रेलमंत्री जी, बंद करें ये अनूठी व्यवस्था, देश आपका आभारी रहेगा

रेलमंत्री जी, बंद करें ये अनूठी व्यवस्था, देश आपका आभारी रहेगा

रेलवे क्रॉसिंग पर साल 2012 में अनिल ककोदकर पैनल एक रिपोर्ट आई थी जिसमें 5 साल के अदंर सारे मानवरहित क्रॉसिंग को हटाने की मांग की गई थी.

By: | Updated: 28 Dec 2017 10:40 PM
Dream of bullet train in a country where Railways can’t function properly

नई दिल्ली: देश में हर साल जब रेल बजट पास होता है तो रेलवे में सुधार के लिए कई दावे किए जाते हैं. इसके साथ ही करोड़ों रुपये का बजट भी पास होता है. बजट में सुरक्षा पर सरकार का विशेष ध्यान होता है. लेकिन उत्तर प्रदेश के देवरिया और मथुरा से जो तस्वीर सामने आई है उसने रेलवे के सभी इंतजामों घता बता दिया है.


उत्तर प्रदेश के देवरिया में रेलवे मानव रहित रेलवे क्रॉसिंग है. इस क्रॉसिंग पर गेट बंद करने की कोई व्यवस्था नहीं है. दरअसल यहां ट्रेन के साथ एक आदमी चलता है. क्रॉसिंग से पहले ट्रेन रुकती है और आदमी उतरकर फाटक बंद करता है.


इसके बाद ट्रेन फाटक क्रॉस करने के बाद एक बार फिर रुकती है. जो आदमी ट्रेन से उतरा था वो फाटक वापस खोलता है और ट्रेन पर चढ़ जाता है. इसके बाद ट्रेन क्रॉसिंग से रवाना होती है.


उत्तर प्रदेश के देवरिया की तरह ही मथुरा की भी स्थिति है. मथुरा से वृंदावन तक जाने में 9 रेलवे क्रॉसिंग पडती हैं.जिनमें दो रेलवे क्रॉसिंग ऐसी हैं जिन पर फाटक ही नहीं है. इस रेल बस के साथ मोबाइल गेटमैन साथ चलता है और गेटमैन को बार-बार ट्रेन से उतरकर ट्रैफिक को रोकना पड़ता है फिर ट्रेन के निकल जाने पर वापस ट्रेन में च़ढ़ना पड़ता है.

देश में देवरिया और मथुरा की तरह 7 हजार सात सौ एक मानवरहित क्रॉसिंग हैं. इन मानवरहित क्रॉसिंग पर साल 2015-16 में 29 हादसे हुए. इन हादसों में 58 लोगों की मौत हुई जबकि 40 लोग घायल हुए.


आपको बता दें कि रेलवे क्रॉसिंग पर साल 2012 में अनिल ककोदकर पैनल एक रिपोर्ट आई थी जिसमें 5 साल के अदंर सारे मानवरहित क्रॉसिंग को हटाने की मांग की गई थी.


इस रिपोर्ट में इस पूरे कार्य के लिए 50 हजार करोड़ रुपये की भी मांग की गई थी. लेकिन इस रिपोर्ट को आए भी पांच साल हो चुके हैं. लेकिन आज भी मानवरहित क्रॉसिंग की वजह से लोगों की जान जा रही है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Dream of bullet train in a country where Railways can’t function properly
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story AAP विधायकों की सदस्यता रद्द होगी या नहीं, आज फैसला सुना सकता है चुनाव आयोग