2022 तक सबको आवास प्रदान करने के लिए 4000 करोड़ रूपए का फंड

By: | Last Updated: Thursday, 10 July 2014 9:49 AM

नई दिल्ली: आने वाले आठ बरसों में सबके लिए आवास सुविधा उपलब्ध कराने की प्रतिबद्धता जताते हुए सरकार ने राष्ट्रीय आवास बैंक के माध्यम से कम लागत वाले सस्ते आवास पर आधारित एक मिशन स्थापित करने का प्रस्ताव किया है.

 

लोकसभा में 2014.15 के लिए आम बजट पेश करते हुए वित्त मंत्री अरूण जेटली ने शहरी गरीबों, आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों और निम्न आय वर्गों को सस्ते आवास के लिए सस्ता रिण प्रदान करने के उद्देश्य से राष्ट्रीय आवास बैंक के लिए 4000 करोड़ रूपए का प्रावधान किया.

 

जेटली ने बताया कि सरकार ने इस क्षेत्र में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश की सुविधा जैसी अन्य पहल की है और अन्य सकारात्मक सुझावों को अमल में लाभ के प्रति इच्छुक है.

 

उनका कहना था कि कारपोरेट सामाजिक दायित्व की सूची में मलिन बस्ती के विकास को शामिल किए जाने से निजी क्षेत्र इस कार्य के लिए अधिक योगदान करेगा.

 

ग्रामीण आवास योजना से बड़ी संख्या में ग्रामीण जनसंख्या के लाभान्वित होने की बात को रेखांकित करते हुए वित्त मंत्री ने बताया कि वर्ष 2014.15 में राष्ट्रीय आवास बैंक के लिए आवंटित राशि को बढ़ाकर 8000 करोड़ रूपए किया गया है ताकि ग्रामीण आवास सुविधा का विकास किया जा सके.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: every_citizen_have_itz_own_house_in_2022
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Budget 2014-2015
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017