कुमार विश्वास के खिलाफ दर्ज होगा छेड़छाड़ का केस

File FIR Against Kumar Vishwas For Alleged Molestation, Says Court

नई दिल्ली: आप नेता कुमार विश्वास के खिलाफ महिला उत्पीड़न का मामला दर्ज होगा. विश्वास पर एक पूर्व आप कार्यकर्ता के साथ कथित रूप से छेड़खानी के आरोप लगाते हुए अदालत में शिकायत दी थी और मामला दर्ज़ करने की मांग की थी. उसी अर्ज़ी पर सुनवाई करते हुए अदालत ने पुलिस को निर्देश दिया है कि वो विश्वास के खिलाफ मामला दर्ज़ करें और गिरफ्तारी तब ही करे जब केस की ज़रूरत हो.

एक महिला शिकायतकर्ता ने अदालत में दायर अपनी शिकायत में अदालत से मांग की थी कि वह उनके आरोपों पर संज्ञान लेते हुए पुलिस को निर्देश दे कि आप नेता कुमार विश्वास के खिलाफ उत्पीड़न और शोषण का मामला दर्ज़ करे. महिला ने अपनी शिकायत में विश्वास पर उनसे कई बार छेड़छाड़ करने का आरोप लगाते हुए उनके इस बर्ताव से डरे होने की बात कही थी.

अदालत में आने से पहले महिला ने दिल्ली महिला आयोग में अर्ज़ी लगाकर कुमार विश्वास से इस मामले पर उन ख़बरों का खंडन करने की मांग की थी जिनमे विश्वास और शिकायतकर्ता महिला के बीच नजदीकी संबंधों की बात की जा रही थी, लेकिन उस दौरान विश्वास ने कुछ भी कहने से इनकार कर दिया था. महिला ने इसके बाद अदालत में शिकायत दर्ज़ करवाई.

महिला के आरोपों के मुताबिक, फरवरी-2014 में केजरीवाल के सीएम पद से इस्तीफा देने से प्रभावित होकर वह आप में शामिल हुईं. संसदीय चुनावों के दौरान उन्होंने शाजिया इल्मी के लिए प्रचार में हिस्सा भी लिया. कुमार विश्वास से पहली बार वो 8 अप्रैल, 2014 को उनके घर पर मिलीं. वहां उनके साथ साथ पार्टी के कई कार्यकर्ता गए थे. महिला ने आरोप लगाया कि विश्वास ने वहां उनके साथ छेड़खानी की.

शिकायत के मुताबिक, इसके बाद वह अपनी दोस्त के साथ विश्वास के चुनाव प्रचार के लिए अमेठी भी गईं. जहाँ विश्वास के घर पर ही ठहरीं, उस दौरान भी कुमार विश्वास पर बदसलूकी का आरोप लगाया गया था शिकायकर्ता महिला ने शिकायत में विश्वास पर अमेठी के बाद भी छेड़खानी करने का आरोप लगाया था. शिकायत में कहा गया था की 10 फरवरी, 2015 और 4 मार्च 2015 को भी कुमार विश्वास ने उनके दिल्ली में भी छेड़खानी की.

जब कहीं और से इन्साफ नहीं मिला तो अदालत में अर्ज़ी दायर की. अदालत ने अर्ज़ी पर सुनवाई करते हुए इस मामले में दिल्ली पुलिस के सरोजनी नगर थाने से एक्शन टेकेन रिपोर्ट मांगी. पुलिस ने अपनी रिपोर्ट में कहा की कुमार विश्वास के खिलाफ छेड़खानी का कोई मामला नहीं बनता क्योंकि उनके क्षेत्राधिकार में ऐसी किसी घटना के तथ्य सामने नहीं आये हैं. लेकिन अदालत ने अपने आदेश में पुलिस की इस रिपोर्ट को नहीं माना है.

अदालत के इस आदेश से कुमार विश्वास की मुश्किलें बढ़ गयीं हैं क्योंकि पुलिस के पास अब इस मामले में कुमार विश्वास को गिरफ्तार करने का तक अधिकार है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: File FIR Against Kumar Vishwas For Alleged Molestation, Says Court
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: aam adami party dr kumar vishwas
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017