युद्धभ्यास 'फोर्स-18' का आगाज, महिला अधिकारी नें संभाली कमान

Force 18 Multi-nation Military Drill Started

नई दिल्ली : देश की धरती पर सबसे बड़ी (और पहली) मल्टीनेशनल मिलेट्री एक्सरसाइज, फोर्स-18 का पुणें में आगाज हुआ. भारत सहित एशियान-प्लस समूह के 18 देश इस साझा युद्धभ्यास में हिस्सा ले रहे हैं. खास बात ये है कि पहली बार भारतीय सेना की एक महिला अधिकारी इस युद्धभ्यास में देश का नेतृत्व कर रही है.

militry

युद्ध के गुरों के साथ दोस्ती का सबक :

8 फरवरी तक चलने वाली इस युद्धभ्यास में अमेरिका, चीन, जापान, दक्षिण कोरिया और वियतनाम जैसे प्रमुख देश हिस्सा ले रहे हैं. खास बात ये है कि इस एक्सरसाइज में कुछ देश एक दूसरे के दुश्मन भी रह चुके हैं. बावजूद इसके ये सभी देश फोर्स-18 युद्धभ्यास में हिस्सा लेने के लिए तैयार हो गए.

भारत का कभी दुश्मन रहा चीन इसमें हिस्सा ले रहा है तो चीन का विरोधी वियतनाम भी इस युद्धभ्यास में हिस्सा ले रहा है. इसी तरह से कभी वियतनाम के खिलाफ युद्ध छेड़ने वाला अमेरिका भी भारत की अबतक की सबसे बड़ी जमीनी युद्धभ्यास में हिस्सा ले रहा है.

सेना के प्रवक्ता के मुताबिक, इस युद्धभ्यास का मुख्य उद्देश्य संयुक्त-राष्ट्र के तत्वाधान में चलने वाले पीसकीपिंग-ऑपरेशन और एंटी-माईन्स ऑपरेशन में आपसी समंजस्य बनाए रखना है. साथ ही इस तरह के युद्धभ्यास से भाग लेने वाले देशों की सेनाओं में आपसी सहयोग बढ़ता है.

militry2

पहली महिला अधिकारी कर रही देश का नेतृत्व :

फोर्स-18 युद्धभ्यास में भारतीय सेना की टुकड़ी का नेतृत्व एक महिला अधिकारी कर रही है. सेना की सिग्नल कोर की लेफ्टिनेंट कर्नल सोफिया कुरेशी पहली ऐसी महिला बन गई हैं जो भारत का किसी मल्टीनेशनल युद्धभ्यास में नेतृत्व कर रही है.

यह भी हो रहा है पहली बार :

भारत में इस तरह की मल्टीनेशनल फील्ड ट्रैनिंग एक्सरसाइज पहली बार हो रही है. अभी तक भारतीय सेना अमेरिका, रशिया, चीन इत्यादि देशों के साथ द्विपक्षीय युद्धभ्यास करती आई है. पहली बार इतने सारे देश एक साथ साझा युद्धभ्यास के लिए भारत में इकठ्ठा हुए हैं. हालांकि, हाल ही में विशाखापट्टनम के करीब बंगाल की खाड़ी में भारतीय नौसेना ने 50 देशों की सेनाओं के साथ इंटरनेशनल फ्लीट-रिव्यू (आईएफआर) का आयोजन किया था.

militry3

लेकिन जमीनी युद्धभ्यास पहली बार हो रही है.

जानकारों की मानें तो इस तरह के युद्धभ्यास देश की ‘मिलेट्री-डिप्लोमेसी’ का हिस्सा है. सेना ने एक्सरसाइज का प्रचार करने के लिए एक अलग फेसबुक पेज भी तैयार किया है. युद्धभ्यास के पहले दिन सभी देशों की सेनाओं की टुकड़ियों ने सेरेमोनियल मार्च-पास्ट में हिस्सा लिया. इसके बाद क्ले-मॉडल पर ट्रेनिंग होगी और उसकी बाद एक्चुयल फील्ड एक्सरसाइज होगी.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Force 18 Multi-nation Military Drill Started
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017