केजरीवाल की रैली में फेंके गए अंडे, बिजली भी काटी गई

By: | Last Updated: Friday, 26 December 2014 4:43 AM
eggs_thrown_at_Kejriwal_rally

पिछले साल की तस्वीर जब एक प्रेस कांफ्रेंस पर अरविंद केजरीवाल पर काली स्याही फेंकी गई थी.

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल की दिल्ली के नजफगढ़ में हुई रैली में उस समय हलचल मच गई जब कुछ शरारती तत्वों ने केजरीवाल पर अंडे फेंके और पॉवर सप्लाई यनिट्स को बंद कर अड़चल डालने की कोशिश की.

 

इंडियन एक्सप्रेस में छपी खबर के मुताबिक, हालांकि फेंके गए अंडे केजरीवाल तक नहीं पहुंच पाए जिससे इस घटना को लेकर कोई बड़ा विवाद खड़ा नहीं हुआ, हालांकि केजरीवाल ने बीजेपी और कांग्रेस पर इस घटना को लेकर तंज जरूर कसा. इस हमले के तुरंत बाद केजरीवाल ने कहा, ”इन पार्टियों को ऐसे कृत्यों के उलझने की जगह वास्तव में कुछ काम करना चाहिए.”

 

इस रैली में उपस्थित लोगों के मुताबिक, मंच पर मौजूद केजरीवाल के पीछे से लड़कों के एक समूह ने केजरीवाल पर अंडे फेंकने शुरु कर दिए. घटनास्थल पर मौजूद ‘आप’ वॉलिंटियर धर्मेंद्र ने बताया, ”भाग्यवश, कोई भी अंडा केजरीवाल तक नहीं पहुंच पाया.”

 

इसके अलावा इसी रैली में उस वक्त भी खासी हलचल पैदा हो गई जब बिजली की सप्लाई अचानक बंद हो गई. जांच के बाद पता चला कि रैली में मोजूद जेनरेटर में किसी ने एक मोटा नूज़ फंसा दिया था जिससे बिजली सप्लाई ठप हो गई.

 

एक  प्रत्यक्षदर्शी के अनुसार, ”किसी ने जेनरेटर पर एक मेंटल चेन फेंक दी, जिससे वहीं मौजूद पूरा ऑडियो और पॉवर सिस्टम ठप हो गया. इसके बाद वहां मौजूद लोग रैली से जाने लगे और फिर ‘आप’ वॉलिंटियर्स ने लोगों को रोकने की कोशिश की. ”

 

गौरतलब है यह पहली बार नहीं है जब केजरीवाल पर सार्वजनिक रुप से हमला किया गया. इससे पहले भी अपनी रैली के दौरान उन्हें दो बार थप्पड़ पड़ चुके हैं. अब तक उन पर काली स्याही, मोबिल ऑयल और अंडे भी फेंके जा चुके हैं.

 

20 मिनट तक चले अपने भाषण में केजरीवाल ने बीजेपी और कांग्रेस दोनों की आलोचना करते हुए पूर्ण बहुमत के साथ आम आदमी पार्टी को वोट देने को कहा.

वहीं खाद्य पदार्थों पर बढ़ती महंगाई के मुद्दे पर सरकार पर निशाना साधते हुए केजरीवाल ने कहा, ”जब मैंने फरवरी में दिल्ली का सीएम पद छोड़ा था, तब आलू के दाम 10 रुपए प्रति किलो थे. लेकिन अब आलू के दाम 30 रुपए प्रति किलो हैं. जोआलू के दाम ना देख पाए, वो सरकार क्या देखेंगे? ”

 

सत्ता में आकर 49 दिनों बाद सीएम पद से इस्तीफा देने की अपनी गलती स्वीकारते हुए उन्होंने लोगों को बताया, ”हमने राजनीति का पहला सबक सीख लिया है, राजनीति का पहला सबक है कि कभी भी अपनी जगह नहीं छोड़ना चाहिए.”

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: eggs_thrown_at_Kejriwal_rally
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017