जंतर-मंतर पर पूर्व सैनिकों को समर्थन देने पहुंचे राहुल के खिलाफ वापस जाओ के नारे लगे

By: | Last Updated: Friday, 14 August 2015 4:42 AM
Ex-servicemen demanding One Rank One Pension forcibly evicted from Jantar Mantar

नई दिल्ली:  दिल्ली के जंतर मंतर पर वन रैंक वन पेंशन की मांग पर धरना दे रहे पूर्व सैनिकों को पुलिस ने हटा दिया. 15 अगस्त पर जंतर मंतर को खाली कराने के लिए पूर्व सैनिकों को हटाया गया है.पूर्व सैनिक पुलिस की इस कार्रवाई पर बेहद गुस्से में दिखे. इसके बाद जब बवाल बढ़ा तो पुलिस ने धरने की अनुमति दे दी. राहुल गांधी भी पूर्व सैनिकों से मिल सकते हैं. वन रैंक वन पेंशन के मुद्दे पर 61 दिनों से धरने पर बैठे पूर्व सैनिकों पर एनडीएमसी, दिल्ली पुलिस की कार्रवाई की गई थी. कार्रवाई से नाराज पूर्व सैनिकों ने हटने से इंकार कर दिया था.

 

पूर्व सैनिकों के समर्थन में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी भी जंतर-मंतर पर पहुंचे. जंतर-मंतर पर राहुल गांधी को खासे विरोध का भी सामना करना पड़ा.  जंतर-मंतर पर पूर्व सैनिकों को समर्थन देने पहुंचे राहुल के खिलाफ वापस जाओ के नारे लगे.  नेताओं को मंच से नहीं बोलने दिया.

 

 

स्वतंत्रता दिवस को लेकर सुरक्षा के मद्देनजर NDMC और दिल्ली पुलिस की कार्रवाई हुई है. जंतर-मंतर को बाकी सभी प्रदर्शनकारियों से खाली करवाया गया है. लेकिन पूर्व सैनिक नहीं हटने पर आमादा हैं. बड़ी संख्या में पुलिस और CRPF के जवान तैनात हैं. पुलिस की इस कार्रवाई के बाद जंतर-मंतर पर तनाव की स्थिति बनी हुई है.

 

क्या कहा था पीएम ने ‘मन की बात’ में?

सरकार के एक साल पूरे होने के बाद पीएम मोदी ने रेडियो पर ‘मन की बात’ में पीएम मोदी ने सेना के जवानों से कहा था कि मेरी सरकार में ही वन रैंक वन पेंशन लागू होगा. 40 साल से इस मुद्दे पर राजनीति हो रही है. 

 

पीएम मोदी ने कहा, ‘वन-रैंक, वन-पेंशन’, क्या ये सच्चाई नहीं हैं कि चालीस साल से सवाल उलझा हुआ है? क्या ये सच्चाई नहीं हैं कि इसके पूर्व की सभी सरकारों ने इसकी बातें की, किया कुछ नहीं? मैं आपको विश्वास दिलाता हूँ. मैंने निवृत्त सेना के जवानों के बीच में वादा किया है कि मेरी सरकार वन-रैंक,  वन-पेंशन लागू करेगी. हम जिम्मेवारी से हटते नहीं हैं और सरकार बनने के बाद, भिन्न-भिन्न विभाग इस पर काम भी कर रहे हैं. ”

 

क्या मतलब है वन रैंक वन पेंशन का?

जब दो फौजी एक पद पर, एक समय तक सर्विस कर के रिटायर होते हैं पर उनके रिटायरमेंट में कुछ सालों का अंतर होता है और इस बीच नया वेतन आयोग भी आ जाता है, तो बाद में रिटायर होने वाले की पेंशन नए वेतन आयोग के अनुसार बढ़ जाती है. लेकिन पहले रिटायर हो चुके फौजी की पेंशन उसी अनुपात में नहीं बढ़ पाती.

 

कहां फंसा है पेंच-

फौजियों की पेंशन की तुलना सामान्य सरकारी कर्मचारियों से नहीं की जा सकती क्योंकि एक ओर जहाँ सामान्य सरकारी कर्मचारी को 60 साल तक तनख्वाह लेने की सुविधा मिलती है, वहीं फौजियों को 33 साल में ही रिटायर होना पड़ता है और उनकी सर्विस के हालात भी अधिक कठिन होते हैं.

 

अंग्रेजों के ज़माने से अबतक ऐसा रहा है चलन-

अंग्रेजों के समय में फौजियों की पेंशन तनख्वाह की करीब 80 प्रतिशत होती थी जबकि सामान्य सरकारी कर्मचारी की 33 प्रतिशत हुआ करती थी. भारत सरकार ने इसे सही नहीं माना और 1957 के बाद से फौजियों की पेंशन को कम की और अन्य क्षेत्रों की पेंशन बढ़ानी शुरू की.

 

क्या है फौजियों की मांग-

फौजियों की मांग है कि 1 अप्रैल 2014 से ये योजना छठे वेतन आयोग की शिफरिशों के साथ लागू हो. फौजियों का कहना है कि असली संतुलन लाना है तो हमें भी 60 साल पर रिटायर किया जाय. हमें तो 33 साल पे ही रिटायर कर दिया जाता है और उसके बाद सारा जीवन हम पेंशन से ही गुजारते हैं. जबकि अन्य कर्मचारी 60 साल तक पूरी तनख्वाह पाते हैं. ऐसे में हमारी पेंशन के प्रतिशत को कम नहीं करना चाहिए.

 

बहरहाल इस वक्त ये फौजी सिर्फ इतना ही चाहते हैं कि छठे वेतन आयोग को लागू करते हुए समान पद और समान समय तक सर्विस कर चुके फौजियों को एक समान पेंशन दी जाय, चाहे दोनों किसी भी साल में रिटायर हुए हों. अगर ये योजना लागू होती है तो करीब 25 लाख फौजियों या उनके परिवारों को लाभ होगा. इसके लिए हर साल सरकार को करीब 9 हज़ार करोण रुपये का अतिरिक्त भार सहना होगा.

 

पेचीदा है वन रैंक वन पेंशन- पीएम

पीएम ने ‘मन की बात’ में कहा, ”मैं जितना मानता था उतना सरल विषय नहीं हैं, पेचीदा है, और चालीस साल से उसमें समस्याओं को जोड़ा गया है. मैंने इसको सरल बनाने की दिशा में, सर्वस्वीकृत बनाने की दिशा में, सरकार में बैठे हुए सबको रास्ते खोज़ने पर लगाया हुआ है. पल-पल की ख़बरें मीडिया में देना ज़रूरी नहीं होता है. इसकी कोई रनिंग कमेंट्री नहीं होती है. मैं आपको विश्वास दिलाता हूँ यही सरकार, मैं फिर से कहता हूं – यही सरकार आपका वन-रैंक, वन-पेंशन का मसला, सोल्यूशन लाकर के रहेगी – और जिस विचारधारा में पलकर हम आए हैं , जिन आदर्शो को लेकर हम आगे बढ़ें हैं, उसमें आपके जीवन का महत्व बहुत है.”

 

पीएम ने जवानों से कहा, ”मेरे लिए आपके जीवन के साथ जुड़ना आपकी चिंता करना ये सिर्फ़ न कोई सरकारी कार्यक्रम है, न ही कोई राजनितिक कार्यक्रम है, मेरे राष्ट्रभक्ति का ही प्रकटीकरण है. मैं फिर एक बार मेरे देश के सभी सेना के जवानों को आग्रह करूंगा कि राजनैतिक रोटी सेंकने वाले लोग चालीस साल तक आपके साथ खेल खेलते रहे हैं.  मुझे वो मार्ग मंज़ूर नहीं है, और न ही मैं कोई ऐसे क़दम उठाना चाहता हूँ, जो समस्याओं को जटिल बना दे. आप मुझ पर भरोसा रखिये, बाक़ी जिनको बातें उछालनी होंगी, विवाद करने होंगे, अपनी राजनीति करनी होगी, उनको मुबारक. मुझे देश के लिए जीने मरने वालों के लिए जो कर सकता हूँ  करना है – ये ही मेरे इरादे हैं, और मुझे विश्वास है कि मेरे मन की बात जिसमें सिवाय सच्चाई के कुछ नहीं है, आपके दिलों तक पहुंचेगी. चालीस साल तक आपने धैर्य रखा है – मुझे कुछ समय दीजिये, काम करने का अवसर दीजिये, और हम मिल बैठकर के समस्याओं का समाधान करेंगे. ये मैं फिर से एक बार देशवासियों को विश्वास देता हूँ.”

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Ex-servicemen demanding One Rank One Pension forcibly evicted from Jantar Mantar
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

अमेरिका ने हिजबुल मुजाहिदीन को विदेशी आतंकी संगठन घोषित किया
अमेरिका ने हिजबुल मुजाहिदीन को विदेशी आतंकी संगठन घोषित किया

वाशिंगटन: आतंकी सैयद सलाहुद्दीन को इंटरनेशनल आतंकी घोषित करने के करीब दो महीने बाद आज अमेरिका...

RBI ने नहीं पूरी की नोटों की गिनती तो पीएम ने कैसे किया 3 लाख करोड़ वापस आने का दावा: कांग्रेस
RBI ने नहीं पूरी की नोटों की गिनती तो पीएम ने कैसे किया 3 लाख करोड़ वापस आने का...

नई दिल्ली: कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के स्वाधीनता दिवस के अवसर पर राष्ट्र के नाम...

'सोनू' के तर्ज पर कपिल मिश्रा का 'पोल खोल' वीडियो, गाया- AK तुझे खुद पर भरोसा नहीं क्या...?
'सोनू' के तर्ज पर कपिल मिश्रा का 'पोल खोल' वीडियो, गाया- AK तुझे खुद पर भरोसा नहीं...

नई दिल्ली : दिल्ली सरकार में मंत्री पद से बर्खास्त किए गए कपिल मिश्रा ने सीएम अरविंद केजरीवाल...

एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें
एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें

1. रिश्तों में टकराव के लिए चीन ने पीएम नरेंद्र मोदी को जिम्मेदार ठहराया है. http://bit.ly/2vINHh4  मंगलवार को...

 'ब्लू व्हेल' गेम पर सरकार सख्त, रविशंकर प्रसाद ने कहा- इसे स्वीकार नहीं किया जा सकता
'ब्लू व्हेल' गेम पर सरकार सख्त, रविशंकर प्रसाद ने कहा- इसे स्वीकार नहीं किया...

नई दिल्ली: जानलेवा ‘ब्लू व्हेल’ गेम को लेकर केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बुधवार को...

विपक्षी दलों के साथ शरद यादव कल करेंगे 'शक्ति प्रदर्शन'!
विपक्षी दलों के साथ शरद यादव कल करेंगे 'शक्ति प्रदर्शन'!

नई दिल्ली: जेडीयू के बागी नेता शरद यादव कल यानि गुरुवार को अपनी ताकत के प्रदर्शन के लिए सम्मेलन...

भगाए जाने के बाद बोला चीन, लद्दाख में टकराव की कोई जानकारी नहीं
भगाए जाने के बाद बोला चीन, लद्दाख में टकराव की कोई जानकारी नहीं

बीजिंग: चीन ने जम्मू-कश्मीर के लद्दाख में मंगलवार को दो बार भारतीय इलाके में घुसपैठ की कोशिश...

योगी राज में किसानों के 'अच्छे दिन'
योगी राज में किसानों के 'अच्छे दिन'

नई दिल्लीः यूपी के किसानों के लिए खुशखबरी का इंतजार खत्म हो गया है. कल सीएम योगी आदित्यनाथ 7 हज़ार...

दिल्ली में तेज रफ्तार ने ली 24 साल के हिमांशु बंसल की जान
दिल्ली में तेज रफ्तार ने ली 24 साल के हिमांशु बंसल की जान

नई दिल्ली: दिल्ली के कनॉट प्लेस इलाके में तेज रफ़्तार स्पोर्ट्स बाईक से एक्सिडेंट का बड़ा मामला...

कर्नाटक में राहुल ने लॉन्च की इंदिरा कैंटीन, ₹10 में खाना और ₹5 में नाश्ता
कर्नाटक में राहुल ने लॉन्च की इंदिरा कैंटीन, ₹10 में खाना और ₹5 में नाश्ता

बेंगलुरू: कर्नाटक में अगले साल विधानसभा के चुनाव होने हैं और इसकी तैयारी अब से शुरू हो गई है. इसी...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017