेगा यानी मतलब साफ़ है की अगर बंद हुए प्रोजेक्ट्स पर दोबारा काम शुरू करना है तो इन दिशानिर्देशों पर अमल करना ही होगा.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: DELHI_NCR_NGT_GUIDELINE
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Delhi guideline NCR NGT pollution
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017