डोकलाम विवाद पर चीन की गीदड़ भभकी, कहा- ‘ना पीछे हटेंगे और न इंतजार करेंगे’

चीन ने राजधानी बीजिंग में भारत के साथ डोकलाम विवाद पर कई देशों को राजदूतों को बुलाकर ब्रीफ किया. चीन ने कहा कि वह अपनी स्थिति से पीछे नहीं हटेगा और न ही ज्यादा इंतजार कर सकता है. भारत को ये स्थिति समझनी चाहिए.

By: | Last Updated: Tuesday, 18 July 2017 10:42 AM
Doklam controversy: China’s new statement on india-china-bhutan border standoff

File Photo

नई दिल्ली:  चीन एक बार फिर भारत को आंख दिखाने की कोशिश कर रहा है और युद्ध की धमकी दे रहा है. चीन ने कल भूटान के डोकलाम विवाद पर कई देशों के राजदूतों को बुलाया और कहा कि चीन इस मुद्दे पर न पीछे हटेगा और न ही ज्यादा इंतजार कर सकता है.

चीन ने राजधानी बीजिंग में भारत के साथ डोकलाम विवाद पर कई देशों को राजदूतों को बुलाकर ब्रीफ किया. चीन ने कहा कि वह अपनी स्थिति से पीछे नहीं हटेगा और न ही ज्यादा इंतजार कर सकता है. भारत को ये स्थिति समझनी चाहिए.

डोकलाम पर ABP न्यूज़ की ग्राउंड रिपोर्ट, जानें भारत-चीन के बीच तनातनी की वजह

आज विदेश सचिव संसद की समिति को जानकारी देंगे

वहीं, डोकलाम विवाद पर आज विदेश सचिव संसद की समिति को जानकारी देंगे. विदेश सचिव एस जयशंकर आज दोपहर तीन बजे समिति के सामने जाएंगे. डोकलाम में चीन जबरदस्ती सड़क बना रहा है, जिसको लेकर पिछले तीन सप्ताह से भारत चीन के रिश्तों पर तनाव है.

भूटान में जमीन के एक टुकड़े को लेकर भारत और चीन आमन सामने आ गए हैं. चीन की तरफ से जहां बार-बार भारत को 1962 की याद दिलाकर डराने की कोशिश की जा रही है. वहीं भारत इस मामले में पीछे हटने को तैयार नहीं है. सीमा पर बढ़ते तनाव को देखते हुए भारत ने चौकसी और बढ़ा दी है.

चीन की धमकियों से डरने वाला नहीं है भारत

गृहमंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक, भारत चीन सीमा पर अब तक निष्क्रिय पड़ी चौकियों को एक बार सक्रिय कर दिया गया है. यानी उन चौकियों पर जवानों और अधिकारियों की पोस्टिंग कर दी गई है. सूत्रों के मुताबिक भारत-चीन सीमा पर इस तरह की सभी पोस्ट पर आईटीबीपी के जवान और अधिकारियों को तैनात कर दिया गया है. ये सभी सेना के ऑपरेशनल कमांड पर काम करेंगे. भारत की तरफ से ये साफ संकेत दे दिया गया है कि वो चीन की धमकियों से डरने वाला नहीं है.

भारत और चीन के बीच विवाद की वजह है डोकलाम

भूटान में 89 स्कावयर किलोमीटर का इलाका है डोकलाम. रणनीतिक तौर पर तीनों देशों के लिए ये काफी अहम है. चीन डोकलाम पर अपना दावा ठोंकता रहा है जबकि भूटान उसे अपना हिस्सा मानता है. मित्र देश होने के नाते भूटान की सुरक्षा के लिए भारतीय सेनाएं डोकलाम में मौजूद रहती हैं. चीन ने हाल ही में डोकलाम में सड़क बनानी शुरू की, भारतीय सेना ने इसका विरोध किया और इसके बाद विवाद शुरू हो गया.

माहौल को शांत करने के लिए भारत कर रहा है कूटनीतिक कोशिशें 

अब चीन इस बात पर अड़ गया है कि भारतीय सेना डोकलाम से पीछे हटे जबकि भारत का कहना है कि वो कोई विवाद नहीं चाहता, लेकिन चीन को वहां सड़क बनाने नहीं दिया जाएगा. दोनो देशों के बीच तनाव के इस माहौल को शांत करने के लिए भारत कूटनीतिक कोशिशें भी कर रहा है.

26 जुलाई को चीन में ब्रिक्स देशों के एनएसए की बैठक

26 जुलाई को चीन में ब्रिक्स देशों के एनएसए की बैठक है, जिसमें भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल भी जाएंगे. माना जा रहा है कि इस दौरान भी चीन से इस मामले में बातचीत की कोशिश हो सकती है, लेकिन इस बीच भारत चीन से लगी सीमा पर किसी तरह की ढिलाई बरतने के मूड में नहीं है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Doklam controversy: China’s new statement on india-china-bhutan border standoff
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

20 महीने तक चला महागठबंधन का कार्यकाल, हुए ये 6 बड़े बवाल...!
20 महीने तक चला महागठबंधन का कार्यकाल, हुए ये 6 बड़े बवाल...!

नई दिल्ली: नीतीश कुमार के सीएम पद से इस्तीफे के साथ ही बिहार में जेडीयू, आरजेडी और कांग्रेस के...

नीतीश कुमार के इस्तीफे को कांग्रेस ने बताया निराशाजनक
नीतीश कुमार के इस्तीफे को कांग्रेस ने बताया निराशाजनक

नई दिल्ली: कांग्रेस पार्टी ने बुधवार को बिहार के मुख्यमंत्री के रूप में नीतीश के इस्तीफे पर...

बीजेपी संसदीय बोर्ड में बड़ा फैसला, गुजरात से राज्यसभा जाएंगे अमित शाह और स्मृति ईरानी
बीजेपी संसदीय बोर्ड में बड़ा फैसला, गुजरात से राज्यसभा जाएंगे अमित शाह और...

नई दिल्ली: दिल्ली में आज बीजेपी संसदीय बोर्ड की बैठक में बड़ा फैसला लिया गया. बीजेपी ने पार्टी...

महागठबंधन को बचाने के लिए लालू का फॉर्मूला, विधायक दल के सदस्य करें नए CM का चुनाव
महागठबंधन को बचाने के लिए लालू का फॉर्मूला, विधायक दल के सदस्य करें नए CM का...

पटना: मुख्यमंत्री पद से नीतीश कुमार के इस्तीफे के बाद आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद ने नीतीश के...

एबीपी न्यूज़ पर दिनभर की बड़ी खबरें
एबीपी न्यूज़ पर दिनभर की बड़ी खबरें

एबीपी न्यूज़ पर दिनभर की बड़ी खबरें 1. *बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने आज राज्यपाल को अपना इस्तीफा...

बिहार में मध्यावधि चुनाव के पक्ष में नहीं बीजेपी : सुशील मोदी
बिहार में मध्यावधि चुनाव के पक्ष में नहीं बीजेपी : सुशील मोदी

पटना: बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने मुख्यमंत्री...

जानें नीतीश कुमार के इस्तीफे के पीछे की दस बड़ी वजहें
जानें नीतीश कुमार के इस्तीफे के पीछे की दस बड़ी वजहें

नई दिल्ली: बिहार की राजनीति पिछले कुछ दिनों से गरमायी हुई थी. सियासी पारा तब और ज्यादा चढ़ गया जब...

यहां पढ़ें: नीतीश के इस्तीफा देने के बाद अब बिहार में क्या होगा?
यहां पढ़ें: नीतीश के इस्तीफा देने के बाद अब बिहार में क्या होगा?

नई दिल्ली: बिहार के सियासत में अचानक ही सियासी पारा चढ़ गया है. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश...

निजता पर सरकार का रुख थोड़ा नरम, सुप्रीम कोर्ट ने पूछा- क्या बंद कर दें सुनवाई?
निजता पर सरकार का रुख थोड़ा नरम, सुप्रीम कोर्ट ने पूछा- क्या बंद कर दें...

नई दिल्ली : केंद्र सरकार ने आज ये माना कि निजता के कुछ पहलू मौलिक अधिकार के दायरे में हैं....

हमारे पास 132 विधायकों का समर्थन, सुबह 10 बजे होगा शपथ ग्रहण: सुशील मोदी
हमारे पास 132 विधायकों का समर्थन, सुबह 10 बजे होगा शपथ ग्रहण: सुशील मोदी

नई दिल्ली: बिहार में चार साल बाद बीजेपी की सत्ता में वापसी होगी. महागठबंधन टूटने के बाद नीतीश...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017