याकूब जैसी जल्दबाजी राजीव के हत्यारों के मामले में क्यों नहीं: दिग्विजय सिंह

By: | Last Updated: Saturday, 1 August 2015 4:26 PM

पणजी: कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने आज सवाल किया कि सरकार ने जिस तरह से याकूब मेमन के मामले में तत्परता दिखायी वैसी ही शीघ्रता राजीव गांधी हत्या मामले के दोषियों के खिलाफ क्यों नहीं दिखाई गई. उच्चतम न्यायालय ने पिछले हफ्ते राजीव गांधी हत्या मामले में तीन दोषियों को सुनाए गए मृत्युदंड को कम करने के खिलाफ केन्द्र की सुधारात्मक याचिका को खारिज कर दिया था.

 

दिग्विजय ने कहा, ‘‘कांग्रेस पार्टी का मत है कि जहां तक आतंकवाद का सवाल है उससे कोई समझौता नहीं हो सकता. हम मेमन :1993 के मुंबई बम विस्फोटों के दोषी: की दया याचिका पर लीक से हटकर विचार करने के लिए उच्चतम न्यायालय की सराहना करते हैं. ’’

 

उन्होंने कहा कि लेकिन दूसरी तरफ एनआईए ने एक वरिष्ठ वकील से कहा कि वह हिन्दू कट्टरपंथियों की संलिप्तता वाले आतंकवादी मामले में धीमी गति से चले. उन्होंने यह बात विशेष लोक अभियोजक रोहिणी सालियान के आरोपों का जिक्र करते हुए कही.

 

दिग्विजय ने कहा, ‘‘याकूब मेमन की फांसी में जिस तरह की तत्परता दिखाई गई, राजीव गांधी के हत्यारों के मामले में और भुल्लर के मामले में इस तरह की तत्परता क्यों नहीं दिखाई गई . सिख आतंकवाद के आरोपी भुल्लर के मामले में उच्चतम न्यायालय ने तीन बार सुनवाई की और उसकी मौत की सजा को कम कर आजीवन कारावास में बदल दिया गया.’’ उन्होंने कहा, ‘‘पांच साल तक उसकी फांसी में विलंब हुआ. हम इस बात को मजबूती से कहना चाहते हैं कि आतंकवाद को किसी धर्म, जाति या पंथ से नहीं जोड़ा जाना चाहिए.’’

 

उन्होंने यह भी कहा, ‘‘कांग्रेस हमेशा से उन राजनीतिक दलों का विरोध करती है जो कट्टरपंथ का इस्तेमाल मतदाताओं के ध्रुवीकरण के लिए करते हैं.’’ पूर्व राष्ट्रपति डा. एपीजे अब्दुल कलाम एवं याकूब के बारे में उनके ट्वीट को लेकर उपजे विवाद के बारे में कांग्रेस नेता दिग्विजय ने इस बात से इंकार किया कि वह मेमन का समर्थन कर रहे थे. मेनन को 30 जुलाई को फांसी दी गयी थी. उन्होंने कलाम के अंतिम संस्कार एवं मेमन की फांसी के एक ही दिन होने के बारे में ट्वीट किया था. उन्होंने कहा था कि एक (कलाम) ने प्रत्येक भारतीय को गौरवान्वित किया जबकि दूसरे ने अपने समुदाय को शर्मसार किया.

 

वरिष्ठ कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘मुझे जो कहना चाहिए था, वह मैंने कहा. इस बात को अनावश्यक रूप से उछाला जा रहा है कि मैं मेमन का समर्थन कर रहा हूं जो गलत है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैंने उच्चतम न्यायालय की मेमन मामले में तत्परता दिखाने के लिए सराहना की थी और यह भी कहा था कि इसी प्रकार की शीघ्रता वहां भी दिखायी जानी चाहिए जब संघ :आरएसएस: के कार्यकर्ता संलिप्त हों.’’

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: digvijay singh
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: digvijay singh Yakub Memon
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017