MP में अनाज की हो रही है बर्बादी, अशोक नगर, नरसिंहपुर, होशंगाबाद में बारिश के पानी में सड़ा हजारों टन गेहूं

By: | Last Updated: Monday, 13 April 2015 6:15 AM
farmers_check

नई दिल्ली: मध्य प्रदेश में अनाज की बर्बादी हो रही है. एमपी के अशोक नगर में अनाज मंडी का शेड आंधी-तूफान में ध्वस्त हो गया.  मंडी के मैनेजरों की लापरवाही के कारण 7 हजार क्विंटल गेहूं बारिश में भीग गया. सरकार ने गेहूं को सुरक्षित रखने को कहा था लेकिन मंडी के मैनेजर ने कुछ नहीं किया.

 

अब कह रहे हैं कि जो हुआ वो तो प्राकृतिक आपदा थी. नरसिंहपुर में भी प्रशासन की लापरवाही के कारण किसानों से खरीदा गया गेहूं खराब हो गया. ऐसा लग रहा है कि गेहूं किसी तालाब में रख दिया गया है.

 

गोटेगांव में किसानों से गेहूं खरीद लिया गया लेकिन रखने का कोई इंतजाम नहीं हुआ. खुले में रखा गेहूं पहले तो भीग गया, फिर डूब गया. होशंगाबाद जिले का किसान इस वर्ष गेहूँ फसल मे पूरी तरह बर्बाद हो गया है. कल रात हुई बारिश से खुले आसमान के नीचे रखा हजारों टन गेहूँ भींग गया है.

 

नरसिहंपुर में क्या है स्थिति?

नरसिंहपुर में भी प्रशासन की लापरवाही के कारण किसानों से खरीदा गया गेहूं खराब हो गया. देखिए ऐसा लग रहा है कि गेहूं किसी तालाब में रख दिया गया है. गोटेगांव में किसानों से गेहूं खरीद लिया गया लेकिन रखने का कोई इंतजाम नहीं हुआ. खुले में रखा गेहूं पहले तो भीग गया, फिर डूब गया.

मध्य प्रदेश: बारिश के पानी में सड़ा हजारों टन अनाज 

फिर प्रशासन की लापरवाही सामने हे किसानों से खरदा गेंहू खुले रख दिया जंहा पर कई टन गेंहू के ख़राब होने आसार दिखाई दे रहे मौसम के बदलने से  लगातार बारिस हो रही गोटेगांव की मंडी का हल तो ये हे मनो मंडी में नहीं किसा तालाब में गेंहू रख दिया गया हो.    

                 

गोटेगांव में गेहू खरीदी केंद्र के हालात ये हे जंहा पर गेंहू रखने के लिये जगह तक नहीं और किसानों का गेंहू खुले आसमान के निचे पड़ा जंहा आज हुई बारिस ने प्रसासन की दावो की पोल खोल कर रख दी बारिस के पानी से हालात ऐसे बन गए मनो मंडी न हो कोई तालाब हो जंहा पर गेंहु रखा हो कई टन गेंहू बारिस से गिला हो गया बही प्रसासन ठोस कद उठाने की बात कर रहा हे.  

 

क्या है होशंगाबाद में स्थिति?

होशंगाबाद जिले की मुख्य फसल गेहूँ है जिस पर जिले का साल भर का व्यापार निर्भर करता है ओर किसान भी पूरी तरह गेहूँ फसल पर ही निर्भर रहता है, पर पहले से ही कर्ज मे डूबे जिले के किसानो पर आफत आन पडी है. फसल के दौरान बार बार बारिश ने गेहूँ फसल को 50 फीसदी नुकसान पहले से ही पहुचाया था पर अब पूरे जिले भर मे गेहूँ फसल कट कर किसान के खलों ओर मंडियों मे पडी हुई है. कलबेमौसम हुई जोरदार बारिश की बजह से जिले भर मे हजारों टन गेहूँ पूरी तरह भींग गया है जिससे करोडो का नुकसान एक रात मे ही हो गया.  बारीश से किसानो ओर मंडी प्रबंधन दोनो को ही नुकसान है. गेंहू इतनी बडी तादात मे खुले आसमान के नीचे पड़ा हुआ है कि फिल्हाल उसे रखने की उचित व्यवस्था नही है ओर मौसम बारिश का लगातार बना हुआ है.

 

अशोक नगर का हाल

मध्य प्रदेश के कई जिलो में आज बारिश ने कहर ठाया अशोक नगर मे तेज आंधी और बारिश से अनाज मंडी में 50 फिट लम्बा टिन सेट धरासाई हो गया जिसमे ट्रैक्टर और कई गाड़ियां दब गईं.

गनीमत रही रविवार होने से मंडी बंद थी जिससे एक बड़ा हादशा टल गया, तो वही शासकीय गेंहू खरीदी केन्द्रो पर समिति प्रबंधको की लापरवाही के चलते हजारो कुंटल गेहू बारिश में भीग गया.

 

अशोक नगर के रिजोदा खरीदी केंद्र का है जहा करीब 7 हजार कुन्टल गेंहू बारिश की भेट चढ़ गया समिति प्रबंधो को सरकार की तरफ से निर्देश थे कि गेंहू रखने की सुरक्षित व्यवस्था होनी चाहिये साथ ही तुलाई इलेक्ट्रॉनिक कांटों से होने के साथ किसानों को छाँव के लिये टेंट और पीने के पानी की व्यवस्था भी होनी चाहिये पर प्रदेश सरकार के किसी भी नियम को समिति प्रबंधक पूरा नहीं कर रहे हैं तो वही जिला खाद्य अधिकारी इसे प्राकृतिक आपदा बता कर अपना पल्ला झड़ते नजर आये.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: farmers_check
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ??? ???? ???? ?????? ????? cops farmers
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017