LIVE: कलाम को दिल्ली में दी जा रही है श्रद्धांजलि, कल रामेश्वरम में होगा अंतिम संस्कार

By: | Last Updated: Tuesday, 28 July 2015 1:01 AM
Former President APJ Abdul Kalam passes away

नई दिल्ली: पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम नहीं रहे, सोमवार शाम आईआईएम शिलांग में एक कार्यक्रम में लेक्चर देते वक्त उन्हें दिल का दौरा पड़ा. उन्हें फौरी तौर पर शिलांग के बेथनी अस्पताल ले जाया गया लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका. कलाम को कल उनके पैतृक शहर रामेश्वरम में सुपुर्द-ए-खाक किया जाएगा.

 

लाइव अपडेटः

 

  • कलाम के पार्थिव शरीर को उनके सरकारी आवास 10 राजाजी मार्ग में रखा गया है, आम जनता दर्शन कर रही है

  • एपीजे एब्दुल कलाम के सरकारी आवास 10 राजाजी मार्ग पर लोग कर सकेंगे अंतिम दर्शन

  •  एयरपोर्ट पर पीएम ने राष्ट्रपति से कल के अंतिम संस्कार को लेकर की बात-चीत.

  • पालम एयरपोर्ट से एपीजे एब्दुल कलाम का पार्थिव शरीर उनके सरकारी आवास पर जाएगा.

  •  राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी पहुंचे पालम एयरपोर्ट,   अब्दुल कलाम  को दी पुष्पांजलि.

 

  • पीएम नरेंद्र मोदी दिल्ली के पालम एयरपोर्ट पहुंचे, अब्दुल कलाम  को समर्पित की पुष्पांजलि.

  • रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने दी अब्दुल कलाम को पुष्पांजलि.

  • दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल , लेफ्टिनेंट जनरल नजीब जंग ने दी अब्दुल कलाम को पुष्पांजलि.

  • सेना के जवान दे रहे हैं अब्दुल कलाम को श्रद्धांजलि.

  • यहां से सरकारी आवास ले जाया जाएगा.

  • पालम एयरपोर्ट पर पहुंचा एपीजे अब्दुल कलाम का पार्थिव शरीर.

  • डॉ. कलाम के योगदान को कभी नहीं भूला जा सकता , वह हमारी यादों में जिंदा रहेंगे.  कलाम लोगों के राष्ट्रपति थे और नौजवानों से उनका लगाव बताता था कि वह नए भारत के निर्माण में कितने अहम थे.- राहुल गांधी

 

  •  दिल्ली स्थित राजाजी मार्ग वाले घर पर दोपहर 3 बजे से जनता कर पाएगी अंतिम दर्शन

  • कलाम  को लेकर केंद्र सरकार का बड़ा ऐलान, राष्ट्रीय अविष्कार अभियान का नाम बदला. दोपहर 12.30 बजे उनका पार्थिव शरीर यानी जनाजा दिल्ली पहुंचेग.

  • गुवाहाटी से रवाना हुआ एयरफोर्स विमान

  • राजनाथ सिंह के साथ पीएम भी पार्थिव शरीर को लेने जाएंगे.

  • पीएम नहीं बल्कि राजनाथ सिंह  एरयपोर्ट पर कलाम का पार्थिव शरीर लेने जाएंगे- गृह मंत्रालय

  • कलाम का पार्थिव शरीर दिल्ली लाया जा रहा है. सूत्र बता रहे हैं कि पीएम एयरपोर्ट जा सकते हैं.

  • आज सुबह दस बजे कैबिनेट की बैठक में तय होगा कि कलाम का अंतिम संस्कार कब किया जाएगा. सरकार सात दिन के राषट्रीय शोक का एलान कर चुकी है

  • दिल्ली से उनके पार्थिव शऱीर को रामेश्वरम ले जाया जाएगा, रामेश्वरम में ही कलाम का जन्म हुआ था.

     

  • दिल्ली में 10 राजाजी मार्ग वाले घर पर उनका पार्थिव शरीर अंतिम दर्शन के लिए रखा जाएगा.
     

  • गुवाहाटी से पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल कलाम का पार्थिव शरीर विशेष विमान से दिल्ली लाया जा रहा है.

 

सात दिनों का राष्ट्रीय शोक- डॉ कलाम की मौत के बाद केंद्र सरकार की ओर से  सात दिन के राष्ट्रीय शोक की घोषणा की गई है…संसद के दोनों सदनों में पूर्व राष्ट्रपति को श्रद्धांजलि देने के बाद कार्यवाही को स्थगित कर दिया जाएगा .

 

पूरा देश सकते में

प्रधानमंत्री समेत तमाम नेता और उनके चाहने वाले उनके यहीं पर अंतिम दर्शन करेंगे और श्रद्धांजलि देंगे . इसके बाद पूर्व राष्ट्रपति के पार्थिव शरीर को उनके पैतृक निवास रामेश्वरम ले जाया जाएगा.

 

डॉक्टर कलाम पूरे देश के लिए प्रेरणा स्रोत रहे. राष्ट्रपति बनने से  पहले और राष्ट्रपति बनने के बाद भी वो अक्सर स्कूल, कॉलेज और इंजीनियरिंग संस्थानों के बच्चों को आगे बढ़ने की प्रेरणा देते थे, जिंदगी के आखिरी दिन जब मौत ने दस्तक दी तब भी कलाम शिलॉन्ग में IIM के छात्रों के बीच थे.

 

बीती रात की ये तस्वीरें शिलांग की हैं जब पूर्व राष्ट्रपति ए पी जे अद्बुल कलाम के पार्थिव शरीर को  मिलिट्री अस्पताल ले जाया जा रहा था तो आंखों में आंसू भरे पूरा शिलॉन्ग बेथनी अस्पताल के बाहर सांसें थामे खड़ा था और जैसे ही पार्थिव शरीर उनके सामने पहुंचा किसी की आंखों से आंसू बहने लगे तो कोई अपने इस अजीज के अमर रहने के नारे लगाने लगा.

पूर्व राष्ट्रपति के पार्थिव शरीर को रात में ही बेथनी अस्पताल से मिलिट्री हॉस्पिटल में शिफ्ट कर दिया गया. जहां रात भर उनके प्रशंसकों का जमावड़ा लगा रहा.

 

क्या हुआ था-

84 साल के कलाम शाम 6.30 बजे आईआईएम में लेक्चर देने के दौरान ही गिरकर बेहोश हो गए. शाम 7 बजे कलाम को बेथनी अस्पताल लाया गया. डॉक्टरों ने उन्हें आईसीयू में लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा. आर्मी हॉस्पिटल और नॉर्थ ईस्टर्न इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ एंड मेडिकल साइंसेज के डॉक्टर भी कलाम को बचाने के लिए बेथनी अस्पताल पहुंच गए. 45 मिनट तक डॉक्टरों ने बचाने की कोशिश की लेकिन कामयाब नहीं हो सके. शाम 7.45 बजे डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.

 

जैसे ही उनके 99 साल के बड़े भाई मुथु मीरा और परिवार के दूसरे लोगों को उनकी मृत्यु की खबर मिली…सब बिलख बिलख कर रो पड़े, पूरे रामेश्वरम में रात से ही गम का माहौल है …जो शायद कभी भर ना सकेगा.

 

कलाम ने अपने आखिरी ट्वीट में भी आईआईटी जाने की बात लिखी थी.  ट्विटर पर भी सक्रीय रहने वाले कलाम साहब ने जो आखिरी ट्वीट किया था उसमें उन्होंने लिखा था, ”आईआईएम शिलॉन्ग में लाइवेबल अर्थ की क्लास लेने शिलॉन्ग जा रहा हूं

 

इसके अलावा कलाम साबह ने ट्विटर पर जो आखिरी फोटो पोस्ट की थी उसमें वे अपने एक शिक्षक के साथ थे. इस फोटो के साथ कलाम साहब ने लिखा था, ”कुछ दिन पहले अपने टीचर फादर चिन्नादुरई से मिला था. उन्होंने मुझे 1952 में न्यूक्लियर फिजिक्स पढ़ाया था.”

 

पूर्व राष्ट्रपति कलाम का जन्म 15 अक्टूबर 1931 को दक्षिण भारतीय राज्य तमिलनाडु के रामेश्वरम में हुआ था. डॉ. एपेजी अब्दुल कलाम का सफर उपल्धियों से भरा था. बेहद साधारण परिवार में जन्मे पूर्व राष्ट्रपति कलाम को देश मिसाइल मैन के रूप में जानती है. वैज्ञानिक डॉक्टर कलाम की दिन-रात की मेहनत का ही नतीजा था कि दुनिया में मिसाइल के क्षेत्र में भारत का डंका बजने लगा. भारत में मिसाइल कार्यक्रम इन्हीं की देखरेख में आगे बढ़ा.

 

डॉ. कलाम के जीवन में महत्वपूर्ण मोड़ तब आया जब वे 1962 में ‘भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन’ यानि इसरो से जुड़े. इसके बाद उन्होंने मिसाइल के विकास के लिए कई बड़े काम किए.

 

पृथ्वी, अग्नि जैसी मिसाइलों की कामयाबी के पीछे कलाम की ही हाथ था. डॉ. कलाम की अगुवाई में ही भारत ने पहला स्वदेशी उपग्रह प्रक्षेपण यान SLV-3 बनाकर अंतरिक्ष विज्ञान के क्षेत्र में अपना परचम लहराया था.

 

डॉ. कलाम ने ‘विंग्स ऑफ़ फायर’, ‘इण्डिया 2020- ए विज़न फ़ॉर द न्यू मिलेनियम’, ‘माई जर्नी’, और ‘इग्नाईटिड माइंड्स जैसी किताबें भी लिखी हैं. इसमें उन्होंने अपने अनुभव बांटे हैं.

 

मिसाइल विज्ञान के क्षेत्र में योगदान को देखते हुए उन्हें 1997 में भारत रत्न सम्मान से नवाजा गया.

 

यह भी पढ़ें-

यहां देखिए पोकरण परीक्षण में कलाम की क्या थी भूमिका?

 देश याद रखेगा ‘मिसाइलमैन’ की ये बड़ी बातें

 बीजेपी के राज में कलाम बने राष्ट्रपति, कार्यकाल की कुछ खास बातें

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Former President APJ Abdul Kalam passes away
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017