दिल्ली-एनसीआर के बाद अब महाराष्ट्र के रिहायशी इलाकों में भी पटाखे बेचने पर बैन

दिल्ली-एनसीआर के बाद अब महाराष्ट्र के रिहायशी इलाकों में भी पटाखे बेचने पर बैन

बता दें कि कल सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली सहित पूरे एनसीआर में पटाखों पर रोक लगा दी थी. ये रोक प्रदूषण के कारण लगी है. महाराष्ट्र में पटाखों पर बैन के बाद राज ठाकरे ने पूछा है कि सिर्फ हिंदू त्याहोरों पर ही बैन क्यों?

By: | Updated: 10 Oct 2017 07:47 PM

मुंबई: दिल्ली-एनसीआर के बाद अब महाराष्ट्र के रिहायशी इलाकों में भी पटाखे बेचने पर बैन लगा दिया गया है. बॉंम्बे हाईकोर्ट ने आदेश दिया है कि रिहाइशी इलाकों में पटाखे न बेचे जाएं. कोर्ट ने प्रशासन से कहा है कि पटाखों की बिक्री के लिए नए लाइसेसं जारी नहीं किए जाएं. पटाखों पर बैन के बाद राज ठाकरे ने पूछा है कि सिर्फ हिंदू त्याहोरों पर ही बैन क्यों?


MP के गृहमंत्री बोले- ‘दिल्ली में राम राज्य नहीं, मध्य प्रदेश आकर दिवाली मनाएं’


बॉम्बे हाईकोर्ट ने मुंबई समेत राज्य के रिहायशी इलाकों में गैरकानूनी तरीके से पटाखों की बिक्री पर रोक लगा दी है. दिवाली के मौके पर पटाखों की बिक्री का तत्कालिक लाइसेंस जारी करवाने के लिए मलाड फायरवर्क्स वेलफेयर एसोसिएशन और ज्वेल सेल्स एजेंसी  दादर की तरफ से हाई कोर्ट में याचिका दायर की गई थी. हाईकोर्ट ने इस याचिका को खारीज करते हुए रिहायशी इलाकों में पटाखों की बिक्री पर लगी पाबंदी को कायम रखा है.


बॉम्बे हाईकोर्ट ने सुरक्षा के मुद्दे को ध्यान में रखते हुए ये रोक लगाई है. कोर्ट ने प्रशासन से कहा है कि पटाखों की बिक्री के लिए नए लाइसेसं जारी नहीं किए जाएं. इतना ही नहीं कोर्ट ने कहा है कि पहले से मौजूद लाइसेंस की संख्या भी आधी की जाए. नासिक के रहने वाले चंद्रकांत लासुरे नाम के शख्स वने बॉम्बे हाईकोर्ट में गैरकानूनी तरीके से हो रही पटाखों की बिक्री पर रोक लगाने के लिए बॉम्बे हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर की थी.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story गुजरात चुनाव में पीएम मोदी ने इस्तेमाल किए ये 'तुरुप के पत्ते'