'दिल्ली की जनता ने बीजेपी उम्मीदवारों की कराई घर वापसी'

By: | Last Updated: Tuesday, 10 February 2015 2:58 PM

लखनऊ: जनहित संघर्ष मोर्चा का कहना है कि दिल्ली की जनता ने बता दिया है कि भारत धर्मनिरपेक्ष देश है. यहां सभी धर्मो के लोगों को खुली आजादी मिली हुई है.

 

धर्मातरण और घर वापसी कराने वालों की दाल यहां गलने वाली नहीं है. इसलिए समझदार जनता ने बीजेपी के उम्मीदवारों की ‘घर वापसी’ करा दी है.

 

मोर्चा में शामिल सोशलिस्ट फ्रंट ऑफ इंडिया के अध्यक्ष मोहम्मद आफाक ने कहा कि बीजेपी ही क्या, आरएसएस के सरसंचालक मोहन भागवत भी अगर प्रधानमंत्री बन जाएं तो वह देश की एकता व अखंडता को नुकसान नहीं पहुंचा सकते.

 

आरएसएस का सिर्फ एक ही मकसद है, अपने लोगों को सत्ता तक पहुंचाना. आजादी के बाद से वह अपने मकसद में तीन ही बार कामयाब हो पाया है.

 

मोर्चा के अध्यक्ष हाजी मोहम्मद फहीम सिद्दीकी ने कहा कि आज आम आदमी पार्टी की जीत इस बात का इशारा कर रही है कि बीजेपी जनता को बार-बार ‘मूर्ख’ नहीं बना सकती.

 

यह भी पढ़ें-

दिल्ली चुनाव में बीजेपी की हार के लिए सहयोगी, प्रतिद्वन्द्वी दोनों ने मोदी को लिया निशाने पर

अंतरराष्ट्रीय मीडिया ने आप की जीत को बताया ‘राजनीतिक भूकंप’

हकीकत से दूर रहे एग्जिट पोल के नतीजे

दिल्ली के चुनाव परिणाम बीजेपी और मोदी के लिए कड़ा संदेश: हेमंत सोरेन 

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: election_delhi election_bhartiya janta party_narendra modi_
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017