15 अक्टूबर को महराष्ट्र और हरियाणा में चुनाव, नतीजे 19 को आएंगे: चुनाव आयोग

By: | Last Updated: Saturday, 13 September 2014 10:27 AM
Election Commission to announce Maharashtra, Haryana assembly poll dates

नई दिल्ली : महाराष्ट्र और हरियाणा में विधानसभा चुनाव की तारीखों का एलान हो गया है . साढे चार बजे चुनाव आयोग ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके बताया कि हरियाणा और महाराष्ट्र के विधानसभा चुनाव 15 अक्टूबर को होंगे. इन चुनावों के नतीजे 19 अक्टूबर को आएंगे.

 

दोनों राज्यों में आचार संहिता अभी से लागू है. दोनों ही राज्यों में 20 सितंबर से 27 सितंबर तक पर्चा दाखिल कर सकते हैं. 29 को स्क्रूटनी किया जाएगा. 1 अक्टूबर तक पर्चा वापस कर सकते हैं. 15 अक्टूबर को दोनों राज्यों में एक साथ ही चुनाव होगा. 19 अक्टूबर को चुनाव के नतीजे आएंगे. ईवीएम में नोटा का विकल्प भी रहेगा.

 

चुनाव आयोग ने बताया कि हरियाणा में एक करोड़ 61 लाख वोटर हैं. महाराष्ट्र में 8 करोड़ 25 लाख वोटर हैं. इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन इस चुनाव में भी प्रयोग किया जाएगा. चुनाव आयोग ने कहा है कि पर्चा दाखिल करने दिन तक वोटर लिस्ट में नाम दर्ज कराया जा सकता है.

 

हरियाणा में 16 हजार 244 पोलिंग बूथ. महाराष्ट्र में 90 हजार 403 पोलिंग बूथ बनाए जाएंगे. उम्मीदवारों को हर कॉलम को भरना होगा.

 

 

आपको बता दें कि महाराष्ट्र में विधानसभा का कार्यकाल 8 नवंबर को खत्म हो रहा है, जबकि हरियाणा में विधानसभा का कार्यकाल 27 अक्टूबर को खत्म हो रहा है. यानि इन तारीखों से पहले इन दोनों राज्यों में नई सरकार का आ जाना जरूरी है. ऐसे में तय माना जा रहा है कि इन दोनों राज्यों में चुनाव अक्टूबर के पहले हफ्ते से लेकर दूसरे हफ्ते के बीच होंगे.

 

महाराष्ट्र की सियासत

महाराष्ट्र में विधानसभा की कुल 288 सीटें हैं . पिछली बार कांग्रेस 174 और एनसीपी 114 सीटों पर चुनाव लड़ी थी . इस बार एनसीपी ज्यादा सीटें मांग रही है . यही हाल बीजेपी-शिवसेना महायुति का है . इस गठबंधन में 6 पार्टियां हैं . पिछली बार बीजेपी 119 और शिवसेना 169 सीटों पर लड़ी थी . इस बार बीजेपी 144 सीटें चाह रही है . गठबंधन में 4 छोटी पार्टियां भी है जो अपने लिए सम्मानजक समझौता चाह रहे हैं.

 

हरियाणा की सियासत

हरियाणा में कांग्रेस की सरकार है . बीजेपी का यहां हरियाणा जनहित कांग्रेस से गठबंधन टूट चुका है . बीजेपी अकेले चुनाव लड़ने वाली है . पहली लिस्ट जारी होने के बाद बीजेपी में टिकट बंटवारे को लेकर विवाद भी हो रहा है . बीजेपी के पास अभी यहां सिर्फ 4 सीटें हैं . कांग्रेस के पास 40 सीटें हैं .

 

क्यों अहम है ये चुनाव?

दोनों राज्यों में विधानसभा चुनाव कांग्रेस के लिए काफी अहम है क्योंकि दोनों राज्यों में अभी कांग्रेस की सरकार है . चुनाव इसलिए भी अहम हो जाता है क्योंकि केंद्र में मोदी सरकार बनने के बाद पहली बार किसी राज्य में विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं . बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की ताकत की भी परीक्षा है . हरियाणा में बीजेपी अकेले चुनाव लड़ने जा रही है और एचजेसी से इसका गठबंधन टूट चुका है . लोकसभा चुनाव में दोनों राज्यों में कांग्रेस की करारी हार हुई थी और बीजेपी को भारी जीत मिली थी .

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Election Commission to announce Maharashtra, Haryana assembly poll dates
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017