FTII विवाद: सूचना-प्रसारण मंत्रालय की टीम पुणे पहुंची, मुद्दे के हल की उम्मीद में छात्र

By: | Last Updated: Friday, 21 August 2015 3:25 AM

पुणे: सूचना और प्रसारण मंत्रालय की तीन सदस्यीय टीम आज रात यहां पहुंची जिससे भारतीय फिल्म और टेलीविजन संस्थान (एफटीआईआई) में समाधान की उम्मीद जगी है. संस्थान के छात्र पिछले 71 दिनों से टीवी अभिनेता और भाजपा सदस्य गजेन्द्र चौहान को अध्यक्ष पद से हटाने की मांग को लेकर हड़ताल कर रहे हैं.

 

परिसर में मंगलवार की रात पुलिसिया कार्रवाई और पांच छात्रों को हिरासत में लेने के परिप्रेक्ष्य में प्रतिनिधिमंडल के प्रमुख एस. एम. खान ने यहां कहा, ‘‘मंत्रालय ने समिति का गठन किया है ताकि मुद्दे का यथाशीघ्र समाधान हो सके. हम खुले दिमाग से आए हैं.’’ समिति के सदस्य शिक्षकों, गैर शैक्षणिक कर्मचारियों, छात्रों और निदेशक से कल बातचीत करेंगे.

 

खान ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘हम जहां तक संभव हो सकेगा छात्रों को शांत कराने का प्रयास करेंगे. गिरफ्तारियों पर मैं टिप्पणी नहीं कर सकता.’’ उन्होंने कहा कि उन्हें ‘‘समाधान निकलने की उम्मीद है.’’ यह पूछने पर कि क्या पाथराबे ने मंत्रालय के निर्देश पर पुलिस में शिकायत दर्ज कराई जिससे छात्रों की गिरफ्तारी हुई तो उन्होंने कहा कि निदेशक प्रशांत पाथराबे किसी दबाव में नहीं थे.

 

एफटीआईआई छात्र संगठन ने आज पाथराबे के दावे से इंकार किया कि सोमवार की शाम को उनके कार्यालय के घेराव के दौरान उनका ‘‘उत्पीड़न’’ किया गया.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: FTII : Information and telecom ministry team reach pune
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: FTII pune special team
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017