Foreign funding of NGOs have been reduced to one-third।गैर-सरकारी संगठनों को विदेशी चंदे में लगभग एक तिहाई की कमी- केंद्र सरकार

गैर-सरकारी संगठनों को विदेशी चंदे में लगभग एक तिहाई की कमी- केंद्र सरकार

साल 2016-17 में एनजीओ को मिलने वाली राशि 6,499 करोड़ रुपये रही जो कि साल 2015-16 में 17,773 करोड़ रुपये रही थी

By: | Updated: 22 Dec 2017 09:53 AM
Foreign funding of NGOs have been reduced to one-third

नई दिल्ली: गैर-सरकारी संगठनों (एनजीओ) के विदेशी चंदे में भारी कमी आई है. साल 2016-17 में एनजीओ को मिलने वाली राशि 6,499 करोड़ रुपये रही जो कि साल 2015-16 में 17,773 करोड़ रुपये रही थी. इस तरह से एनजीओ को मिलने वाले विदेशी चंदे में लगभग एक तिहाई की कमी आई है. यह जानकारी सरकार ने राज्यसभा में पूछे गए एक सवाल पर दिया है.


गृह राज्यमंत्री किरण रिजिजू ने राज्य सभा को बताया कि विदेशी अनुदान (विनियमन) कानून का उल्लंघन करने पर वर्ष 2011 से 2017 के बीच गृह मंत्रालय ने 18,868 गैर सरकारी संगठनों (एनजीओ) का पंजीकरण खत्म किया है.


रिजिजू ने कहा कि भारत में एनजीओ को विदेशी चंदे के रूप में वर्ष 2014-15 में 15,299 करोड़ रुपये, वर्ष 2015-16 में 17,773 करोड़ रुपये और वर्ष 2016-17 में 6,499 करोड़ रुपये मिले हैं. इस समय विदेशी अनुदान (विनियमन) कानून के तहत 10,000 एनजीओ पंजीकृत हैं. मालूम हो कि 2014 से देश भर के कई सारे गैर-सरकारी संगठनों की फंडिग तथाकथित राष्ट्रविरोधी गतिविधियों में शामिल होने के आरोप में कैंसिल कर दी गई है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Foreign funding of NGOs have been reduced to one-third
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story जानिए- जैसे ही जोधपुर की अदालत ने दोषी करार दिया, हरिओम का जाप करने लगा आसाराम