Election Commission announced Himachal Pradesh Elections 2017हिमाचल प्रदेश में 9 नवंबर को होगा चुनाव, 18 दिसंबर को आएंगे नतीजे

हिमाचल प्रदेश में 9 नवंबर को होगा चुनाव, 18 दिसंबर को आएंगे नतीजे

68 सीटों वाली हिमाचल प्रदेश विधानसभा के नतीजे काफी दिलचस्प रहे हैं और यहां दोनों पार्टियों के बीच कांटे की टक्कर रहती है.

By: | Updated: 03 Nov 2017 12:54 PM
Election Commission announced Himachal Pradesh Elections 2017
शिमला: हिमाचल प्रदेश में विधानसभा चुनाव की तारीख का एलान कर दिया गया है. प्रदेश में 9 नवंबर को वोट डाले जाएंगे. वहीं, 18 दिसंबर को नतीजे घोषित किए जाएंगे. उम्मीदवार 16 से 23 अक्टूबर तक नामांकन करा सकेंगे.

हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव: सभी पोलिंग बूथों पर वीवीपैट का होगा इस्तेमाल

कांग्रेस और बीजेपी के बीच कांटे की टक्कर

हिमाचल प्रदेश विधानसभा के नतीजे काफी दिलचस्प रहे हैं और यहां कांग्रेस और बीजेपी के बीच कांटे की टक्कर रहती है. राज्य में विधानसभा की 68 सीटें हैं. बहुमत के लिए 35 सीट की जरूरत है. 2012 चुनाव के नतीजों में कांग्रेस को 36, बीजेपी को 26 और अन्य को 6 सीटें मिली थी.

हिमाचल प्रदेश के विधानसभा चुनावों की खास बात ये है कि यहां मुकाबला काफी टक्कार का होता है और 1998 में दोनों पार्टियों को 31-31 सीटें मिली थीं. हिमाचल के मौजूदा सीएम वीरभद्र सिंह हैं, जिनपर भ्रष्टाचार के आरोप है.

सभी पोलिंग बूथों पर होगा वीवीपैट का इस्तेमाल

चुनाव आयोग ने आज बताया है कि सभी पोलिंग बूथों पर वीवीपैट का इस्तेमाल होगा. देश में पहली बार सभी सीटों पर वीवीपैट का इस्तेमाल किया जाएगा. चुनाव आयोग ने यह भी बताया है कि वोटिंग, नामांकन, रैली और काउंटिंग हॉल की वीडियोग्राफी की जाएगी.

राज्य में आचार संहिता लागू

चुनाव आयोग की इस घोषणा के साथ ही राज्य में आचार संहिता लागू हो गई है. अब केंद्र सरकार भी राज्य के लिए कोई घोषणा नहीं कर सकती. चुनाव में एक उम्मीदवार 28 लाख रुपये तक खर्च कर सकता है.

यहां देखें वीडियो-

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Election Commission announced Himachal Pradesh Elections 2017
Read all latest Assembly Elections 2017 News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story जानें- नमाज के नाम पर दिल्ली के रेलवे प्लेटफॉर्म पर कब्जे का सच