महिषासुर पर महासंग्राम: हर उस सवाल का जवाब जो आपके मन में है

By: | Last Updated: Friday, 26 February 2016 11:40 AM
full information on mahishasura

नई दिल्ली: कल राज्यसभा में भी स्मृति ईरानी ने फिर दुर्गा के अपमान और महिषासुर दिवस का मुद्दा उठाया और राहुल गांधी पर जोरदार हमला बोला. स्मृति के बयान देते ही कांग्रेस ने हंगामा शुरू कर दिया. अब कांग्रेस संसद ठप करने की धमकी दे रही है.

स्मृति ईरानी ने कहा कि सबूत के लिए मैंने पर्चा पढ़ा. वह भाषा सरकार की नहीं थी. राज्यसभा में मोदी सरकार की मंत्री स्मृति ईरानी ने देवी दुर्गा के अपमान और महिषासुर दिवस को लेकर फिर राहुल गांधी पर हमला बोला. जिस पर एतराज जताते हुए कांग्रेस समेत विपक्ष ने जोरदार हंगामा किया.

जेएनयू कांड को सामने रखते हुए स्मृति ने महिषासुर दिवस के आयोजन के एक पर्चे को विस्तार से पढ़ना शुरू किया ही था कि कांग्रेस के आनंद शर्मा भड़क गए. उन्होंने इसका कड़ा विरोध किया. इसके बाद कांग्रेस के कई सदस्य वेल के एकदम पास आ गए और जमकर नारेबाजी शुरू कर दी.

कांग्रेस समेत विपक्ष के इस जोरदार हंगामे की वजह से स्मृति अपने बयान को पूरा नहीं कर सकीं और सदन की कार्यवाही को स्थगित करना पड़ा.

विपक्ष के इस हंगामे पर संसदीय कार्य मंत्री वेंकैया नायडू ने कहा कि स्मृति का जवाब अधूरा रह गया जो कि ठीक नहीं है. लिहाजा स्मृति आज महिषासुर मुद्दे पर सदन में अपने अधूरे बयान को पूरा करेंगी.

लेकिन कांग्रेस ने भी एलान कर दिया कि इस मुद्दे पर वो आज संसद नहीं चलने देंगे. स्मृति से माफी की मांग की गई है.

आपको बता दें कि जिस महिषासुर को लेकर संसद में हंगामा मचा है और आज कांग्रेस ने संसद ठप करने की धमकी दी है. उसको लेकर एक बड़ा खुलासा हुआ है. जेएनयू में महिषासुर शहादत दिवस मनाने वालों को राहुल गांधी के समर्थन पर स्मृति ईरानी ने सवाल उठाए थे उसी महिषासुर शहादत दिवस के एक कार्यक्रम में बीजेपी के सांसद उदित राज भी शामिल हुए थे. उदित राज 2013 में महिषासुर पर हुए कार्यक्रम में पहुंचे थे.

ABP न्यूज से बातचीत में उदित राज ने माना है कि वो महिषासुर की शहादत के कार्यक्रम में गए थे. उदित राज ने आंबेडकर का हवाला देते हुए कहा कि वो भी मानते हैं कि महिषासुर दलितों का हीरो थे.

क्या है महिषासुर वाला विवाद ?

साल 2012 में जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी के कैंपस में वामपंथी छात्र संगठनों ने महिषासुर को भारत के आदिवासियों, दलितों और पिछड़ों का पूर्वज बताते हुए शरद पूर्णिमा को उसकी शहादत मनाने का कथित तौर पर एलान किया था.

इसके लिए कैंपस में जगह जगह पोस्टर भी लगाए गए थे. इस मामले ने तब खूब तूल पकड़ा था. अब केंद्रीय शिक्षा मंत्री स्मृति ने महिषासुर से जुड़े इस मुद्दे को फिर से सदन में उठाया है और ये मुद्दा एक बार फिर गर्माता दिख रहा है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: full information on mahishasura
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017