दिल्ली: पहली डीटीसी महिला ड्राइवर बन सरिता ने रचा इतिहास

By: | Last Updated: Monday, 20 April 2015 3:08 AM
dtc_woman_driver

नई दिल्ली: दिल्ली की सड़को पर आज वी सरिता ने पहली महिला डीटीसी ड्राईवर बनकर इतिहास रच दिया. वी सरिता मूलतः तेलंगाना की रहने वाली हैं और इससे पहले वो हैदराबाद में महिंद्रा की छोटी बस चला चुकी हैं. लेकिन यह पहला मौका था जब आज उन्होंने डीटीसी की ड्राईवर बनकर दिल्ली की सड़को पर बस दौड़ाई.

 

इसके लिए वी सरिता ने 4 हफ्ते तक डीटीसी बस चलाने की ट्रेनिंग भी ले चुकी हैं.

 

वी सरिता के मुताबिक दिल्ली में लगातार बढ़ते अपराधों के बीच अब महिलाएं डीटीसी बसों में खुद को बहुत ज़्यादा महफूज़ महसूस करेंगी. उनको मिले इसे मौके को वो महिलाओं के सशक्तिकरण की ओर एक बड़ा कदम मानती हैं.

 

डीटीसी में मिली ट्रेनिंग के बाद सरिता को सरोजनी नगर डिपो पर पोस्ट किया गया है. वो डीटीसी के 543 नंबर की बस चलाएंगी जो कापसहेड़ा से आनंद विहार के बीच चलती है.

 

सरिता ने इस मौके पर डीटीसी के महिलाओं को बस चलाने का मौका देने पर काफी ज़्यादा ख़ुशी जताई.

 

सरिता का कहना है कि वो एक गरीब परिवार से आती हैं. पांच बहनों में सबसे छोटी हैं और परिवार की आर्थिक स्थिति कमजोर है. सरकारी नौकरी मिल जाने की उन्हें बेहद खुशी है. इससे वो अपने परिवार की मदद कर पाएंगी. वो महिलाओं को ये संदेश देना चाहती हैं कि ऐसी कोई नौकरीया काम नहीं है, जिसे महिलाएं न कर सकें. सरिता ने कहा कि वे ट्रैफिक नियमों का सख्ती से पालन करने में यकीन रखती हैं, लेकिन इससे उनकी प्राथमिकता महिला यात्रियों की सुरक्षा होगी.

 

खास बात यह भी है कि सरिता की एक बहन एक प्राइवेट कंपनी में कैब ड्राइवर हैं. सरिता कहती हैं कि परिवार में सबसे छोटी होने के कारण उन्हें उनके पिता ने किसी लड़के की ही तरह पाला. सरिता का ड्रेस सेंस और उनकी हेयर स्टाइल भी कुछ लड़कों जैसी ही है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: dtc_woman_driver
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017