सीआईआई ने विकलांगो को रोजगार दिलाने के लिए शुरू की नयी पहल

By: | Last Updated: Saturday, 27 September 2014 12:37 PM
disable

नई दिल्ली: भारतीय उद्योग परिसंघ :सीआईआई: ने विकलांगों को प्रशिक्षित करने और उन्हें रोजगार दिलाने के लिए नयी पहल की है.

 

सीआईआई पश्चिमी क्षेत्र ने इस पहल के तहत विकलांगों को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के लिये जागरकता कार्यक्रम की शुरआत की. इसके तहत आयोजित संगोष्ठी में कारपोरेट, गैर सरकारी संगठन और विभिन्न उद्योग प्रतिनिधियों ने भाग लिया.

 

सीआईआई पश्चिमी क्षेत्र ने पिछले साल मॉनस्टरडॉटकॉम के साथ मिलकर एक वेबसाइट शुरू की जिसने विकलांगों एवं शारीरिक तौर पर अक्षम लोगों के लिए एक जॉब पोर्टल की तरह काम किया.

 

उद्योग संगठन की इस पहल में टाटा कैपिटल, पेप्सिको, आईबीएम, लॉ.ओरियल, लेमन टी होटल जैसी अनेक कारपोरेट कंपनियों ने विशेष योगदान दिया. इन कंपनियों ने अपनी जरूरत के लिहाज से पोर्टल पर विभिन्न रिक्तियां निकालीं. विकलांगों की ओर से इसमें 1500 से अधिक आवेदन प्राप्त हुये.

 

महिन्द्रा एंड महिन्द्रा के निदेशक अरण नंदा, उच्च शिक्षा पर सीआईआई की उपसमिति की चेयरमैन और एप्टेक लिमिटेड की प्रबंध निदेशक और सीईओ निनाद कार्पे, माउंट एवरेस्ट पर पहुंचने वाली प्रथम विकलांग महिला पर्वतारोही अरणिमा सिन्हा, और सीएसआर पर सीआईआई उपसमिति की चेयरपर्सन एवं रसना लिमिटेड के चेयरमैन पिरूज खंबाटा की उपस्थिति में एक फिल्म पब्लिक सर्विस वीडियो जारी की गई.

 

सीआईआई का विचार इस पहल को और आगे बढ़ाना है, जिसमें शारीरिक तौर पर अक्षम लोगों के लिये रोजगार मेला आयोजित किया जायेगा जिसमें वह रोजगार अवसर के लिये सीधे कंपनी प्रबंधन से बातचीत कर सकेंगे. वर्तमान में देश में कुल आबादी का 2.32 प्रतिशत विकलांग हैं. इनमें करीब 90 प्रतिशत बेरोजगार हैं और मात्र 10 प्रतिशत को ही रोजगार प्राप्त है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: disable
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ABP
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017