सूरत में सरकार पर बरसे मनमोहन सिंह, कहा- GST, नोटबंदी जैसे बुरे वक्त में कांग्रेस आपके साथ

सूरत में सरकार पर बरसे मनमोहन सिंह, कहा- GST, नोटबंदी जैसे बुरे वक्त में कांग्रेस आपके साथ

आज मनमोहन सिंह ने सूरत में कारोबारियों को संबोधित करते हुए नोटबंदी और जीएसटी के मुद्दे पर मोदी सरकार पर निशाना साधा.

By: | Updated: 02 Dec 2017 04:43 PM
demonetisation was used to convert black money to white: Manmohan Singh

नई दिल्ली: गुजरात में जैसे-जैसे चुनाव नजदीक आ रहा है सियासी पारा चढ़ता जा रहा है. बीजेपी के लिए वोट मांगने खुद पीएम मोदी चुनावी अखाड़े में उतर चुके हैं तो वहीं कांग्रेस भी इस दंगल में अपना पूरा दमखम लगा चुकी हैं. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से लेकर पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह तक सभी दिग्गज नेता गुजरात सरकार को घेरने में लगे हैं. आज मनमोहन सिंह ने सूरत में कारोबारियों को संबोधित करते हुए नोटबंदी को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधा.


पूर्व प्रधानमंत्री ने कहा, ''मैं प्रधानमंत्री मोदी के हौसले को सलाम करना चाहता हूं कि वो ब्लैकमनी को जड़ से उखाड़ फेंकना चाहते हैं लेकिन नोटबंदी का उपयोग ब्लैकमनी को सफेद मनी बनाने में हुआ है. अमीरों ने अपना ब्लैकमनी सफेद में बदल लिया, जबकि गरीबों को असंख्य तकलीफों का सामना करना पड़ा. मैं जानता हूं कि पिछले एक वर्ष में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा है लेकिन हम एक जिम्मेदार विपक्ष होने के नाते उनका समाधान करने की हर संभव कोशिश करेंगे.''


उन्होंने आगे कहा, ''नोटबंदी के बाद लाइन में खड़े-खड़े करीब 100 लोगों ने अपनी जान गंवा दी. मैं बहुत ही दुख के साथ कह रहा हूं कि 8 नवंबर इकॉनमी और लोकतंत्र के लिए काला दिन था.''


जीएसटी पर उन्होंने कहा, ''जीएसटी अच्छा आईडिया था लेकिन गलत तरीके से लागू किया गया. सूरत भरोसे पर चलता है. आपने अच्छे दिन का भरोसा किया, लेकिन उल्टा हुआ.''


manmohan singh


उन्होंने GDP में विकास दर को में आई तेजी का स्वागत किया लेकिन कहा कि अभी खुश होना जल्दबादी होगी. अभी चिंताएं दूर नहीं हुई हैं. जीडीपी का पर कहा, ''नोटबंदी में कुल 1.5 लाख करोड़ रुपये का खर्च आया. पहले क्वार्टर में जीडीपी गिरकर 5.7 फीसदी पर पहुंच गई. नोटबंदी और जीएसटी का सबसे ज्यादा असर छोटे और मझोले उद्योग पर हुआ है. अगर 2017-2018 में ग्रोथ 6.7 फीसदी पर पहुंच भी गया तो भी ये यूपीए के दस साल के औसत 10.6 फीसदी ग्रोथ से कम ही रहेगा.''


आपको बता दें कि गुजरात चुनाव में राहुल गांधी भी लगातार हमलावर हैं. राहुल रोज चुनावी रैली कर रहे हैं और शिक्षा  से लेकर विकास तक जैसे मुद्दों पर सरकार को घेर रहे हैं. यहां तक कि राहुल सोशल मीडिया के जरिए भी सरकार पर तंज कसते रहते हैं. आज राहुल ने सरकार से सवाल करते हुए पूछा, ''सरकारी शिक्षा पर खर्च करने के मामले में गुजरात 26 वें स्थान पर क्यों है. इस राज्य के युवाओं के क्या गुनाह किया है.'' साथ ही राहुल ने ये भी पूछा कि ''इस तरीके से ‘नए इंडिया’ का सपना कैसे असलियत बनेगा.''


आपको बता दें कि गुजरात में विधानसभा चुनाव दो चरणों में होने वाले हैं. इसी महीने 9 और 14 दिसंबर को वोटिंग होगी. इसके बाद वोटों की गिनती 18 दिसम्बर को होगी.


यह भी पढ़ें-


गुजरात: सीएम रूपाणी के सामने हुआ शहीद की बेटी का अपमान, राहुल बोले- शर्म कीजिए


राहुल का मोदी पर एक और हमला, पूछा- हर गुजराती पर 37,000 का कर्ज क्यों?


सोमनाथ मंदिर विवाद: राहुल गांधी को हिंदू बताने के लिए कांग्रेस ने खेला जनेऊ कार्ड

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: demonetisation was used to convert black money to white: Manmohan Singh
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story संसद शीतकालीन सत्र: केंद्र सरकार ने 14 दिसंबर को बुलाई सर्वदलीय बैठक