भारत तक पहुंची फेसबुक डेटा लीक की आंच, 5.62 लाख यूजर्स के प्रभावित होने की आशंका | Facebook says 5.62 lakh users potentially affected by data leak in India

भारत तक पहुंची फेसबुक डेटा लीक की आंच, 5.62 लाख यूजर्स के प्रभावित होने की आशंका

फेसबुक ने कहा है कि भारत में इस साल होने वाले चुनाव उसके लिए बहुत महत्वपूर्ण है और वह अपनी सुरक्षा को चाकचौबंद करने पर काम कर रही है. फेसबुक ने गुरूवार को कहा कि कैंब्रिज एना​​लिटिका से जुड़े डेटा लीक प्रकरण से भारत में 5.62 लाख लोगों के संभावित प्रभावित होने की आशंका है.

By: | Updated: 05 Apr 2018 10:18 PM
Facebook says 5.62 lakh users potentially affected by data leak in India

नई दिल्ली: जैसी की आशंका थी फेसबुक के डेटा लीक घोटाले की आंच भारत तक पहुंच गई है जहां करोड़ों लोग इस सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करते हैं. भारत में फेसबुक से जुड़े साढ़े पांच लाख से अधिक यूजर्स से जुड़ी जानकारी लीक होने की आशंका है. हालांकि सीधे तौर पर प्रभावित यूजर्स की संख्या काफी कम है.


इस बीच फेसबुक ने कहा है कि भारत में इस साल होने वाले चुनाव उसके लिए बहुत महत्वपूर्ण है और वह अपनी सुरक्षा को चाकचौबंद करने पर काम कर रही है. फेसबुक ने गुरूवार को कहा कि कैंब्रिज एना​​लिटिका से जुड़े डेटा लीक प्रकरण से भारत में 5.62 लाख लोगों के संभावित प्रभावित होने की आशंका है.


कंपनी के प्रवक्ता ने कहा कि इस मामले में भारत में 335 लोग एप इंस्टॉल करने के कारण सीधे तौर पर प्रभावित हुए हैं. इन 335 लोगों के दोस्तों के रूप में 5,62,120 दूसरे लोगों के प्रभावित होने की आशंका है. फेसबुक के प्रवक्ता ने कहा, ‘ इस तरह से भारत में कुल मिलाकर 5,62,455 संभावित प्रभावित यूजर्स हैं जो कि वैश्विक स्तर पर संभावित प्रभावितों का 0.6 प्रतिशत है.’


कंपनी का कहना है कि वह जांच कर रही है कि किन यूजर्स से जुड़ी जानकारी लीक हुई. देश में फेसबुक के 20 करोड़ से अधिक यूजर्स हैं. भारत सरकार ने पिछले महीने डेटा लीक के इस मुद्दे में फेसबुक और कैंब्रिज एनालिटिका को नोटिस जारी किया था. डेटा विश्लेषण करने वाली फर्म कैंब्रिज एनालिटिका पर आरोप है कि उसने फेसबुक के करोड़ों यूजर्स की व्यक्तिगत जानकारी हासिल की और इसका अवैध रूप से इस्तेमाल कई देशों में चुनावों को प्रभावित करने के लिए किया.


फेसबुक ने बुधवार को स्वीकार किया था कि लगभग 8.7 करोड़ लोगों से जुड़ी जानकारी कैंब्रिज एनालिटिका के साथ अनुचित तरीके से साझी की गई. इनमें से ज्यादातर लोग अमेरिका के हैं. फेसबुक से जुड़े यूजर्स की जानकारी तीसरे पक्षों को लीक किए जाने के इस घोटाले से हाल ही मेंसोशल मीडिया कंपनी की खूब किरकिरी हुई है. कंपनी को सार्वजनिक रूप से माफी मांगनी पड़ी है. भारत में आईटी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने ​भी पिछले महीने फेसबुक को कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी थी.


गौरतलब है कि फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने कल स्वीकार किया कि 8.7 करोड़ यूजर्स की जानकारी अनुचित रूप से कैंब्रिज एनालिटिका के साथ साझा की गई. जुकरबर्ग ने इस बड़ी गलती माना. अब तक यह माना जा रहा था कि पांच करोड़ फेसबुक यूजर्स से जुड़ी जानकारी लीक हुई है. इसके साथ ही कंपनी ने कहा है कि इस साल भारत सहित कई देशों में होने वाले चुनाव उसके लिए बहुत महत्वपूर्ण है और वह भ्रामक सूचनाओं पर लगाम लगाने के लिए कमर कस रही है.


जुकरबर्ग ने कल कहा, ‘ अमेरिका में अलबामा में पिछले साल हुए विशेष चुनाव में हमने मनमर्जी की सूचना फैलाने वाले ट्रोल को पकड़ने के लिए कुछ नये कृत्रिम मेधा (एआई) टूल सफलतापूर्वक लागू किए. इस समय हमारे 15,000 लोग सुरक्षा और सामग्री समीक्षा पर काम क रहे हैं और यह संख्या इस साल के आखिर तक 20,000 से अधिक होगी.’


जुकरबर्ग ने कहा, ‘ अमेरिका के साथ साथ भारत, ब्राजील, पाकिस्तान और हंगरी सहित अनेक देशों में होने वाले चुनावों के मद्देनजर हमारे लिए यह साल महत्वपूर्ण है. हमारे लिए यह काफी महत्वपूर्ण होगा.’ मालूम हो कि भारत में इस साल कर्नाटक, मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ मेंविधानसभा चुनाव होने हैं. आम चुनाव भी अगले साल होने हैं.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Facebook says 5.62 lakh users potentially affected by data leak in India
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story 76 % लोगों ने कहा नाबालिग से रेप पर हो मौत की सजा: सर्वे